एंड्राइड के बारे में जानिए? क्या हैं एंड्राइड?

एंड्राइड के बारे में जानिए? क्या हैं एंड्राइड?

टेक्नोलॉजी हर समय बदलती रहती हैं और समय बीतने के साथ तकनीक अपने आपको और भी ज्यादा बेहतर बनाती चली जाती हैं। क्या आपको याद हैं वह दौर जब मेसेज भेजने के लिए पेजर का इस्तेमाल किया जाता था, फिर पेजर को छोड़ कर sms का दौर आया, और अब तो सभी लोग Whatsapp करते हैं। इसी तरह एक समय नोकिया के मोबाइल काफी ज्यादा प्रसिद्ध थे, तो मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम में सिम्बियंस ऑपरेटिंग सिस्टम काफी लोकप्रिय था। लेकिन आज ज्यादातर स्मार्टफोन एंड्राइड और iOS पर आधारित हो गये हैं।

आज यह जानना जरूरी हैं की आखिर एंड्राइड क्या होता हैं और यह इतना ज्यादा लोकप्रिय क्यों हुआ?

एंड्राइड एक ऑपरेटिंग सिस्टम हैं जो दुनिया में सबसे ज्यादा मोबाइल में इस्तेमाल किया जाता हैं। नोकिया, ब्लैकबेरी, माइक्रोसॉफ्ट और एप्पल के मोबाइल को छोड़ दिया जाये तो सभी मोबाइल हैण्डसेट एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करते हैं। एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम दुनिया भर में सभी मोबाइल्स में तेज़ी के साथ इस्तेमाल किया जा रहा हैं।

टेक्निकल रूप से जानिये आखिर एंड्राइड, ऑपरेटिंग सिस्टम कैसे अलग हैं? एंड्राइड की सबसे अच्छी बात यह हैं की इसमें आप संसोधन यानि मॉडिफिकेशन कर सकते हैं। यानी की कोई भी व्यक्ति अपनी जरूरत के अनुसार इसमें बदलाव कर सकता हैं, अगर उसे कोडिंग आती हो। जबकि दुसरे ऑपरेटिंग सिस्टम में Modification की सुविधा उपलब्ध नहीं होती हैं।

एंड्राइड क्या होता हैं?

दरअसल एंड्राइड, Linux पर based टेबलेट और मोबाइल फोन के लिए बनाया गया ऑपरेटिंग सिस्टम हैं। जिसे गूगल ने बनाया हैं। विश्व भर में ज्यादातर बिकने वाले स्मार्टफोन में एंड्राइड, ऑपरेटिंग सिस्टम का इस्तेमाल किया जाता हैं। इस ऑपरेटिंग सिस्टम की लोकप्रियता इतनी ज्यादा हैं की दुनिया भर के 1 बिलियन से भी ज्यादा स्मार्टफोन और टेबलेट में एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करते हैं।

एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम गूगल का ही प्रोडक्ट हैं, इसी वजह से इसके ऑफिसियल apps आपको गूगल प्ले स्टोर पर ही मिलते हैं। इन Apps को APK File के रूप में जाना जाता हैं। जबसे एंड्राइड मोबाइल फोन का ऑपरेटिंग सिस्टम बना हैं, तबसे हम वह सभी काम अपने मोबाइल पर ही कर सकते हैं, जिन्हें एक समय सिर्फ कंप्यूटर या लैपटॉप पर ही करना मुमकिन था। लेकिन जबसे एंड्राइड मोबाइल फ़ोन का ऑपरेटिंग सिस्टम के रूप में इस्तेमाल किया जाने लगा हैं, तबसे मोबाइल अब कंप्यूटर और लैपटॉप का काम भी कर रहे हैं।

गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे एंड्राइड apps

वैसे तो आपको कई सारी वेबसाइट मिल जाएँगी जो एंड्राइड apps और games को डाउनलोड करने की सुविधा आपको देंगी। लेकिन जानकारों की माने तो Google Play Store ही Android Apps & Games को डाउनलोड करने की ऑफिसियल वेबसाइट हैं। Google Play Store, एक ऐसा प्लेटफॉर्म हैं, जहा पर एंड्राइड os पर चलने वाले सभी एप्लीकेशन यानि सॉफ्टवेयर स्टोर किये जाते हैं। गूगल प्ले स्टोर पर आप अपने एंड्राइड स्मार्टफोन या टेबलेट से apps को डाउनलोड कर सकते हैं, इसके लिए आपको Google जीमेल आई.डी. की जरूरत पड़ती हैं। वैसे गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद एंड्राइड Apps और गेम्स फ्री और paid दोनों ही होती हैं। अगर आपका ब्लॉग या वेबसाइट हैं तो आप उसकी app बना कर गूगल प्ले स्टोर पर स्टोर कर सकते हैं, जिससे आपके पाठक आपके वेबसाइट की app को अपने मोबाइल में इनस्टॉल कर सकते हैं और सिर्फ एक क्लिक से डायरेक्ट आपके द्वारा लिखे गये पोस्ट को आसानी के साथ पढ़ सकते हैं।

एंड्राइड का इतिहास

सबसे पहले गूगल मोबाइल कंपनियों को एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम बेचता था। लेकिन अब तो गूगल खुद भी अपने मोबाइल बनाने लगा हैं। बिना ऑपरेटिंग सिस्टम के मोबाइल एक डब्बे की तरह होता हैं, जब मोबाइल में यह ऑपरेटिंग सिस्टम पड़ जाते हैं तो यह मोबाइल स्मार्टफोन में तब्दील हो जाता हैं।

एंड्राइड वर्जन की शुरुवात 5 नवम्बर 2007 को Alpha version के साथ शुरू हुई। फिर एंड्राइड का सबसे पहला version 1.0 सितम्बर 2008 में लांच किया गया। फिर इसी तरह इसके 1.1 वर्जन आया। एंड्राइड OS अपने नामो के कारण अक्सर चर्चा का विषय बनता हैं। 30 अप्रैल 2009 को एंड्राइड का पहला कमर्शियल वर्जन 1.5 बाज़ार में पेश किया गया था। इसका नाम कपकेक रखा गया, उसके बाद तो इसके नये-नये संस्करण आते रहे और उनका नाम भी काफी मजेदार तरीके से रखा जाता रहा।

बाजार में उतरे एंड्रॉयड के अब तक के वर्जन:

• 15 सितंबर 2009 को डोनेट एंड्रॉयड 1.6
• 26 अक्टूबर 2009 को अक्लेर एंड्रॉयड 2.0-2.1
• साल 2010 एंड्रॉयड 2.2 फ्रोयो
• दिसंबर 2010 जिंजर ब्रैड 2.3
• साल 2011 जिंजर ब्रैड का संशोधित वर्जन 2.3.3-2.3.7
• मई 2011 हनीकाम्ब 3.1
• जुलाई 2011 हनीकाम्ब 3.2
• दिसंबर 2011 आइसक्रीम सैन्डविच 4.0.3 और 4.0.4
• साल 2012 में जैलीबीन 4.1x और 4.2x
• साल 2013 में जैलीबीन 4.3.1
• 31 अक्टूबर 2013 में किटकैट 4.4-4.4.4, 4.4w-4.4w.2
• 12 नवंबर 2014 में लॉलीपाप 5.0-5.1.1
• 5 अक्टूबर 2015 में मार्शमैलो 6.0-6.0.1
• 22 अगस्त 2016 को Nougat 7.0 – 7.1.1
• 21 अगस्त 2017 में Oreo 8.0








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *