किन चीजों को कभी भी एक साथ नहीं खाना चाहिए?

किन चीजों को एक साथ कभी नहीं खाना चाहिए?

कई बार हम हम खाने में ऐसी कई चीजों को एक साथ मिला कर खा लेते हैं, जिससे सेहत को नुकसान होने लगता हैं। आयुर्वेद के अनुसार खाना ऐसा होना चाहिए जिसमे थोड़ा घी हो, वह हल्का हो और थोड़ा गर्म हो। ऐसा भोजन आसानी से पचने वाला माना गया हैं। लेकिन कई बार ऐसी 2 चीजों को कभी भी एक साथ मिला कर नहीं खाना चाहिए, क्योंकि इससे आपको हानि ही होती हैं। आइये जानते हैं की किन चीजों को एक साथ मिला कर नहीं खाना चाहिए? किन चीजों को एक साथ मिलाकर खाना सही या गलत हैं?

किन चीजों को एक साथ मिला कर नहीं खाना चाहिए और किन चीजों को खाना चाहिए?

खाना खाने के बाद चाय पीना चाहिए या नहीं ?

खाना खाने के बाद चाय पीना नहीं चाहिए। यह मिथ हैं की भोजन करने के बाद चाय पीने से पाचन बढ़ता हैं। लेकिन आप ग्रीन टी, काहवा या सौंफ, दालचीनी, अदरक आदि की बिना दूध वाली चाय को पी सकते हैं।

क्या मछली के साथ दूध पीना चाहिए?

नहीं, मछली के साथ कभी भी दूध नहीं पीना चाहिए। आयुर्वेद के अनुसार अगर आप मछली खाने के बाद दूध पीते हैं तो आपको leukoderma हो सकता हैं। Leukoderma एक ऐसी बिमारी हैं जिससे शरीर पर सफ़ेद चकत्ते पड़ जाते हैं। कभी भी दूध पीने के बाद मछली नहीं खाना चाहिए और इसी प्रकार मछली खाने के बाद भी दूध नहीं पीना चाहिए, इससे आपको स्किन की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं।

क्या मछली के साथ दही खाना सही रहेगा?

नहीं मछली के साथ दही भी नहीं खानी चाहिए। क्योंकि दही की तासीर ठंडी होती हैं और मछली की तासीर काफी गर्म होती हैं। ऐसे में इन दोनों को एक साथ खाने से आपको गैस, एलर्जी और स्किन से सम्बंधित बीमारियाँ हो सकती हैं। दही के अलावा शहद को भी नहीं खाना चाहिए।

खाना खाते समय पानी पीना सही हैं या गलत?

खाना खाते समय पानी नहीं पीना चाहिए। खाना लम्बे वक़्त तक पेट में रहेगा तो ज्यादा पोषण देगा। अगर आप पानी ज्यादा पियेंगे तो खाना तुरंत नीचे चला जायेगा। अगर आपको पानी पीना ही हैं तो इसकी मात्रा कम करे और ठण्डे पानी की जगह थोड़ा गुनगुना या नार्मल पानी ही पिए।

यह भी पढ़े :- भोजन करते समय इन बातों का रखे ख्याल।

क्या खाने में लहसुन प्याज को शामिल करना चाहिए?

लहसुन और प्याज को अपने भोजन में जरूर शामिल करना चाहिए। लहसुन के सेवन से ख़राब कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम होता हैं और गुड कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ता हैं। यह बेहतरीन एंटीबायोटिक और एंटीबॉडीज का काम करता हैं। दूसरी ओर प्याज से भूख बढ़ती हैं और खून की नलियों के पास फैट नहीं जमता हैं। लहसुन प्याज को आप कच्चा या भूनकर कर खा सकते हैं। लेकिन कच्चा लहसुन खाना ज्यादा फायदेमंद होता हैं।

शराब के साथ बियर पीनी चाहिए या नहीं?

शराब पी कर आप बियर पी सकते हैं, लेकिन बियर पी कर आप शराब नहीं पी सकते हैं। वैसे भी 2 तरह के अल्कोहल को कभी भी मिक्स नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे बॉडी के मेटाबोलिज्म में गड़बड़ी आ जाती है और आपको रिएक्शन देखने को मिलेगा। कई बार लोग कई किस्म की शराब को एक साथ मिला कर भी पीते हैं, इससे उनको बचना चाहिए।

यह भी पढ़े :- शराब से जुड़े भ्रम और सत्य।

दही के साथ फल खाना चाहिए?

फल और दही में अलग-अलग एंजाइम पाए जाते हैं। इस वजह से यह हजम नहीं हो पाते हैं। इसलिए इन दोनों को कभी भी एक साथ नहीं खाना चाहिए। फ्रूट रायता आप कभी कभार खा सकते हैं, लेकिन इसे बार-बार खाने से बचना चाहिए।

ठंडा दूध पीना अच्छा हैं की गर्म दूध ?

बहुत ज्यादा ठंडा और बहुत ज्यादा गर्म दूध कभी नहीं पीना चाहिए। इसलिए आपको थोड़ा सा गुनगुना दूध ही पीना चाहिए। दूध को आप सोने से 1 घंटा पहले पिए, इससे आपको अच्छी नींद आएगी क्योंकि इसमें सेरोटोनिन पाया जाता हैं जो दिमाग को शांत करता हैं। हालांकि दूध को हमेशा अकेले ही पीना चाहिए। दूध पीते वक़्त इसमें चीनी नहीं मिलानी चाहिए, क्योंकि इससे आपको कफ की शिकायत हो सकती हैं। चीनी की बजाये आप शहद या मुनक्के का इस्तेमाल कर सकते हैं।

दूध के साथ तला-भूना खाना चाहिए?

दूध में मिनरल्स, विटामिन, लेक्टोस, शुगर और प्रोटीन पाए जाते हैं। दूध एक एनिमल प्रोटीन हैं उसके साथ तली भूनी चीजों को खाने से रिएक्शन हो सकता हैं। दूध के साथ नमक और नमकीन वाली चीजों को नहीं खाना चाहिए। नमक के मिलने से मिल्क प्रोटीन जम जाता हैं और उसके न्यूट्रीएंट्स में कमी आ जाती हैं। अगर आप लम्बे वक़्त तक दूध के साथ नमकीन चीजों का सेवन कर रहे हैं तो आपको स्किन के रोग भी हो सकते हैं। उड़द की दाल खाने के बाद भी दूध नहीं पीना चाहिए। तिल के साथ भी दूध नहीं लेना चाहिए।

कार्बोहायड्रेट के साथ प्रोटीन खाना चाहिए या नहीं?

पनीर, मीट, अंडे और नट्स जैसे प्रोटीन के साथ ब्रेड, आलू, दाल जैसे कार्बोहाईड्रेट का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि प्रोटीन को पचाने के लिए जब एंजाइम एक्टिवेट होते हैं तो यह एंजाइम कार्ब्स को पचाने वाले एंजाइम को रोक देते हैं, इससे इन्हें पचाने में मुश्किल का सामना करना पड़ता हैं। अगर लगातार इन्हें एक साथ खाया जाये तो आपको कब्ज़ भी हो जाएगी।

दूध के साथ फल फ्रूट खाने चाहिए या नहीं?

दूध के साथ फल कभी नहीं खाने चाहिए क्योंकि जब आप फल को दूध के साथ खाते हैं तो दूध में मौजूद कैल्शियम फलो के एंजाइम को सोख लेता हैं और फलो से मिलने वाला पोषण आपके शरीर को प्राप्त नहीं हो पाता हैं। संतरा, चेरी, अनानास और खट्टे फलो के साथ कभी भी दूध नहीं पीना चाहिए। व्रत के दिनों में लोग केला खा कर दूध पी लेते हैं जो की सही नहीं हैं। क्योंकि दूध और केला दोनों ही कफ को बढ़ाने वाले होते हैं। दोनों को एक साथ खाने से कफ़ में बढ़ोतरी होती हैं और पाचन भी सही तरह से नहीं हो पाता।

सर्जरी या ऑपरेशन के बाद दूध पीना चाहिए या नहीं?

कई लोग मानते हैं की सर्जरी या टांका लगने के बाद दूध नहीं पीना चाहिए क्योंकि इससे पस पड़ जाते हैं, जो की एक गलतफहमी हैं। दूध में मौजूद प्रोटीन शरीर की टूट-फूट को जल्दी से भरने में सहायता करता हैं। दूध दिन भर में आप कभी भी ले सकते हैं। सोने से कम से कम 1 घंटा पहले ही दूध पीना चाहिए। दूध और डिनर में भी एक घंटे का अन्तर जरूर रखे।

दूध और दही एक साथ खा सकते हैं ?

दूध और दही दोनों की तासीर अलग-अलग होती हैं। दही एक खमीर वाला फ़ूड हैं दोनों को मिला कर खाने से बिना खमीर वाला खाना खराब हो सकता हैं। इससे आपको एसिडिटी, गैस, अपच और उल्टी भी हो सकती हैं। इसी प्रकार दूध के साथ संतरे का जूस पीने से भी पेट में खमीर बनने लगेगा। अगर आप दूध और दही का सेवन करना चाहते हैं तो इनके बीच में कम से कम डेढ़ घंटे का अन्तर जरूर रखे। दूध और दही को एक साथ खाने से आपको स्किन से सम्बंधित बीमारियाँ होने का खतरा ज्यादा रहता हैं।

मीट के साथ दूध या पनीर खाए या नहीं?

दोनों ही प्रोटीन के सोर्स हैं इसलिए अंडे, मीट, पनीर, नट्स आदि को एक साथ खाने से बचना चाहिए क्योंकि दोनों कम्पलीट प्रोटीन हैं जो की काफी भारी होते हैं। इनको एक साथ खाने से पचाने में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं। मीट के साथ मैदा भी नहीं खाना चाहिए क्योंकि दोनों का पाचन भी अलग तरह से होता हैं।

मीठे फलो के साथ खट्टे फल खा सकते हैं?

आयुर्वेद की माने तो संतरा जैसे खट्टे फलो को केला जैसे मीठे फल के साथ नहीं खाना चाहिए। क्योंकि खट्टे फल मीठे फलो से मिलने वाले शुगर को पचने में रुकावट पैदा करते हैं। साथ ही इससे फलो के न्यूट्रीएंट्स में भी कमी आ जाती हैं।

क्या फल खाने के बाद पानी पी सकते हैं?

फलो को खाने के बाद तुरंत पानी को पिया जा सकता हैं। क्योंकि फलो में फाइबर ज्यादा और कैलोरी कम होती हैं। अगर फाइबर के साथ पानी मिल जाये तो शरीर की अच्छी तरह से सफाई हो जाती हैं। लेकिन यह बात तरबूज खाने पर विपरीत हो जाती हैं। इसलिए तरबूज खा कर कभी भी पानी नहीं पीना चाहिए। क्योंकि तरबूज में पहले से ही पानी ज्यादा होता हैं और अगर इसे खाने के बाद पानी पिया जाये तो पाचन रस डाइल्यूट हो जायेगा। इसे पचाना मुश्किल हो जायेगा और लूजमोशन भी हो सकते हैं। इसलिए कभी भी पानी पी कर तरबूज नहीं खाना चाहिए और तरबूज खा कर पानी भी नहीं पीना चाहिए।

खाना खाने के साथ छाछ पीना सही हैं या गलत?

छाछ को बेहतरीन पेय माना गया हैं। खाना खाने के साथ इसे पीने से पाचन अच्छी तरह से होता हैं। अगर आप छाछ में चुटकी भर काली मिर्च, जीरा और सेंधा नमक मिला दे तो यह और भी अच्छा परिणाम देगा। इसमें अच्छे बैक्टीरिया पाए जाते हैं जो शरीर के लिए लाभकारी माने गये हैं। इसलिए आप खाने के साथ छाछ को पी सकते हैं।

यह भी पढ़े :- छाछ (लस्सी) पीने के फायदे। 

पिज़्ज़ा, बर्गर, छोले भटूरे के साथ कोल्ड ड्रिंक पीना चाहिए या नहीं?

कोल्ड ड्रिंक में पाया जाने वाला एसिड और शुगर फ़ास्ट फ़ूड जैसे की बर्गर, पिज़्ज़ा, फ्रेंच फ्राइस, छोले भठूरे में मौजूद फैट के लिए अच्छा नहीं होता हैं। तला-भूना खाना एसिडिक होता हैं और कोल्ड ड्रिंक भी एसिडिक मानी जाती हैं, ऐसे में इन दोनों को एक साथ नहीं लेना चाहिए। कभी भी गर्म और ठंडी चीजों को भी एक साथ नहीं खाना चाहिए। गर्म-गर्म भठूरे और ठंडी कोल्ड ड्रिंक को एक साथ लेने से शरीर का तापमान खराब हो जाता हैं। नमकीन में मौजूद फैटी एसिड शुगर के पाचन में रुकावट पैदा करते हैं।

आलू के परांठो के साथ दही खाना चाहिए या नहीं?

परांठे और तलीभूनी चीजों के साथ दही नहीं खानी चाहिए, क्योंकि दही फैट को हजम करने में रूकावट पैदा करती हैं। इससे फैट से मिलने वाली एनर्जी शरीर को नहीं मिल पाती हैं। अगर आपको परांठे के साथ दही खाना ही हैं तो उमसे काली मिर्च, सेंधा नमक या आंवला पाउडर मिला ले। हालाँकि आप रोटी के साथ दही को बिना किसी परहेज़ के खा सकते हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

One thought on “किन चीजों को कभी भी एक साथ नहीं खाना चाहिए?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *