कद्दू के बीज खाने के फायदे जरूर पढ़े।

कद्दू के बीज खाने के फायदे

क्या आपको पता हैं की कद्दू के बीज खाने से सेहत को ढेर सारे फायदे होते हैं। जी हाँ कद्दू के बीज के फायदे बहुत हैं। Health Benefits of Pumpkins Seeds in Hindi.

ज्यादातर लोग सब्जियों के छिलके और बीजों को बेकार समझ कर फ़ेंक देते हैं। जैसे की कद्दू की सब्जी बना रहे तो उसके बीज को कूड़ेदान में फेंक दिया जाता हैं। लेकिन क्या आपको पता हैं की यह बीज आपके सेहत के लिए कितने ज्यादा फायदेमंद होते हैं? आइये जानते हैं कद्दू के बीजो को क्यों खाना चाहिए? इससे सेहत को क्या-क्या लाभ हो सकते हैं।

कद्दू के बीज खाने के फायदे

टेंशन और डिप्रेशन को दूर करता हैं

कद्दू के 1 ग्राम बीज में करीब 2 मिलीग्राम Tryptophan प्रोटीन होता हैं जो अच्छी नींद लाने के लिए जरूरी होता हैं। रिसर्च बताते हैं की ग्लूकोज़ के साथ कद्दू के बीज का सेवन किया जाये तो आपको अच्छी नींद आती हैं। ग्रामीण इलाको में थकान, चिंता और डिप्रेशन से पीड़ित लोगो को कद्दू के बीजो को चीनी के साथ मिक्स करके खाने के लिए दिया जाता हैं। यह टेंशन, डिप्रेशन और चिंता से मुक्ति दिलाता हैं।

पीरियड्स से सम्बंधित समस्याओं में लाभकारी

एक रिपोर्ट के अनुसार जिन स्त्रियों को कद्दू के बीजो से निकले तेल (2 ml.) का सेवन 12 हफ्ते तक कराया गया। उन्हें मासिक धर्म के समय होने वाली समस्याएं जैसे की ब्लड प्रेशर का बढना, हॉर्मोन्स की कमी होना, कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना आदि प्रोब्लम कम हुई। दिल की बिमारियों और ब्लड सर्कुलेशन को सही रखने में कद्दू के बीज का तेल बहुत ही लाभकारी माना जाता हैं।

दिल और लीवर के लिए अच्छा

अलसी और कद्दू के बीजो को एक साथ बराबर मात्रा में मिला कर (करीब 2 ग्राम) प्रतिदिन एक बार खाना चाहिए। ऐसा कहा जाता हैं की इससे लीवर की कमजोरी और ह्रदय के रोग दूर होते हैं। जर्नल फूड केमिस्ट्री एंड टोक्सीकोलोगी में प्रकाशित साल 2008 की एक रिपोर्ट इस तरह के तथ्यों को सही मानती हैं।

जोड़ो के दर्द और गठिया की बीमारी में फायदेमंद

वर्ष 1995 में प्रकाशित एक रिपोर्ट में यह बताया गया की Drug indomethacin जो आर्थराइटिस के मरीजों को दी जाती हैं। वैसा ही प्रभाव कद्दू के बीज भी करते हैं। साथ ही इस ड्रग्स के मुकाबले कद्दू के बीज में कोई साइड-इफ़ेक्ट भी नहीं होता हैं।

प्रोस्टेट को बढ़ने से रोकता हैं

कद्दू के बीज खाने से प्रोस्टेट का बढ़ना रूक जाता हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार कद्दू के बीज से निकले तेल का सेवन करने वाले लोगो में प्रोस्टेट की वृद्धि में कमी पायी गयी। इसलिए प्रोस्टेट बढ़ने से परेशान रहने वाले मरीजों को रोजाना 4 से 5 ग्राम कद्दू के बीजो का सेवन जरूर करना चाहिए।

किडनी स्टोन और पत्थरी में फायदेमंद

अमेरिकन जर्नल में साल 1987 में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक़ जिन बच्चों के पेशाब की जांच में कैल्शियम ऑक्सालेट पार्टिकल्स पाए गये, उनकी डाइट में कद्दू के बीजों को शामिल किया गया। जिससे उनकी समस्या को काफी हद तक कम होते देखा गया। कैल्शियम ऑक्सालेट किडनी में स्टोन बनाते हैं।

पेट के कीड़े मारे

मॉडर्न साइंस बताती हैं की इन चमत्कारी कद्दू के बीजो को चबा चबा कर निगलने से पेट और छोटी आंत के परजीवी नष्ट हो जाते हैं। आयुर्वेदिक जानकार भी कद्दू के बीज को पेट के कीड़े मारने के लिए बहुत ही प्रभावकारी मानते हैं।

हाथ-पैर की जलन दूर करे

हाथ पैर में अगर जलन हो रही हैं तो कद्दू के बीजो को पीसकर उसका लेप जलन वाली जगह पर लगाये। जलन से तुरंत राहत मिलती हैं। जब हाथ पैरों पर लगाया गया लेप सूख जाये तो जलन वाले हिस्सों को नमक के घोल से धो ले। इससे बहुत ही जल्दी आपको आराम मिल जाता हैं।

हाई ब्लड प्रेशर और हाइपरटेंशन दूर करे

कद्दू के बीजो में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में कारगर सिद्ध होते हैं। हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को कद्दू के बीज जरूर खाना चाहिए। इससे हाइपरटेंशन से भी राहत मिलती हैं।

जख्मो को जल्दी भरे

शरीर के किसी हिस्से पर घाव या किसी भी तरह कर इन्फेक्शन हो गया हैं तो उन जगहों पर कद्दू के सूखे बीजो का पाउडर या ताज़े बीजो का रस निकाल कर लगाये। इससे आपको बहुत जल्दी आराम मिलता हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...