अनार के घरेलु नुस्खे और फायदे।

अनार के घरेलु नुस्खे और फायदे।

अनार को नियमित रूप से खाने और इसका इस्तेमाल करने से हम हमेशा स्वस्थ्य रहते हैं। अनार के बारे में माना जाता हैं की यह अरब के देशो में पैदा हुआ था। अनार खाने में स्वादिष्ट होने के साथ ही खून बढ़ाने वाला और पाचक होता हैं। अनार को रक्तबीज के नाम से भी जाना जाता हैं, क्योंकि इसके दाने लाल रंग के चमकीले मोतियों के जैसे होते हैं और यह खून को पैदा करते हैं। जैसा की नाम से पता चलता हैं की अनार खून को बनाने वाला फल हैं। अनार को नियमित रूप से खाने से बीमार होने की संभावना काफी कम हो जाती हैं और इसका चूर्ण भी बहुत ही फायदेमंद होते हैं। Home Remedies of Pomegranate in Hindi.

अनार के घरेलु नुस्खे और फायदे :-

1. एसिडिटी से छुटकारा पाने के लिए अनार के जूस में मूली का जूस बराबर मात्रा में मिलाये। फिर इसमें चुटकी भर अजवाइन और सेंधा नमक मिलाकर पिए। यह एसिडिटी को दूर करने का बहुत ही कारगर उपाय हैं।

2. अगर आपको एनीमिया यानि की खून की कमी हैं तो अनार के जूस में मूली का जूस बराबर मात्रा में मिलाकर पीने से एनीमिया से राहत मिलती हैं।

3. अगर आपको देर रात की पार्टी के कारण अपच हो गयी हैं तो 1 चम्मच अनार का जूस, आधा चम्मच सेंका हुआ जीरा पीसकर और उसमे गुड़ मिला कर दिन में 3 बार पीजिये।

4. दमा, खांसी में जवाकर आधा तोला, काली मिर्च एक तोला, पीपल 2 तोला, अनारदाना 4 तोला इन सबको चूरन बना ले। फिर 8 तोला गुड़ में मिला कर चटनी बना ले, 4-4 रत्ती की गोलिया बना ले। गर्म पानी के साथ सुबह, दोपहर और शाम को 1-1 गोली खाए। इस नुस्खे को अजमाने से खांसी और दमा से छुटकारा मिलता हैं।

5. बच्चों की खांसी दूर करने के लिए अनार के छिलकों का चूर्ण आधा चम्मच, शहद के साथ मिलाकर चाटने से बच्चों की खांसी दूर हो जाती हैं।

6. कब्ज़ दूर करने के लिए अनार के पत्तियों को उबाल कर काढा बना कर पीजिये। इससे आपकी कब्ज़ दूर हो जाएगी। अजवाइन को फांक कर उसके बाद अनार का जूस पीने से भी कब्ज़ से राहत मिलती हैं।

7. दस्त और पेचिश की समस्या में 15 ग्राम अनार के सूखे छिलके, 2 लौंग को एक गिलास पानी में उबाले। जब पानी आधा रह जाये तो इसे दिन में 3 बार पीजिये। इससे दस्त और पेचिश से छुटकारा मिलता हैं।

8. डायरिया होने पर अनार का जूस, सौंफ, धनिया और जीरा बराबर मात्रा में मिक्स करके चूर्ण बनाये। और अनार के जूस के साथ इस चूर्ण को खाए। इसके अलावा डायरिया ख़त्म करने के लिए अनार के जूस में पका हुआ केला मैश करके खाया जा सकता हैं।

9. पलिहा यानी की तिल्ली और लीवर की कमजोरी, पेट दर्द अनार खाने से ठीक हो जाते हैं। इसका जूस एसिडिटी को दूर करता हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *