उड़द की दाल के फायदे, इसके घरेलु नुस्खे और उपाय।

उड़द की दाल के फायदे, इसके घरेलु नुस्खे और उपाय।

दाल हमारे भारतीय भोजन का अभिन्न हिस्सा माने जाते हैं। इन्ही दालों में एक दाल हैं उड़द की दाल। अगर हफ्ते में 3 दिन उरद की छिलके वाली दाल को खाया जाये तो यह स्वास्थ्य को बहुत लाभ प्रदान करती हैं। अगर इसमें निम्बू मिला देते हैं तो यह खाने में और भी ज्यादा टेस्टी लगती हैं। आज के लेख में उड़द की दाल खाने के फायदे, इसके घरेलु नुस्खे और उपाय सभी के बारे में जानेंगे। Home Remedies & Health Benefits of Black Gram in Hindi.

उरद की दाल आपको आसानी से बाज़ार में मिल जाती हैं। इसकी खेती पुरे देश में की जाती हैं। छिलके वाली उड़द की दाल को काली उड़द और बिना छिलके वाली उड़द की दाल को सफ़ेद उरद के नाम से जाना जाता हैं। उड़द की दाल को मांह की दाल भी कहा जाता हैं। उड़द का वैज्ञानिक नाम Vigna Mungo हैं और इसे अंग्रेजी में Black Gram बोला जाता हैं।

उड़द की दाल को न्यूट्रीशन से भरपूर माना जाता हैं। छिलके वाली काली उड़द की दाल में विटामिन और मिनरल्स प्रचुर मात्रा में होते हैं। साथ ही इसमें कोलेस्ट्रॉल भी न के बराबर ही होता हैं। इसमें कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, मैंगनीज और पोटैशियम जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। अपने इसी स्वास्थ्यवर्धक गुणों के कारण उरद की दाल का इस्तेमाल उपयोगी घरेलु नुस्खो में किया जाता हैं।

उड़द की दाल के घरेलु नुस्खे, उपाय और इसे खाने के फायदे

वजन बढ़ाता हैं

दुबले पतले लोगो को उड़द की दाल का सेवन करना चाहिए। यह वजन को बढ़ाने में मददगार होता हैं। अपने भोजन में दोनों समय उड़द की दाल को खाए। इससे आपका वजन तेज़ी के साथ बढ़ जायेगा। एक्सपर्ट के अनुसार उड़द की दाल वजन बढ़ाने में कारगर होती हैं।

जोड़ो का दर्द दूर करने के लिए

छिलके वाली उड़द की दाल को एक सूती कपड़े में लपेट कर तवे पर गर्म करे। फिर इससे जोड़ो में दर्द होने वाली जगह की सिकाई करे। इससे जोड़ो के दर्द में बहुत ज्यादा आराम मिलता हैं।

गंजापन दूर करे

गंजेपन को दूर करने में उड़द की दाल विशेष लाभकारी होती हैं। उरद की दाल को उबाल कर पीस ले और फिर इसका लेप रात को सोने से पहले सिर में लगा ले। इससे आपके सिर का गंजापन धीरे-धीरे ख़त्म होने लगता हैं और आपके सिर में नए बाल उगने लगते हैं।

प्रोटीन का खजाना

सभी दालों में प्रोटीन पाया जाता हैं। जो लोग शाकाहारी हैं या जिनके पास मीट-मछली खाने के पैसे नहीं हैं, उनके लिए उड़द की दाल प्रोटीन का सबसे बढ़िया स्रोत हैं। शारीरिक विकास और मसल्स को मजबूत बनाने के लिए प्रोटीन की जरूरत होती हैं। प्रोटीन स्किन, खून, मसल्स और हड्डियों के सेल्स के विकास के लिए जरूरी होता हैं। उड़द की दाल में भारी मात्रा में हाई प्रोटीन पाया जाता हैं।

महिलाओं के लिए फायदेमंद

इसके सेवन से शरीर को ऊर्जा मिलती हैं। यह उन स्त्रियों के लिए भी सही रहता हैं, जिन्हें पीरियड्स के दौरान ज्यादा खून बहता हैं। क्योंकि इससे उनके अन्दर आयरन की कमी हो जाती हैं। इसमें मीट की तुलना में कई गुणा ज्यादा आयरन पाया जाता हैं। इसके अलावा इसमें फैट और कैलोरी भी काफी कम मात्रा में होते हैं।

दिल के लिए लाभकारी

उड़द की दाल ह्रदय के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद मानी जाती हैं। क्योंकि इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद मिलती हैं। यह शरीर में मैंगनीज और फोलेट लेवल को बढ़ाता हैं, जिससे धमनियों के ब्लाक होने का खतरा काफी कम हो जाता हैं। इसमें मैग्नीशियम पाया जाता हैं जो दिल को स्वस्थ्य बनाता हैं। क्योंकि मैग्नीशियम ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता हैं, जिससे दिल सेहतमंद रहता हैं।

फोड़े फुंसियों का इलाज

फोड़े फुंसियों, पके हुए ज़ख्म और घावो पर उड़द की आटे की पट्टी बांधने से फायदा होता हैं। दिन में 3 से 4 बार ऐसा करने से आपको इन समस्याओं से राहत मिलती हैं।

अपचन दूर करे

जिनको अपचन की समस्या हो या जिन्हें बवासीर हो, उन्हें उरद की दाल का सेवन जरूर करते रहना चाहिए। क्योंकि इसे खाने से पेट साफ हो जाता हैं।

सेक्स कमजोरी दूर करे

एक्सपर्ट मानते हैं की उड़द की दाल पुरुषो में होने वाली यौन कमजोरी को दूर करने में उपयोगी होता हैं। इसी कारण इसके पानी का सेवन करने की सलाह दी जाती हैं। यह भी कहा जाता हैं की जवानी दुबारा से प्राप्त करने के लिए उड़द की दाल को रोजाना पका कर खाना चाहिए। क्योंकि इसमें पोटैशियम ज्यादा मात्रा में होता हैं, इसलिए मॉडर्न साइंस भी इसे मर्दाना कमजोरी दूर करने वाला और सेक्स पॉवर वाला आहार मानती हैं।

दर्द और लकवे में फायदेमंद

उड़द की दाल को दाल को सरसों के तेल में गर्म करे। फिर इस गर्म किये गये तेल से दर्द वाली जगह की मालिश करे। इससे आपको दर्द से तेज़ी के साथ आराम मिलता हैं। इस तेल से लकवे के मरीज़ की भी मालिश करनी चाहिए, इससे लकवे में फायदा होता हैं।

मुहांसे दूर करे

उड़द की बिना छिलके वाली दाल को दूध में रात भर के लिए भिगो दे। सुबह उठते ही इसे बारीक पीस ले। फिर इसमें कुछ बूंदे निम्बू के रस और शहद की मिला कर चेहरे पर लेप लगाये। 1 घंटे तक इस पेस्ट को चेहरे पर लगा रहने दे। फिर चेहरे को धो ले। ऐसा लगातार कुछ दिनों तक करते रहने से आपके चेहरे के मुहांसे और दाग-धब्बे दूर हो जाते हैं। इससे चेहरे पर एक नयी चमक भी आती हैं।

उड़द की दाल के लड्डू यौन कमजोरी का रामबाण इलाज हैं

उरद की दाल को पका कर खाया जाता हैं। इस दाल को पीसकर इसके आटे से लड्डू बनाये जाते हैं। जो की बहुत ही ज्यादा पौष्टिक होते हैं। उड़द की दाल को पीसकर उसमे सभी प्रकार के सूखे मेवे मिला कर लड्डू बनाये जाते हैं। यह लड्डू बहुत ही ज्यादा शक्तिशाली और यौन शक्ति बढ़ाने वाले होते हैं।

इसके लड्डू खाने से सेक्स कमजोरी दूर हो जाती हैं। उड़द की दाल से बने लड्डूओं को सर्दियों के दिनों में ही खाना चाहिए। क्योंकि सर्दियों के मौसम में शरीर में पचाने की शक्ति ज्यादा होती हैं। इस मौसम में आपको बदहजमी भी नहीं होती हैं। कुछ भी खाया-पिया जाये तो वह पच जाता हैं, इसलिए सर्दियों के दिनों में इस लड्डू को खाना चाहिए। उड़द के लड्डू को आप नवम्बर से फरवरी महीने तक अपनी पाचन शक्ति के अनुसार आप खा सकते हैं।

सावधानी :-

उड़द की दाल पचने में आसान नहीं होती हैं। इसलिए जिन लोगो की पाचन शक्ति कमजोर हैं, उन्हें उड़द की दाल नहीं खानी चाहिए। क्योंकि अगर आपका हाजमा ही कमजोर होगा तो आप इसे पचा नहीं पायेंगे, परिणामस्वरूप आपको बदहजमी, गैस और एसिडिटी की समस्या हो जाएगी।




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

अमरुद खाने के फायदे.
गले मिलने के सेहत को भी फायदे होते हैं. जानिए..
राइस ब्रैन ऑयल (चावल की भूसी के तेल) फायदे।
स्मार्टफोन के ज्यादा इस्तेमाल से क्या नुकसान होते हैं?
बादाम को भिगो कर क्यों खाना चाहिए?
खट्टी डकार और पेट दर्द से छुटकारा पाने के आसान घरेलु नुस्खे और उपाय।
वजन कम करना चाहते हैं तो इन चीजों को खाए।
बादाम खाने के फायदे जरूर पढ़े यह लेख।
हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करते हैं यह मसाले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *