अचार खाने के फायदे और नुकसान जरूर पढ़े यह लेख।

अचार खाने के फायदे और नुकसान जरूर पढ़े यह लेख।

अचार भारतीय समाज का अहम् हिस्सा हैं। भारत में विभिन्न विभिन्न प्रकार के अचार बनाये जाते हैं और बड़े ही मज़े लेकर खाए जाते हैं। अचार कई तरह के हैं जैसे की आम का अचार, निम्बू का अचार, मिर्च का अचार, आंवले का अचार, गाजर का अचार, अदरक का अचार और न जाने कितने किस्म के अचार आपको भारत में मिल जायेंगे। अचार को भोजन के साथ खाने से भोजन का स्वाद और भी ज्यादा अच्छा हो जाता हैं। आचार में बहुत ज्यादा मसाले, नमक और तेल का इस्तेमाल किया जाता हैं।

अचार का इस्तेमाल भारत के अलावा दुसरे देशो में भी किया जाता हैं। अचार खाने से सेहत को फायदे तो होते ही हैं, इसके नुकसान को भी अनदेखा नहीं किया जा सकता हैं। अचार खाना एक तरफ फायदेमंद हैं तो इसका ज्यादा सेवन करना आपके लिए नुकसानदेह भी साबित होता हैं।

हमारे देश में जहाँ फलों और सब्जियों में तेल, मसाले और नमक मिला कर अचार बनाया जाता हैं तो दूसरी ओर चीन, जापान, कोरिया आदि देशो में सब्जियों के साथ अंडे, मसाले और सोया सॉस डाल कर अचार बनाया जाता हैं। जबकि पक्षमी देशो में सब्जियों और फलो को सिरके में डुबो कर अचार बनाया जाता हैं। यानी की एक बात सपष्ट हैं की दुनिया भर में अचार खाया और बनाया जाता हैं। आइये जानते हैं अचार खाने के फायदे और नुकसान के बारे में। Health Benefits & Side-Effects of Pickle in Hindi.

अचार खाने के फायदे

दिमाग के लिए लाभकारी

अचार पेट और स्किन के साथ-साथ दिमाग के लिए भी फायदेमंद होता हैं। आचार में प्रोबायोटिक बैक्टीरिया होते हैं जो दिमाग को फायदा पहुचाते हैं। यह बात रिसर्च से प्रमाणित हो चुकी हैं की केंद्रीय तंत्रिका प्रणाली और मष्तिक के बीच गहरा सम्बन्ध होता हैं। अगर आपका पेट सही रहेगा तो आपका दिमाग भी सही तरह से काम करता हैं।

पाचन क्रिया सुधारता हैं

अचार खाना पाचन क्रिया के लिए अच्छा माना जाता हैं। क्योंकि पेट में अच्छे और बुरे दोनों तरह के बैक्टीरिया होते हैं जब आप किसी एंटीबायोटिक दवा को खाते हैं तो पेट के अच्छे बैक्टीरिया भी नष्ट हो जाते हैं। इससे पाचन प्रणाली पर प्रभाव पड़ता हैं और भोजन आसानी से हजम नहीं हो पाता हैं। जबकि अचार में नमक होता हैं जो प्रोबायोटिक के विकास में मददगार होता हैं। इससे पाचन में सुधार होता हैं।

बच्चों के लिए फायदेमंद

बच्चों को खट्टा अचार खाना बहुत ही अच्छा लगता हैं। अचार बच्चों के लिए फायदेमंद होता हैं। अगर बच्चा अचार खाने की जिद्द करे तो उसे मना न करे, बल्कि उसे अचार खिलाये। क्योंकि अचार पुरे शरीर के लिए लाभकारी होता हैं। इससे बच्चे की प्रति-रक्षा प्रणाली मजबूत बनती हैं, जिससे बच्चे कई सारी बिमारियां होने से बचे रहते हैं। अचार खाने से बच्चो को सर्दी-जुकाम भी नहीं होता हैं। गर्भवती महिलाओं के लिए भी अचार फायदेमंद होता हैं।

फ्री रेडिकल्स सेल्स से बचाता हैं

अचार बनाने के लिए फलो और सब्जियों का इस्तेमाल किया जाता हैं। इसमें फलों और सब्जियों को बिना पकाए हुए इस्तेमाल किया जाता हैं। जिससे फलों और सब्जियों में पाए जाने वाले न्यूट्रीएंट्स नष्ट नहीं होते हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट अचार खाने से शरीर में दाखिल हो जाते हैं और फ्री रेडिकल्स सेल्स से शरीर की रक्षा करते हैं। फ्री रेडिकल्स सेल्स शरीर में कई सारी बिमारियों को पैदा करता हैं।

लीवर मजबूत बनाता हैं

आंवले का अचार लीवर के लिए बहुत ही ज्यादा लाभकारी माना जाता हैं। ऐसा आंवले में पाए जाने वाले गुणों की वजह से होता हैं। इससे लीवर मजबूत बनता हैं। आंवला अल्सर जैसी बीमारी से भी आपको बचाता हैं। साथ ही इससे पाचन तंत्र भी सही रहता हैं। इसलिए खाने में आंवले का अचार जरूर शामिल करना चाहिए।

ज्यादा अचार खाने से सेहत को होने वाले नुकसान

अचार को लम्बे समय तक सही बनाये रखने के लिए इसमें नमक, सिरका, तेल और मसाले ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल किया जाता हैं। यह सभी स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक होते हैं। चाहे इसे लम्बे समय तक कम खाया जाता हो, अचार सेहत के लिए वही अच्छा होता हैं जिसमे तेल कम और पानी की मात्रा ज्यादा हो। लेकिन इससे अचार ज्यादा समय तक सही नहीं रहता हैं और जल्दी खराब हो जाता हैं। लेकिन यह सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद होता हैं। मन में सवाल उठता हैं की क्या अचार खाना सेहत के लिए बुरा हैं? इसलिए अचार खाने के नुकसान के बारे में जानते हैं।

कैंसर होने का खतरा

अचार ज्यादा खाने से आपको कैंसर भी हो सकता हैं। एक रिसर्च से यह बात पता चली हैं की जो लोग ज्यादा अचार खाते हैं, उन्हें गैस्ट्रिक कैंसर होने की सम्भावना ज्यादा होती हैं। इसके अलावा इसे ज्यादा खाने से गले में खराश और दर्द भी पैदा हो सकता हैं। यह Esophageal कैंसर होने की वजह भी बन सकता हैं।

शरीर में सूजन होने की समस्या

अचार बनाने के लिए preservative का इस्तेमाल किया जाता हैं, जिससे इसमें नमक की मात्रा ज्यादा होती हैं। जिस कारण अचार में सोडियम भी काफी ज्यादा मात्रा में होता हैं। सोडियम शरीर में पानी की मात्रा को बनाये रखने के लिए प्रतिक्रिया करता हैं, जो शरीर के Osmotic बैलेंस के लिए जरूरी होता हैं। इससे शरीर में सूजन की समस्या हो जाती हैं। ज्यादा सूजन होने पर डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

यह भी पढ़े :- शरीर की सूजन दूर करने वाले बेस्ट फूड और घरेलु नुस्खे।

पाचन समस्या

बहुत ज्यादा अचार खाने से आचार का रस पाचन समस्याओं की वजह बन जाता हैं। इससे पेट की परेशानी, पेट दर्द और पेट फूलने की समस्या हो सकती हैं। इसलिए बहुत ज्यादा मात्रा में अचार नहीं खाना चाहिए। यह डायरिया के कारण पाचन तंत्र की परत को प्रभावित करता हैं। एक रिसर्च में यह बात सामने आई हैं की अचार खाने वाले लोगो में गैस्ट्रिक होने की समस्या ज्यादा रहती हैं।

Triglyceride का लेवल हाई होना

अचार में पाए जाने वाले preservative सेहत के लिए हानिकारक होते हैं। Preservative में आमतौर पर तेल की मात्रा ज्यादा होती हैं। हालांकि इसी तेल की वजह से अचार ज्यादा देर तक टिकता हैं। लेकिन इसकी मौजूदगी की वजह से शरीर में ट्राइग्लिसराइड के लेवल में वृद्धि होती हैं। अचार में आप चाहे किसी भी किस्म का तेल का इस्तेमाल करे, ज्यादा तेल की मात्रा होने के कारण यह समस्या होती ही हैं।

तेल की मात्रा ज्यादा होती हैं

अचार बनाने के लिए ज्यादा तेल और मसाले का इस्तेमाल किया जाता हैं। तेल की ज्यादा मात्रा होने से बॉडी में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ता हैं। इसकी वजह से आपका वजन भी बढ़ सकता हैं। इससे आपको दिल की बीमारियाँ होने का खतरा भी काफी बढ़ जाता हैं।

डायबिटीज में नुकसानदायक

डायबिटीज के मरीजों को अचार नहीं खाना चाहिए। कई आचार में preservative के रूप में चीनी का भी इस्तेमाल किया जाता हैं। जो डायबिटीज के रोगियों के लिए सही नहीं हैं। चीनी से बनाये गये अचार को मधुमेह के रोगियों को बिलकुल भी नहीं खाना चाहिए।

नमक की ज्यादा मात्रा

अचार में नमक ज्यादा होता हैं। जिससे स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता हैं। बाज़ार में मिलने वाला आचार तो और भी ज्यादा नुकसानदायक होता हैं, क्योंकि उनमे सोडियम के साथ केमिकल भी होता हैं। इसमें पाए जाने वाले सोडियम benzoate को ज्यादा खाने से कैंसर होने का खतरा भी ज्यादा रहता हैं।

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या

ज्यादा नमक खाने से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती हैं। इसलिए हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को अचार खाने से परहेज़ करना चाहिए।

यह भी पढ़े :- हाई ब्लड प्रेशर में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए? 

अल्सर

अचार में बहुत ज्यादा मसाले डाले जाते हैं, जिससे अल्सर की समस्या हो सकती हैं। नियमित रूप से अचार खाने वाले लोगो में अल्सर होने की समस्या ज्यादा देखी गयी हैं। इसलिए जितना कम हो सके अचार का सेवन कम करना ही उचित रहेगा।

नोट :- बाज़ार की बजाये घर का बना ही अचार खाए। अचार बनाते समय इसमें कम मसाले मिलाये। अचार जरूर खाए, लेकिन अचार को एक सिमित मात्रा में ही खाए।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *