गर्भावस्था के दिनों में बादाम खाने से होते हैं यह गजब के फायदे।

गर्भावस्था के दिनों में बादाम खाने से होते हैं यह गजब के फायदे।

गर्भवती महिला को अपनी डाइट में सब्जियां, फल, अंडे, मीट-मछली, साबुत अनाज, दालें और सूखे मेवों को जरूर शामिल करना चाहिए। क्योंकि इनमे कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन आदि भरपूर मात्रा में होते हैं। जब प्रेगनेंसी के समय ड्राई फ्रूट्स खाने की बात हो रही हैं तो गर्भवती महिला को बादाम जरूर खाना चाहिए।

गर्भवती स्त्री बादाम को किसी भी तरह से खा सकती हैं। वह चाहे तो बादाम वाला दूध भी पी सकती हैं या फिर बादाम का मक्खन भी खा सकती हैं। क्योंकि बादाम चाहे किसी भी रूप में खाया जाये, लेकिन यह प्रेग्नेंट वुमन को लाभ ही पहुंचाता हैं। बादाम पोषण से भरपूर होता हैं जो न सिर्फ गर्भवती महिला के लिए फायदेमंद हैं, बल्कि उसके होने वाले बच्चे के विकास में भी मददगार हैं। आइये जानते हैं गर्भावस्था के दिनों में बादाम खाने से क्या-क्या लाभ होते हैं। Health Benefits of Eating Almond in Pregnancy Period (Tips in Hindi.)

गर्भावस्था के दिनों में बादाम खाने के फायदे :-

■ होने वाले बच्चे को एलर्जी होने का ख़तरा कम करे

गर्भावस्था के समय बादाम और मूंगफली जैसे मेवों को खाने से होने वाले बच्चे में एलर्जी होने का ख़तरा काफी कम हो जाता हैं। इसमें विटामिन ई होता हैं जो गर्भावस्था के दौरान होने वाले बच्चे में अस्थमा की बीमारी को होने से रोकता हैं।

■ मेटाबोलिज्म तेज़ बनाये

बादाम मेटाबोलिज्म रेट को तेज़ बनाता हैं। जिन स्त्रियों को गर्भावस्था के समय मोटापा और डायबिटीज होने का ख़तरा ज्यादा होता हैं, उन्हें बादाम जरूर खाना चाहिए। बादाम में पाए जाने वाले कार्बोहाइड्रेट्स और डाइट्री फैट टेंशन, सूजन और ब्लड शुगर लेवल को कम करने का काम करते हैं। जिससे माँ और उसके होने वाले बच्चे को लाभ होता हैं।

■ मोटापा होने से बचाए

गर्भावस्था के दिनों में वजन बढ़ने की समस्या ज्यादा रहती हैं। इसके लिए एक रिसर्च की गयी जिसमे 20 गर्भवती महिलाओं को शामिल किया, जिनका वजन तेज़ी के साथ बढ़ रहा था। उन्हें प्रतिदिन 2 बादाम खाने के लिए दिए गये। बादाम को खाने के बाद भूख बढाने वाले हॉर्मोन ग्रिल को कम करने और भूख घटाने वाले हॉर्मोन लेप्टिन को बढ़ाने में मदद मिली। इससे यह ज्ञात हुआ की बादाम खाने से न सिर्फ भूख को कम करने में मदद मिलती हैं, बल्कि यह वजन को बढ़ने भी नहीं देता हैं।

■ होने वाले बच्चे को आयरन प्रदान करे

गर्भवती महिला जब बादाम खाती हैं तो उसे आयरन की प्राप्ति होती हैं। गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला को आयरन की बहुत ज्यादा जरूरत होती हैं। इसके लिए गर्भवती महिला को प्रतिदिन बादाम का सेवन करना चाहिए। गर्भवती स्त्री को गर्भ में पल रहे बच्चे के विकास के लिए रोजाना 300 मिलीग्राम आयरन की जरूरत पड़ती हैं। जिसे बादाम खा कर पूरा किया जा सकता हैं।

■ फोलिक एसिड का अच्छा स्रोत

बादाम को फोलिक एसिड का भण्डार माना जाता हैं। भ्रूण के सही विकास के लिए फोलिक एसिड की जरूरत होती हैं। यह बच्चे के दिमाग और न्यूरोलॉजीकल सिस्टम को विकसित करने का काम करता हैं। यह होने वाले बच्चे में शारीरिक समस्याओं को रोकने के लिए न्यूरल ट्यूब के दोष को कम करता हैं। प्रेगनेंसी के शुरुवाती दिनों से भी गर्भवती महिला को बादाम खाना शुरू कर देना चाहिए।




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

अच्छी सेहत के लिए यह हैं 10 तरह के जूस जरूर पिए.
रात में दही क्यों नहीं खाना चाहिए?
इन चीजों को कभी एक साथ मिला कर नहीं खाना-पीना चाहिए.
डायबिटीज (मधुमेह) से जुड़े भ्रम और सत्य।
शुगर फ्री ड्रिंक पीने के नुकसान.
सूप पीने के 10 बेहतरीन फायदे जरूर पढ़े।
गठिया की बीमारी होने पर क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए?
संतरे के जूस में चुकंदर का रस मिला कर पीने के फायदे।
लहसुन की चाय पीने से होते हैं यह गजब के फायदे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *