आंतो से परजीवी ख़त्म करने के उपयोगी तरीके और उपाय।

आंतो से परजीवी ख़त्म करने के उपयोगी तरीके और उपाय।

परजीवी जिन्हें इंग्लिश में parasite कहा जाता हैं, ऐसे जीव हैं जो बॉडी पर अटैक करके हमारे न्यूट्रीशन और खून पर जिन्दा रहते हैं। परजीवी 2 प्रकार के होते हैं, एक वे परजीवी जो शरीर के अंदर रहते हैं और दुसरे वे परजीवी जो शरीर के बाहर रहते हैं। शरीर के बाहर रहने वाले परजीवी आँखों से दिखाई देते हैं, इन्हें शरीर से हटाना काफी ज्यादा आसान हैं। जैसे की शरीर के बाहर रहने वाले परजीवी सिर में रहने वाली जुएं और लीखें, इन्फेक्शन आदि होते हैं, जिन्हें कई तरीकों से हटाया जा सकता हैं।

लेकिन शरीर के अंदर रहने वाले परजीवीयों को पहचानना काफी ज्यादा मुश्किल होता हैं। शरीर के अंदर रहने वाले परजीवी सेहत के लिए ज्यादा हानिकारक होते हैं और इन्हें शरीर से जल्द से जल्द बाहर निकालने की जरूरत होती हैं। ज्यादातर परजीवी आपके पेट या आँतों में रहते हैं, ऐसे में आज हम ऐसे घरेलु नुस्खे, उपाय और तरीके बताने जा रहे, जिससे आँतों या पेट के पैरासाइट को शरीर से बाहर निकालने या इन्हें नष्ट करने में मदद मिलती हैं। Home Remedies for Parasites in Hindi.

आँतों के परजीवी मारने या शरीर से बाहर निकालने के तरीके, उपाय और नुस्खे :-

☑ अरंडी का तेल तेल और दूध मिला कर पिए

एक गिलास गुनगुने दूध में 2 चम्मच अरंडी का तेल मिला कर पिए। इससे परजीवी मल के साथ शरीर से बाहर निकल जायेंगे। इसे एक हफ्ते तक लेने से आँतों के परजीवी समाप्त हो जाते हैं।

☑ लहसुन का सेवन करे

लहसुन की महक परजीवी बर्दाश्त नहीं कर पाते हैं। लहसुन एंटीबायोटिक और एंटी-फंगल गुणों से भरा हुआ होता हैं, जो बॉडी से बैक्टीरिया को नष्ट करने का काम करता हैं। परजीवी को मारने या उन्हें शरीर से बाहर निकालने के लिए लहसुन की कच्ची कलियों को जरूर खाना चाहिए।

☑ हल्दी भी पैरासाइट को निकालने में हैं मददगार

हल्दी का इस्तेमाल परजीवियों से हुए इन्फेक्शन को दूर करने के लिए भी किया जाता हैं। इसलिए अपने भोजन में हल्दी का इस्तेमाल जरूर करे। या फिर हल्दी को पानी में मिला कर पिए, इससे पैरासाइट पर तेज़ असर होगा और वे आसानी के साथ नष्ट होने लगेंगे।

☑ अनार का जूस पीना चाहिए

अनार का जूस पीने से पेट के Parasites को ख़त्म करने में आसानी होती हैं। इसलिए आप अनार को खाए या फिर इसका जूस पिए। अनार को नियमित रूप से खाने से परजीवीयों के हमले से बचने में मदद मिलती हैं। इससे पेट और आँतें तंदरुस्त रहते हैं और पेट एक दम साफ़ रहता हैं।

☑ गाजर का सेवन करे

आंतो के परजीवियों से छुटकारा पाने के लिए गाजर खाना अच्छा उपाय हैं। 2 गाजर को कस ले और सुबह खाली पेट इसे खाए। सुबह खाली पेट घीसे हुए गाजर को खाने से न सिर्फ परजीवियों से मुक्ति मिलती हैं, बल्कि फ्यूचर में इनके होने वाले अटैक से बचने में भी आसानी होती हैं। इसके अलावा गाजर खाने से आँखों की रोशिनी भी बढ़ती हैं।

☑ लौंग भी हैं फायदेमंद

लौंग में एंटी-माइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं जो आँत में जमा हुए परजीवियों को ख़त्म करता हैं। यह शरीर में पैरासाइट के समाप्त करने के साथ साथ उनके अन्डो को भी ख़त्म करता हैं। जिससे फ्यूचर में होने वाले इन्फेक्शन से बचने में आसानी होती हैं। बॉडी से पैरासाइट को निकालने के लिए रोजाना 1 से 2 लौंग का सेवन करना चाहिए।

☑ निम्बू के बीज भी हैं उपयोगी

अकसर हम निम्बू के बीजों को यूँही फेंक देते हैं। लेकिन निम्बू के बीजों को पीस कर लेने से परजीवियों को ख़त्म करने में मदद मिलती हैं। यह पेट में मौजूद पैरासाइट को मारता हैं और उनकी एक्टिविटी को भी कम करता हैं। इसके लिए आप निम्बू के बीज को पीस कर एक गिलास पानी के साथ मिला कर पी सकते हैं। आप चाहे तो इसे निम्बू के जूस के साथ भी ले सकते हैं। अगर आप निम्बू पानी पीते हैं तो निम्बू के बीजों को चबा कर भी आप खा सकते हैं।

☑ चावल के सिरके का करे इस्तेमाल

सिरका हर तरह से कई तरह की बिमारियों के इलाज में इस्तेमाल किया जाता हैं। एक चम्मच चावल के सिरके को एक गिलास पानी में मिलाकर रोजाना पीने से पेट के परजीवी मर जाते हैं। सिरके का खट्टापन पेट के परजीवियों का सफाया करता हैं, इसलिए चावल का सिरका जितना ज्यादा खट्टा होगा, उतना ही यह अच्छा रहेगा। अगर पैरासाइट इन्फेक्शन ज्यादा सीरियस हैं तो इसे दिन में 3 से 4 बार पीना चाहिए।

☑ निम्बू और पपीता करे कमाल

एक कप पुदीने के रस में थोड़ा सा काला नमक और थोड़ा सा निम्बू का रस मिला ले। इसे रोजाना पीने से पेट में हुए परजीवी संक्रमण को दूर करने में मदद मिलती हैं। शरीर में परजीवियों की मौजूदगी होने पर कुपोषण और अन्य प्रकार की प्रॉब्लम्स होने लगती हैं। इसलिए तंदरुस्त रहने के लिए इन्हें बॉडी से बाहर निकलना जरूरी होता हैं।

☑ मक्खन युक्त दही और दूध का सेवन करे

प्रोबायोटिक पेट में पैरासाइट्स और कैंडिडा इन्फेक्शन को दूर करते हैं, क्योंकि यह फायदेमंद बैक्टीरिया की संख्या को बढ़ाते हैं। जिससे परजीवियों और फंगल का खात्मा होता हैं। प्रतिदिन एक कप मक्खन युक्त दही या दूध के सेवन से पेट इन्फेक्शन फ्री रहता हैं और पैरासाइट की संख्या भी नहीं बढ़ती हैं।

☑ कच्चा नारियल (गरी) खाए

नारियल की कच्ची गरी खाने से पेट के परजीवी समाप्त हो जाते हैं। अगर आपके पेट में परजीवियों होने की आशंका हैं तो एक हफ्ते तक रोजाना कच्चे नारियल को खाए। इसके अलावा आप नारियल पानी भी पी सकते हैं। नारियल का पानी और कच्ची गरी के सेवन से शरीर स्वस्थ्य बनता हैं।

☑ कच्ची सब्जियों का रस पिए

सब्जियों के जूस में पोषक तत्व होते हैं जो जिससे ब्लड सेल्स की सफाई हो जाती हैं और बॉडी से ज़हरीले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं।

☑ पपीता का बीज का सेवन करे

पपीते के बीज भी पैरासाइट को ख़त्म करने का काम करते हैं। पपीते बीजो को पीस कर पेस्ट बना ले और इन्हें पपीते के साथ मिला कर खा जाये। इससे पेट पूरी तरह से साफ हो जाता हैं और पर्जिवे भी मर जाते हैं।

☑ टमाटर हैं लाल करे कमाल

दो टमाटर को काट कर उनपर काला नमक और काली मिर्च छिड़क कर खाए। इसे प्रतिदिन खाने से पेट और शरीर के फंगल और पैरासाइट इन्फेक्शन से बचने में मदद मिलती हैं। आप चाहे तो टमाटर का सलाद भी खा सकते हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *