ऑटो स्वीप अकाउंट क्या होता हैं और इससे ज्यादा ब्याज कैसे मिलता हैं?

ऑटो स्वीप अकाउंट क्या होता हैं?

आपके बचत खाते में पड़ी राशि पर कितना ब्याज़ मिलता हैं? मुश्किल से 4 से 6 प्रतिशत. अकसर बचत खाते में लंबे समय तक राशि यूँ ही पड़ी रहती हैं और आप 4 से 6 प्रतिशत ब्याज से संतुष्ट रहते हैं, लेकिन अगर आप चाहे तो इस खाते में पड़े पैसे पर थोड़ा अधिक ब्याज़ ले सकते हैं. यह संभव हैं ऑटो-स्वीप फेसिलिटी के ज़रिए, जिसे फ्लेक्सी डिपोजिट स्कीम कहा जाता हैं.

आपको बता दे जहाँ सेविंग अकाउंट पर लगभग 4% से 6% पर ब्याज मिलता हैं. वही फिक्स्ड डिपोजिट पर 8 पर्सेंट इंटेरेस्ट मिलता हैं. इस तरह से अगर आप इस प्रणाली का इस्तेमाल करते हैं तो अपने सेविंग अकाउंट से ही FD का फायदा ले सकते हैं.

ऑटो-स्वीप अकाउंट क्या हैं. (what is auto sweep account in Hindi)

ऑटो स्वीप की सुविधा सेविंग अकाउंट और फिक्स डिपोजिट का मिश्रण हैं. सीधे रूप से कहे तो इसमें सेविंग अकाउंट में पड़ा एक्सट्रा पैसा अपने आप फिक्स डिपोजिट (FD) में बदल जाता हैं , और जब पैसे की ज़रूरत होती हैं, उस FD का पैसा अपने आप फिर से बचत खाते में आ जाता हैं.

ऐसे काम करता प्रोसेस :-

इस सुविधा का लाभ लेने के लिए आपको अपने बैंक को 3 बातें बतानी होगी.

1- वह अधिकतम राशि , जो आपके बचत खाते में रहेगी. जिसे थ्रेशोल्ड लिमिट कहते हैं.

2- वह राशि जितने की FD बनेगी.

3- वह अवधि जितने समय के लिए FD बनानी हैं.

यह निर्धारित होने के बाद बाकी काम बैंक का कंप्यूटर करेगा. जैसे की आपके बचत खाते की राशि थ्रेशोल्ड लिमिट और FD की राशि से उपर जाती हैं, अपने आप FD बन जाएगी. यह FD उतने दीनो के लिए बनती हैं, जितनी अवधि का निर्धारण आप पहले ही कर चुके हैं.

इसे ऐसे समझे :-

आपने अपने बचत खाते में थ्रेशोल्ड लिमिट 10 हज़ार रुपये, FD 5 हज़ार रुपये और अवधि 6 महीने की तय की हैं. मान लीजिये आपके बचत खाते में 12 हज़ार रुपये हैं. यह राशि थ्रेशोल्ड लिमिट से अधिक हैं, लेकिन इसमे कोई FD नही बनेगी, क्योंकि आपने 5 हज़ार रुपये की FD तय की हैं. यानी FD के लिए आपके खाते में कम से कम 15000 रुपये चाहिए.

मान लीजिए इस खाते में सैलरी के रूप में 17 हज़ार रुपये जमा होते हैं. अब आपके खाते में हो जाएँगे 29 हज़ार रुपये, और ऑटो स्वीप फेसिलिटी लागू हो जाएगी. ऐसी सिचुयेशन में आपके नाम 5-5 हज़ार की तीन FD और बचत खाते में शेष राशि रहेगी 14 हज़ार (29000-15000 = 14000)

अपने आप तोड़ लेगा बैंक :-

अब मान लीजिए आपने एटीएम से 3 हज़ार रुपये निकाल लिए. बचत खाते में 11000 रुपये रह गये. फिर आपने किसी को 1500 रुपए का चैक लिख दिया, जिसे भुनाने पर बचत खाते में राशि हो गई, 9500 रूपए. जो आपकी थ्रेशोल्ड लिमिट 10 हज़ार से कम हैं. इसलिए बैंक आपकी एक FD अपने आप तोड़ लेगा. इस प्रकार आपके बचत खाते में राशि हो जाएगी, 14500 रुपये और FD की संख्या 2 रह जाएगी.

अब यदि आपको कंही से 500 रुपये का चेक मिलता हैं तो उसे जमा करने के बाद आपके बचत खाते में राशि हो जाएगी 15000 रुपये. यानी की थ्रेशोल्ड लिमिट से 5 हज़ार रुपये ज़्यादा. ऐसे में फिर से आपके नाम एक FD बढ़ जाएगी. अब आपके पास 3 FD हो जाएगी और बचत खाते में राशि बचेगी 10000 रुपये.








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *