जानिए कोलाइटिस होने के लक्षण क्या होते हैं?

जानिए कोलाइटिस होने के लक्षण क्या होते हैं?

बड़ी आंत के अंदर सूजन या बड़ी आंत में सूजन होने पर कोलाइटिस की बीमारी हो सकती हैं। कोलाइटिस की बीमारी में मरीज़ के पेट में ऐंठन होने लगती, दस्त लग जाते हैं, बुखार होना और नींद की कमी होने लगती हैं। कोलाइटिस की बीमारी को कभी भी अनदेखा नहीं करना चाहिए, जब भी आपको कोलाइटिस के लक्षण नज़र आये तो तुरंत डॉक्टर से मिले। कोलाइटिस पेट की ऐसी बीमारी हैं जो जल्दी भी ठीक हो सकती हैं और कई बार इसे ठीक होने में कई साल भी लग जाते हैं। कोलाइटिस को अल्सरेटिव कोलाइटिस के नाम से भी जाना जाता हैं।

कोलाइटिस अमूमन बैक्टीरिया, पैरासाइट और वायरस के कारण होती हैं। कोलाइटिस के मरीजों को हमेशा घर का बना साफ़ भोजन ही करना चाहिए। इसके अलावा अच्छी तरह से धुली हुई साफ सब्जी जो की अच्छी तरह से पकी हुई हो, उसे ही खाना चाहिए। कोलाइटिस की बीमारी में सलाद और हाई फाइबर वाली सब्जियों को खाने से भी बचना चाहिए। आइये जानते हैं कोलाइटिस की बीमारी होने के लक्षण क्या होते हैं? Symptoms of Colitis disease in Hindi.

कोलाइटिस होने के लक्षण और संकेत :-

1. पॉटी में खून आना

कोलाइटिस की बीमारी ज्यादा बढ़ने पर मल के साथ खून आने लगता हैं, इसके अलावा मलाशय में दर्द, गुदाद्वार पर ऐठन युक्त दर्द आदि के लक्षण दिखाई देते हैं।

2. दस्त लगना

अगर किसी व्यक्ति को दिन भर में 5 बार से ज्यादा दस्त आ रहे हैं तो यह कोलाइटिस होने के लक्षण हो सकते हैं। इसमें रोगी को पानी और खून के दस्त भी होने लगते हैं।

3. शरीर में पानी की कमी हो जाती हैं

कोलाइटिस के मरीज़ को पानी ज्यादा मात्रा में पीना चाहिए। सीरियस हालत होने पर रोगी को ग्लूकोज पिलाए। बच्चे और बूढ़े लोगो में पानी की कमी ज्यादा होती हैं।

4. कई बीमारियाँ जल्दी ठीक ही नहीं पाती हैं

कोलाइटिस के लक्षण के रूप में यह पाया गया हैं की इससे रोगी का वजन लगातार कम होने लगता हैं, रोगी को पहले से हुई एनीमिया, कमजोर, पोषण की कमी, हेपेटाइटिस की बीमारी कभी ठीक ही नहीं हो पाती हैं।

5. लगातार बुखार आना

कोलाइटिस की बीमारी में मरीज़ को तेज़ गर्मी महसूस होती हैं और उसे 38.5 डिग्री सेल्सियस का बुखार हो सकता हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *