अशोक के पेड़ के घरेलु नुस्खे, उपाय और उससे होने वाले फायदे।

अशोक के पेड़ के घरेलु नुस्खे, उपाय और उससे होने वाले फायदे।

अशोक के पेड़ को लोग अपने बगीचों या घरो के सामने लगाते हैं। इसे लगाने का सबसे बड़ा कारण यह हैं की इससे आपके घर की खूबसूरती बढ़ जाती हैं। लेकिन क्या आपको पता हैं की अशोका का पेड़ औषधीय गुणों से भरपूर हैं। इसका इस्तेमाल कई प्रकार के रोगों को दूर करने के लिए किया जाता हैं। अशोक का रस कड़वा, कसैला और तासीर में ठंडा होता हैं। आइये जानते हैं अशोक के पेड़ के उपयोग घरेलु नुस्खे और उपाय के बारे में। अशोक के पेड़ के फायदे (Home Remedies & Benefits of Ashoka Tree in Hindi)

अशोक के पेड़ के घरेलु नुस्खे और उपाय :-

लिकोरिया के इलाज में फायदेमंद

अशोक की छाल के चूर्ण में बराबर मात्रा में मिश्री मिलाये। फिर इसे गाय के दूध के साथ दिन में 1-1 चम्मच 3 बार लेने से आपको लिकोरिया से छुटकारा मिलता हैं। यह उपाय आप कुछ हफ्ते तक जारी रखे महिलाओं में होने वाले श्वेत प्रदर (लिकोरिया) से आराम मिलता हैं। इसके अलावा गिलोय के चूर्ण को अशोक की छाल के चूर्ण के साथ बराबर मात्रा में मिलाये, फिर इसमें उबला हुआ पानी मिक्स करे और इसे शहद के साथ सुबह-शाम लीजिये। इससे भी लिकोरिया में राहत मिलती हैं

दिमाग तेज़ बनाये

अशोक की छाल का चूर्ण और ब्राह्मी का चूर्ण बराबर मात्रा में मिलाये। इस चूर्ण की 1-1 चम्मच मात्रा सुबह-शाम एक कप गर्म दूध के साथ लीजिये। यह उपाय कुछ महीनो तक जारी रखने से आपका दिमाग तेज़ बन जाता हैं

पथरी से छुटकारा दिलाये

अशोक के बीजो के चूर्ण की 1 चम्मच मात्रा पानी के साथ लेने से पथरी से राहत मिलती हैं।

डायबिटीज के लिए लाभकारी

डायबिटीज होने पर अशोक के सूखे फूलों का चूर्ण रोजाना एक चम्मच लेने से आपको लाभ मिलेगा।

पेशाब न आने पर

अशोक के बीजो को पानी में पीसकर 2 चम्मच नियमित रूप से लेने से पेशाब न आने की समस्या दूर होती हैं।

सूजन और जलन से राहत दिलाये

सूजन और जलन होने पर अशोक की छाल का काढा बना कर पीने और लगाने से फायदा होता हैं।

बुखार और पेट दर्द में लाभकारी

यह रक्त विकार, बुखार, पेट के रोग और जोड़ो का दर्द दूर करने वाला माना गया हैं। पेट की बीमारी में अशोक के पत्तो से बने काढ़े में जीरा मिला कर पीने से लाभ होता हैं।

रक्त प्रदर

रक्त प्रदर में इसकी छाल का चूर्ण 1 चम्मच, एक कप पानी और थोड़ी सी शक्कर को एक कप दूध में मिलाकर गर्म करके पीने से लाभ होता हैं।

मुहांसे ख़त्म करता हैं

अशोक की छाल, निम्बू का रस और दूध के मिश्रण से बना लेप लगाने से मुहांसे से छुटकारा मिलता हैं।

फोड़े फुंसी दूर करे

अशोक की छाल के काढ़े में बराबर मात्रा में सरसों का तेल मिला कर लगाने से फोड़े-फुंसियों से निजात मिलती हैं।

त्वचा का रंग निखारे

अशोक का रस रंग निखारने वाला माना जाता हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *