अजवाइन के घरेलू नुस्खे और फायदे.

Ajwain ke fayde aur gharelu nuskhe. Benefits of Ajwain in Hindi. अजवाइन के कुछ उपयोगी घरेलु नुस्खे और उससे होने वाले फायदे.

अजवायन के फायदे जानकर आपको बहुत ही अच्छा लगेगा. यह सिर्फ रोसोई में मसाले के रूप में ही इस्तेमाल होती आई है, ऐसा बिलकुल नहीं हैं. अजवाइन का सदियो से घरेलू नुस्खे के रूप में छोटी-मोटी बीमारियो के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा हैं. अजवाइन का वैज्ञानिक नाम Trachyspermum ammi हैं. ग्रामीण इलाक़ो में अजवाइन को अनेक हर्बल नुस्खो में अपनाया जाता हैं. चलिए जानते हैं अजवाइन के कुछ देसी नुस्खे और इसके फायदे.

1. ग्रामीण अजवाइन, ईमली के बीज और गुड़ की समान मात्रा लेकर घी में अच्छी तरह से भुन लेते हैं और फिर इसकी कुछ मात्रा प्रति दिन नपुंसकता के रोगी को देते हैं. इन हर्बल जानकारों के अनुसार यह मिश्रण मर्दाना ताक़त बढ़ाने के साथ-साथ स्पर्म की संख्या भी बढ़ाने में मदद करता हैं. इससे शीघ्रपतन की समस्या में भी लाभ होता हैं.

2. अस्थमा के रोगी को यदि अजवाइन के बीज और लौंग की समान मात्रा का 5 ग्राम चूरन हर रोज दिया जाए तो काफ़ी फायदा होता हैं. अजवाइन को किसी मिट्टी के बर्तन में जलाकर उसका धूआ भी दिया जाए तो अस्थमा के रोगी को साँस लेने में राहत मिलती हैं.

3. कुंदरू के फल, अजवाइन, अदरक और कपूर की समान मात्रा को लेकर कूट कर एक सूती कपड़े में लपेट कर हल्का-हल्का गरम करके सूजन वाले हिस्से पर धीरे-धीरे से सैकाई की जाए तो सूजन ख़त्म हो जाती हैं.

4. यदि अजवाइन के बीजो को भुन कर एक सूती कपड़े में लपेट लिया जाए और रात को तकिये के नज़दीक रखा जाए तो दमा, सर्दी और खाँसी के रोगियो को रात में नींद के समय साँस लेने में तखलीफ नही होती हैं.

5. पान के पत्ते के साथ अजवाइन के बीजो को चबाने से गैस, पेट में मरोड़ और एसिडिटी से निजात मिल जाती हैं. माना जाता हैं की भूनी हुई अजवाइन की करीब 1 ग्राम मात्रा को पानी में डालकर चबाया जाए तो बदहज़मी में तुरंत राहत मिलती हैं.

6. हाइपर एसिडिटी होने पर 1/2 चम्मच कच्चा जीरा और 1/2 चम्मच बगैर भूनी अजवाइन को लेने से तेज़ी के साथ आराम मिलता हैं. ऐसा हर 4 घंटे के अंतराल पर किया जाना चाहिए.

7. जिन्हे रात में अधिक खाँसी होती हो, उन्हे पान में अजवाइन डाल कर खाना चाहिए. अदरक के रस में तोड़ा सा अजवाइन का चूरन मिला कर लेने से खाँसी में तुरंत आराम मिलता हैं.

8. माइग्रेन के रोगियो को हर्बल जानकार अजवाइन का धूआ लेने की सलाह देते हैं. वैसे, अजवाइन को पीस कर माथे पर लगाया जाए तो सीर दर्द में आराम मिलता हैं.

9. पेट दर्द होने पर अजवाइन के दाने 10 ग्राम, सोंठ 5 ग्राम और काला नमक 2 ग्राम को अच्छी तरह से मिला कर रोगी को गुनगुने पानी के साथ 3 ग्राम चूरन दिन में 4-5 बार दिया जाए , तो आराम मिलता हैं.




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

पार्सले के 11 फायदे जानिए।
नाशपाती खाने के लाभ.
डायबिटीज के बारे में पूरी जानकारी।
शरीर से ज़हरीले केमिकल्स को बाहर निकालने में मदद करते हैं यह 5 सुपर फूड.
अंजीर खाने के फायदे – Benefits of Anjeer (Fig) in Hindi.
संतरा खाने से सेहत को क्या लाभ होते हैं?
शरीर से ज्यादा पसीना आने की समस्या को दूर करने के लिए क्या खाना चाहिए?
अरारोट पाउडर से होते हैं यह गज़ब के फायदे।
लैपटॉप का ज्यादा इस्तेमाल करने से सेहत होते यह नुकसान।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *