काले धब्बे वाला केला खाने के फायदे जानिए।

काले धब्बे वाला केला खाने के फायदे

जब केला बहुत ज्यादा पक जाता हैं तो इसपर काले-काले धब्बे दिखाई देने लगते हैं। ज्यादातर लोग इन धब्बो को देखकर ऐसा केला खाने से कतराते हैं, उनका यह मानना होता हैं की केला अब खराब होने लगा हैं। लेकिन क्या आपको मालूम हैं की यह काले धब्बे वाला केला सेहत के नजरिये से कितना ज्यादा लाभकारी हैं। क्योंकि जब केला पूरी तरह से पक जाता हैं तो इसके गुणों में काफी ज्यादा वृद्धि हो जाती हैं।

अध्यन यह बताते हैं की इन धब्बे वाले केलों में कैंसर से लड़ने की क्षमता होती हैं। इन्हें खाने से बॉडी की इम्युनिटी मजबूत बन जाती हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट से भी भरपूर होते हैं और यह वाइट ब्लड सेल्स को भी बढ़ाने का काम करते हैं। आइये जानते हैं काले धब्बे वाला केला खाने के फायदे (Benefits of Black Spotted Banana in Hindi)

काले धब्बे वाला केला खाने के फायदे :-

1. उर्जा का संचार करे

अगर आप वर्कआउट करने जा रहे हैं तो वर्कआउट से पहले ऐसे 2 केले जरूर खा ले। इससे आपको लम्बे समय तक एनर्जी मिलती रहेगी। इसमें ग्लाइसमिक इंडेक्स कम होता हैं और इसे मिनरल्स और विटामिन्स का खजाना माना जाता हैं। जिसकी वजह से आपको मसल्स क्रैम्प नहीं हो पाता हैं।

2. कब्ज़ से मुक्ति दिलाये

अगर आपको कब्ज़ की समस्या हैं तो काले धब्बे वाला केला जरूर खाए। इनमे फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं जो नेचुरल तरीके से आपके पेट को साफ़ करता हैं। जिससे आपको कब्ज़ से छुटकारा मिलता हैं

3. बॉडी का टेम्परेचर कण्ट्रोल करे

गर्मियों के दिनों में ऐसा केला खाने से आपका शरीर पूरी तरह से ठंडा हो जाता हैं। अगर आपको बुखार हो गया हैं तो आप इसे खाए, आपको काफी आराम मिलेगा।

4. पेट की बिमारियां दूर करे

इस तरह के केले को खाने से पेट की एसिडिटी, जलन, गैस आदि से आराम मिलता हैं। इसलिए केले को चीनी के साथ मिक्स करके खाए। इसमें मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं, जिसकी वजह से यह पचने में आसान होता हैं और शरीर के मेटाबोलिज्म रेट को सही बनाये रखता हैं।

5. डिप्रेशन से लड़े

इन केलों में tryptophan ज्यादा मात्रा में पाया जाता हैं, यह शरीर में जाकर सेरोटोनिन में परिवर्तित हो जाता हैं। इससे आप रिलैक्स महसूस करते हैं और आपका डिप्रेशन दूर होता हैं। इसे खाने से आप दिनभर खुश रहते हैं क्योंकि यह आपको ख़ुशी प्रदान करता हैं। इसलिए डिप्रेशन दूर भगाना चाहते हैं तो ऐसे काले धब्बे वाले केले जरूर खाए।

6. ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल करे

केले को पोटैशियम का बेस्ट सोर्स माना गया हैं, इसमें सोडियम कम मात्रा में पाया जाता हैं। यही कारण हैं की केले को खाने से ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल में रहता हैं। इसके अलावा यह शरीर में पानी की कमी भी नहीं होने देता हैं। केला खाने से हार्ट अटैक और स्ट्रोक होने की सम्भावना भी काफी कम हो जाती हैं।

7. खून बढ़ाता हैं

केले को खाने से शरीर को आयरन की प्राप्ति होती हैं, जिससे हीमोग्लोबिन में वृद्धि होती हैं। सरल शब्दों में कहा जाये तो केले को खाने से शरीर में खून की बढ़ोतरी होती हैं। ऐसे में खून की कमी यानि की एनीमिया की बीमारी से जूझ रहे मरीजों को केला जरूर खाना चाहिए।

8. एसिडिटी दूर करे

काले धब्बे वाले केलों में एंटी-एसिड गुण पाए जाते हैं, जिसकी वजह से सीने की जलन और एसिडिटी से छुटकारा मिलता हैं। अगर आपको एसिडिटी हो गयी हैं तो इसके सेवन से आपको तुरंत आराम मिलेगा।

9. पीरियड्स में फायदेमंद

अगर पीरियड्स के दौरान आपको तनाव महसूस हो रहा हैं या फिर आपका मूड ख़राब हो रहा हो तो आप इस तरह के केले को जरूर खाए। इससे ब्लड शुगर लेवल सही बना रहता हैं। इसे खाने से आप रिलैक्स फील करेंगी, क्योंकि इसमें विटामिन बी पाया जाता हैं जो आपके मूड को सही बनाता हैं।

10. कैंसर से बचाए

जापान में किये गये रिसर्च के मुताबिक जिन केले के छिलकों पर काले रंग के धब्बे दिखाई देते हैं, उनमे TNF नाम का रसायन प्रचुर मात्रा में होता हैं, जिसे ट्यूमर नेक्रोसिस फैक्टर कहा जाता हैं। इसके सेवन से शरीर में कैंसर पैदा करने वाले सेल्स से लड़ने में मदद मिलती हैं।

11. अल्सर में फायदेमंद

अगर आपके पेट में अल्सर हो गया हैं तो आप काले धब्बे वाले केलो को खा सकते हैं। यह पेप्टिक अल्सर में आराम दिलाएगा।




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

गुड़ खाने से क्या लाभ होता हैं?
ज्यादा कॉफ़ी पीने के नुकसान.
करेला खाने से होते हैं यह कमाल के फायदे
चिकन पॉक्स का उपचार ऐसे करे.
सफ़ेद,मजबूत और चमकदार दांतों के लिए 15 बेहतरीन टिप्स.
पिस्ता खाने के फायदे – Benefits of Pistachio in Hindi.
अंडे क्यों खाने चाहिए? इससे शरीर को क्या लाभ होते हैं?
जानिए पेशाब का रंग क्या कहता हैं?
चुकंदर का जूस ज्यादा पीने के नुकसान क्या हैं और इसे कितना पीना चाहिए?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *