करी पत्ता (मीठी नीम) के फायदे.

करी पत्ते के फायदे. Benefits of Curry Leaves in Hindi.

मीठी नीम जिसे करी पत्ता भी कहा जाता हैं, ज्यादातर भारत में पकवानों में तड़का लगाने के लिए इस्तेमाल की जाती हैं। खास करके दक्षिण भारत में ज्यादातर व्यंजनों को बनाने हेतु तड़के में करी पत्ते का प्रयोग किया ही जाता हैं। क्योंकि करी पत्ता यानि मीठी नीम को भोजन में डालने से एक तो भोजन का स्वाद और भी ज्यादा बढ़ जाता हैं और दूसरा इससे सेहत को ढेर सारे लाभ भी होते हैं। करी पत्ता खाने के फायदे, उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय आदि के बारे में जानिए।

करी पत्ते में 66% नमी, 6.1% प्रोटीन, 1% फैट, 16% कार्बोहाइड्रेट, 6.4% मिनरल्स पाए जाते हैं। आइये मीठी नीम यानि करी पत्ते (कढ़ी पत्ते) के फायदे जानते हैं। Health Benefits of Curry Leaves in Hindi.

करी पत्ता (मीठा नीम/कढ़ी पत्ते) खाने के फायदे :-

1. लीवर को फायदा पहुचाये

ज्यादा मात्रा में मछली का सेवन करना और शराब पीना लीवर के लिए हानिकारक होता हैं। करी पत्ता लीवर को ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से बचाता हैं, जो मछली और शराब में पाए जाने वाले नुकसानदायक तत्वों से लीवर को बचाता हैं। इसके लिए गर्म घी में करी पत्ते का रस मिलाये, फिर इसमें चीनी और काली मिर्च मिला कर इसे उबाले। अच्छी तरह से उबालने के बाद ठंडा करके इसे पिए। इससे लीवर को सुरक्षित रखने में मदद मिलती हैं।

जरूर पढ़े :- लीवर को हेल्दी रखने वाले बेस्ट फूड के बारे में जानिए।

2. डायरिया से छुटकारा दिलाये

करी पत्ते में एंटी-इन्फ्लेमेंट्री और एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। जो डायरिया होने की वजह माने जाने वाले पित्त को बनने से रोकता हैं। डायरिया से परेशान रोगी को करी पत्ता पीस कर उसे छाछ में मिला कर पिलाना चाहिए। अगर डायरिया बहुत ज्यादा परेशान कर रहा हैं तो दिन भर में 2 से 3 बार इस उपाय को अजमाने से डायरिया से बहुत जल्दी आराम मिलने लगता हैं।

3. अपच दूर करे

मसालेदार खाना, खराब भोजन और अन्य कारणों से होने वाली अपच को दूर करने में करी पत्ता बहुत ही ज्यादा उपयोगी हैं। इसके लिए घी को गर्म करे और उसमे थोड़ा सा जीरा, करी पत्ता, डेढ़ चम्मच सौंठ और थोड़ा सा पानी मिला कर उबाल ले। फिर इसे ठंडा होने के बाद पिए, इससे अपच की समस्या से तुरंत आराम मिलने लगता हैं। आप चाहे तो इस पेय में स्वाद बढ़ाने के लिए शहद भी मिला कर ले सकते हैं। यह अपच को दूर करने का बेहतरीन घरेलु नुस्खा हैं।

4. एनीमिया की बीमारी दूर करे

करी पत्ता आयरन और फोलिक एसिड का अच्छा स्रोत हैं। शरीर में फोलिक एसिड की कमी से आयरन अच्छी तरह से शरीर द्वारा अवशोषित नहीं हो पाता हैं, जिसके चलते एनीमिया की प्रॉब्लम हो जाती हैं। 100 ग्राम करी पत्ते में 930 ml आयरन पाया जाता हैं, साथ ही करी पत्ते को खाने से कैल्शियम और जरूरी विटामिन्स की भी प्राप्ति हो जाती हैं। करी पत्ते के सेवन से शरीर में हुई खून की कमी यानि एनीमिया की बीमारी से छुटकारा मिलता हैं। दही में मेथी दाना और करी पत्ता मिला कर डेढ़ घंटे तक भिगो कर रख दे, फिर रोजाना सुबह इसे खाये, इससे शरीर में ब्लड की मात्रा बढ़ने लगती हैं। आप चाहे तो करी पत्ते को खजूर के साथ मिला कर भी खा सकते हैं।

5. नाक और सीने में जमी कफ को कम करे

सूखे कफ और साइनस की वजह से होने वाली कफ की प्रॉब्लम बहुत ही ज्यादा गंभीर समस्या हैं। जिसके कारण साँस लेने में मुश्किल होने लगती हैं। करी पत्ते में विटामिन ए और सी के साथ ही एंटीबैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण पाए जाते हैं। जो कफ की समस्या से निजात दिलाते हैं। कफ दूर करने के लिए एक चम्मच करी पत्ते के पाउडर में एक चम्मच शहद मिला कर पेस्ट बना ले और दिन में 2 बार इसका सेवन करे। इससे कफ की समस्या के उपचार में काफी ज्यादा मदद मिलती हैं।

6. पीरियड्स में होने वाले दर्द को कम करे

मासिक धर्म में होने वाले दर्द से आराम पाने के लिए करी पत्ता का सेवन करना लाभदायक माना गया हैं। इसके लिए मीठे नीम यानि करी पत्ते को सूखा कर इसका पाउडर बना ले और सुबह-शाम गुनगुने पाने के साथ इसका सेवन करे। इससे पीरियड्स के दौरान होने वाले तेज़ दर्द को कम करने में काफी ज्यादा आसानी होती हैं। आप चाहे तो पुलाव, दाल आदि में करी पत्ते को मिला कर भी खा सकती हैं, इससे भी आपको काफी ज्यादा फायदा होगा।

7. डायबिटीज में लाभकारी

रिसर्च बताते हैं की करी पत्ता खून में ग्लूकोज़ को कम करने के साथ ही उसे काफी दिनों तक कण्ट्रोल में भी रखता हैं। यह बॉडी में इन्सुलिन की सक्रियता को प्रभावित करता करता हैं। रोजाना खाली पेट 3 महीने तक 6 से 8 करी पत्ते को खाने से ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मदद मिलती हैं। यह डायबिटीज के रोगियों के लिए काफी बढ़िया इलाज हैं। इससे एक तो ब्लड शुगर लेवल कम होगा, दूसरा डायबिटीज की वजह से बढ़ते हुए वजन को काफी हद तक कम करने में भी मदद मिलती हैं।

8. बालों को सफेद होने से रोके

करी पत्ते में विटामिन बी-1, बी-2 और बी-9 के अलावा विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होते हैं। साथ ही यह कैल्शियम और फॉस्फोरस का अच्छा सोर्स भी हैं। करी पत्ते के इस्तेमाल से बालों को सफेद होने से बचाने में मदद मिलती हैं। असमय हुए सफ़ेद बालों की समस्या को दूर करने के लिये रात भर बादाम को पानी में भिगो कर रखे। फिर सुबह होते ही बादाम के छिलके उतार ले और इन्हें 10 से 15 करी पत्ते और थोड़े से पानी के साथ मिला कर पीसकर पेस्ट बना ले। इस पेस्ट को स्कैल्प पर लगा कर मसाज करे। फिर कुछ देर बाद शैम्पू से धो कर बालों को साफ करले। हफ्ते में एक बार इस नुस्खे को अजमाने से बालों में फर्क दिखाई देने लगता हैं।

9. दिल के लिए फायदेमंद

रिसर्च के मुताबिक करी पत्ते के सेवन से ब्लड कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद मिलती हैं। करी पत्ते में एंटी-ऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो कोलेस्ट्रॉल को ऑक्सीडाइज होने से रोकते हैं। क्योंकि ऑक्सीडाइज कोलेस्ट्रॉल ही खराब कोलेस्ट्रॉल को बनाता हैं। जिससे कई तरह की दिल की बीमारियाँ होने का खतरा बढ़ जाता हैं। ऐसे में दिल की बिमारियों से बचने के लिए करी पत्ते को भोजन में मिला कर खाना चाहिए। आप चाहे तो करी पत्ते को कच्चा भी चबा सकते हैं, इसमें ऐसे गुण पाए जाते हैं जो दिल की बिमारियों को दूर करने में आपकी सहायता करते हैं।

10. मोटापा दूर करे

यह जानकर आपको अच्छा लगेगा की इन छोटी-छोटी जादुई पत्तियों में मोटापा दूर करने वाले गुण पाए जाते हैं। जी, हाँ करी पत्ता कई सारी बिमारियों के इलाज में उपयोगी हैं, ऐसे में यह मोटापे से भी छुटकारा दिलाने में मददगार होता हैं। वजन कम करना चाहते है तो रोजाना एक महीने तक करी पत्ते का सेवन करे। इससे वजन आसानी के साथ कम होने लगता हैं।






इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *