कंगारू के बारे में मजेदार रोचक जानकारी और तथ्य।

By | January 19, 2017

कंगारू के बारे में मजेदार रोचक जानकारी और तथ्य।

कंगारू ऑस्ट्रेलिया का राष्ट्रीय पशु हैं। यह एक स्तनधारी जीव हैं, लेकिन यह अन्य स्तनधारी जानवरों से बिलकुल ही अलग हैं क्योंकि यह 2 पैरो पर चलता हैं और मादा कंगारू के पेट पर एक थैली होती हैं, जिसकी वजह से लोग इसे थैलीदार जीव मानते हैं। आज के लेख में कंगारू के बारे में कुछ मज़ेदार रोचक जानकारी और तथ्यों के बारे में जानेंगे, जिन्हें शायद ही आप पहले जानते हो। Interesting Facts & Information about Kangaroo in Hindi. कंगारू से जुड़े रोचक तथ्य और ज्ञानवर्धक जानकारीयां।

कंगारू के बारे में रोचक जानकारी और बाते :-

1. कंगारू ऑस्ट्रेलिया में सबसे ज्यादा पाए जाते हैं, इसके अलावा यह New Guinea में भी रहते हैं।

2. कंगारू के छोटे बच्चे (बेबी) को Joeys कहा जाता हैं।

3. ज्यादातर कंगारू घास खाते हैं।

Loading...

4. कंगारू की 4 प्रजातियाँ होती हैं जो की इस प्रकार से हैं Red, Antilopine, Eastern Grey और Western Grey कंगारू।

5. लाल कंगारू सभी कंगारू प्रजाति में सबसे लम्बे होते हैं, इनकी लम्बाई 2 मीटर तक हो सकती हैं। वह 65 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दुरी तय कर सकते हैं। वह एक बार में 3 मीटर की उचाई तक कूद सकते हैं और उनकी कूद 7.6 मीटर तक लम्बी हो सकती हैं।

6. कंगारू के दोनों पैरों की असंतुलित लम्बाई होने के कारण, यह अन्य स्तनधारियों की तरह जमीन पर चल नहीं सकते हैं। इसलिए यह अपने दोनों पैरो को ऊपर उठाते हैं और हमेशा कूद कूद कर ही आगे बढ़ते हैं।

7. क्या आपको पता हैं की कंगारू पानी में तैर भी सकते हैं।

8. चाहे कंगारू जमीन पर अपने दोनों पैरो को एक साथ ही उपयोग कर सकता हैं, लेकिन पानी में जाने पर यह अपने दोनों पैरो को अलग-अलग करके मूव कर सकता हैं, जिस वजह से यह पानी में आसानी से तैर सकता हैं।

9. कंगारू के कान गजब के होते हैं। वह अपने कानो को किसी भी दिशा में घुमा सकते हैं। कानो को किसी भी दिशा में घुमाने के लिए उन्हें अपने सिर को घुमाने की जरूरत नहीं पड़ती हैं।

10. कंगारू कभी भी पीछे की ओर नहीं जा सकते यानि की पीछे की ओर कूद नहीं सकते हैं।

11. कंगारू बहुत ज्यादा हाई jump मारते हैं, यहाँ तक की वह कई बार अपने शरीर की लम्बाई से भी 3 गुणा ज्यादा उचाँ कूद सकते हैं।

12. कंगारू के ग्रुप को “mob”, “troup” या “court” भी कहा जाता हैं।

13. कंगारू एक सामाजिक जानवर होते हैं जो ग्रुप में रहना पसंद करते हैं। एक ग्रुप में कम से कम 3 से 4 कंगारू इकट्ठा होकर रहते ही हैं। कई बार एक ग्रुप में 100 तक कंगारू भी हो सकते हैं।

14. कंगारू 6 से 8 साल तक जीते हैं। औसतन एक कंगारू का जीवनकाल 6 वर्षो का होता हैं।

15. ऑस्ट्रेलियाई एयरलाइन Qantas कंगारू को अपने प्रतीक के रूप में इस्तेमाल करती हैं।

16. मादा कंगारू अपने होने वाली संतान का लिंग भी निर्धारित कर सकती हैं। यहाँ तक की वह अपने गर्भकाल अवस्था में देरी भी पैदा कर सकती हैं, जब उसे लगे की आसपास का वातावरण उसके होने वाले बच्चे को जीवत रहने के लिए ठीक नहीं हैं।

17. कंगारू का गर्भकाल बहुत छोटा होता हैं, यह मात्र 30 से 35 दिनों तक का होता हैं।

18. इतने कम दिनों का गर्भकाल होने के कारण कंगारू का शिशु अपूर्ण ही पैदा होता हैं और पैदा होते ही तुरंत वह अपनी माँ के पेट पर बनी थैली में चला जाता हैं। और जोई यानि की शिशु माँ के पेट की थैली में कई महीनो तक रहता हैं और धीरे-धीरे विकसित हो जाता हैं।

19. कंगारू का बच्चा जब माँ की थैली में विकसित हो रहा होता हैं, जब कभी भी उसे डर लगता हैं तो वह अपना सिर माँ के पेट पर बनी थैली से बाहर निकालता रहता हैं।

20. कंगारू का बच्चा लगभग 9 महीने तक होने के बाद धीरे-धीरे थोड़े समय के लिए थैले के बाहर निकलने लगता हैं।

21. कंगारू शुष्क प्रदेशो में रहना पसंद करता हैं, इसलिए इन स्थानों पर बार-बार सूखा पड़ता रहता हैं। इसलिए कंगारू पूर्ण रूप से विकसित बच्चे को जन्म नहीं देते हैं। इसलिए इसके बच्चे का 2 चरणों में विकास होता हैं, मादा की कोख में थोड़ा विकास और बाकी का विकास मादा के पेट पर बनी थैली में।

22. जब मादा कंगारू को अपने बच्चे के लिए कोई ख़तरा महसूस करती हैं तो अपने अपने बच्चे को पेट पर बनी थैली में छुपा लेती हैं।

23. सभी कंगारू कंही आने-जाने के लिए कूदते रहते हैं, एक कंगारू 20 से 30 घंटे की रफ़्तार से दूरी तय करता हैं। लेकिन ख़तरा महसूस होने पर यह 65 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आगे कूद कर रास्ता तय कर सकते हैं। वे एक ही छलांग से 30 फीट की दूरी तय कर सकते हैं।

24. कंगारू की पूँछ उन्हें कूदने में बहुत मदद करती हैं। कंगारू की पूँछ उनके लिए पांचवे पैर की तरह काम करती हैं।

25. कंगारू के पिछले पैर बड़े होते हैं और आगे के 2 पैर छोटे होते हैं, जो देखने पर उनके हाथ जैसे लगते हैं। यही कारण है की 4 पैर होने के कारण भी कंगारू दुसरे स्तनधारी जीवो से अलग हैं।

26. कंगारू के पिछले 2 टाँगे बहुत ज्यादा मजबूत होते हैं। पूँछ ज्यादा लम्बी और मांसल होती हैं। कंगारू पूँछ की मदद से ही अपना बैलेंस बनाये रखते हैं।

27. कंगारू का सिर छोटा होता हैं।

28. ऑस्ट्रेलिया में मनुष्यों से भी ज्यादा कंगारू रहते हैं। इसलिए इसे ऑस्ट्रेलिया का राष्ट्रीय प्रतीक माना जाता हैं कंगारू का बच्चा 9 महीने के होने के बाद धीरे-धीरे थोड़े समय के लिए थैले के बाहर निकलने लगता हैं। इसलिए ऑस्ट्रेलियाई डाक स्टाम्प, सिक्को और एयरलाइन्स के चिन्ह में इसका प्रयोग किया जाता हैं।

29. हर नर कंगारू का एक अपना क्षेत्र होता हैं, जब कोई दूसरा नर कंगारू उसके इलाके में अतिक्रमण करने की कोशिश करता हैं तो दोनों नरों के बीच लड़ाई होती हैं। पूँछ को वे पांचवे पैर की तरह इस्तेमाल करके जमीन पर खड़े हो जाते हैं और एक दुसरे को अपने पैरो से हमला करते हैं।

30. कंगारू की पिछली दोनों टाँगे बहुत ज्यादा मजबूत होती हैं और उनके पैर के बीच वाली ऊँगली का नाखून भी काफी लम्बा और तेज़ होता हैं। इसलिए अगर कंगारू जब पैरो से किसी को मारे तो वह सामने वाले प्रतिद्वंदी का पेट बीच वाली ऊँगली के नाखून से चीर सकता हैं। लेकिन जब 2 नर कंगारू आपस में लड़ते हैं तो उनके पेट की चमड़ी ज्यादा मोटी और सख्त होती हैं, जिससे उन्हें इस तेज़ नाखून से सुरक्षा मिलती हैं।

31. कंगारूओं को खाने वाले जानवर ऑस्ट्रेलिया में बहुत कम पाए जाते हैं। क्योंकि जब मनुष्य ऑस्ट्रेलिया में पहुचे तो उन्होंने परभक्षी जानवरों का शिकार करके उन्हें खत्म कर दिया। लेकिन आज के समय में कांगारूओं को सबसे ज्यादा ख़तरा मनुष्यों से ही रहता हैं। क्योंकि मनुष्य कंगारू का शिकार उसका मीट बना कर खाने के लिए करते हैं।

कंगारू का नाम कंगारू क्यों रखा गया?

कंगारू का नाम कंगारू क्यों पड़ा, इससे जुडी एक रोचक कहानी हैं। जब कप्तान जेम्स कुक और प्रकृतिविद जोसेफ बैंक्स ऑस्ट्रेलिया के जंगलो में घूम रहे थे, तो उन्होंने कंगारूओं को घास चरते हुए देखा। उन्होंने इन जानवरों का नाम जानने के लिए स्थानीय निवासियों से इसके बारे में पूछा। स्थानीय निवासियों को कुक और बैंक्स की बात समझ नहीं आ रही रही थी। उन्होंने अपनी भाषा में कहा, “कंगारू” जिसका मतलब यह था की हम आपकी बात समझ नहीं पा रहे हैं। लेकिन बैंक्स और कुक को यह लगा की इस जानवर का नाम कंगारू हैं। इसलिए उन्होंने अपनी रिपोर्ट में इसे कंगारू लिख दिया। और जब वह यूरोप गये तो सभी यूरोपीय लोगो को इसे कंगारू नाम का जानवर बताया। फिर इस जानवर का नाम कंगारू पड़ गया।

जब कंगारू को यूरोपीय लोगो ने पहली बार देखा तो उन्हें यह बहुत ही विचित्र जानवर लगा। एक यूरोपीयन ने इसका वर्णन ऐसे किया की इसका सिर हिरण की तरह हैं, यह मनुष्यों की तरह 2 टांगो पर खड़ा हो सकता हैं और इसकी चाल मेंढक की तरह होती हैं।

Related Post that You May also Like :- 

जिराफ़ के बारे में रोचक जानकारी और तथ्य। 

ऊँट के बारे में रोचक जानकारी और तथ्य। 

पेंगुइन के बारे में रोचक जानकारी और तथ्य।

पंछियों के बारे में रोचक जानकारी।

जानवरों और जीव-जंतुओं से जुड़े 16 मजेदार रोचक तथ्य।



Related posts:
जानिए कोका कोला के बारे में रोचक तथ्य.
पहले इन मशहूर ब्रांड्स का नाम कुछ और था, आइए जानते हैं.
जानिए पंछियों के बारे में रोचक जानकारी.
जानिए फेसबुक के मजेदार रोचक तथ्य.
जिराफ़ से जुड़े रोचक तथ्य और मजेदार जानकारी जरूर जानिए।
जानिए जानवरों और जीव-जन्तुओं के 16 मज़ेदार रोचक तथ्य।
शुतुरमुर्ग के बारे में रोचक जानकारी और तथ्य।
25 मजेदार रोचक तथ्य जिनके बारे में शायद ही आप जानते हो।
अमरुद के बारे में रोचक जानकारी और तथ्य और फायदे जानिए।
जर्मनी के बारे में 39 रोचक, मजेदार एवं ज्ञानवर्धक जानकारी और तथ्य।
सैमसंग के बारे में रोचक जानकारी और तथ्य जरूर पढ़े।
उड़ने वाली गिलहरी के बारे में 27 रोचक मज़ेदार बातें और तथ्य।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *