गर्भावस्था में आप यह फल बिना किसी हिचक के खा सकती हैं।

गर्भावस्था में आप यह फल बिना किसी हिचक के खा सकती हैं।

गर्भवती होने पर महिलाएं किसी भी चीज़ को खाने-पीने को लेकर बहुत ज्यादा सोच-विचार करती हैं। और यह जरूरी भी हैं, क्योंकि गर्भवती महिला को न सिर्फ अपनी सेहत का ख्याल रखने की जरूरत हैं, बल्कि उसे अपने होने वाले बच्चे की सेहत का भी ध्यान रखना पड़ता हैं। तो ऐसे में ज्यादातर महिलाओं का यही सवाल रहता हैं की प्रेगनेंसी में कौन से फलों को खाना सेफ यानि की सुरक्षित हैं?

प्रेगनेंसी में पालक, ब्रोकोली, दही, लाल शिमला मिर्च, सोयाबीन, बीन्स, अंडा, ओटमील, गाजर आदि चीजों को जरूर खाना चाहिए। क्या आपको पता हैं की गर्भावस्था में कौन कौन से फल खाने चाहिए?

गर्भवती महिला को अनानास और पपीता नहीं खाना चाहिए, क्योंकि यह प्रेगनेंसी पीरियड में सेफ नहीं माने जाते हैं। क्योंकि इससे गर्भपात होने का खतरा रहता हैं। आइये जानते हैं ऐसे फलों के बारे में जिसे प्रेग्नेंट महिला बिना किसी हिचक के खा सकती हैं।

यह फल गर्भवती स्त्री बिना किसी हिचक के खा सकती हैं। क्योंकि यह फल गर्भावस्था में कोई नुकसान नहीं पहुचाते हैं और तो और इससे गर्भवती महिला और उसके होने वाले बच्चे को लाभ ही प्राप्त होता हैं। Which Fruits are safe in pregnancy (Tips in Hindi.)

प्रेगनेंसी पीरियड में आप यह फल बिना किसी परेशानी के खा सकती हैं

संतरा

संतरा बहुत ही रसीला फल हैं। यह खाने में खट्टा-मीठा होता हैं। और तो और गर्भवती महिलाओं को संतरा खाना भी अच्छा लगता हैं। इसमें विटामिन्स और मिनरल्स पाए जाते हैं जो गर्भ में पल रहे शिशु के विकास में मदद करते हैं।

एवोकाडो

एवोकाडो में फोलिक एसिड पाया जाता हैं। प्रेगनेंसी पीरियड में गर्भवती महिला को फोलिक एसिड की ज्यादा मात्रा में जरूरत होती हैं। तो प्रेगनेंसी के समय इस चमत्कारी फल को जरूर खाए।

बेरीज

हर तरह की बेरीज एंटीऑक्सीडेंट का खज़ाना होती हैं। इसलिए बेरीज को सुपर फूड की श्रेणी में रखा जाता हैं। बेरीज में आप चाहे स्ट्रॉबेरी, जामुन, चेरी, Blue Berry,  बेर जैसी बेरीज को प्रेगनेंसी के समय बिना किसी डर के खा सकती हैं।

आम

इसमें विटामिन ए और सी होता हैं। यह पाचन के लिए भी अच्छा माना जाता हैं। इसलिए गर्भवती महिलाओं को बिना किसी डर और हिचक के आम खाना चाहिए।

सेब

सेब में न्यूट्रीएंट्स और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होते हैं जो हर किसी के लिए फायदेमंद होता हैं।

केला

प्रेगनेंसी के समय कब्ज़ होने की समस्या होना आम बात हैं। केला खाने से पेट साफ़ होता हैं और ज्यादा परेशानी भी नहीं रहती हैं।

लीची

यह भी सुरक्षति फल माना गया हैं, जिसे आप प्रेगनेंसी में बिना किसी परेशानी के खा सकती हैं।

अमरुद

अमरुद एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी का खज़ाना हैं। जो माँ के साथ उसके होने वाले बच्चे के विकास में मदद करता हैं।

निम्बू

निम्बू पानी पीने से पाचन ठीक रहता हैं और उल्टी से निजात मिलती हैं। निम्बू शरीर से गन्दगी को भी साफ करता हैं।

मौसमी

मौसमी खाने से मतली आना बंद होता हैं। इस साइट्रस फल में ढेर सारा एंटीऑक्सीडेंट होता हैं जो पैदा होने वाले बच्चे के लिए भी अच्छा होता हैं।

कीवी

कीवी में विटामिन ए, ई, सी, पोटैशियम, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, फोलिक एसिड और डाइटरी फाइबर पाए जाते हैं। कीवी शरीर में आयरन को सोखने में भी मदद करता हैं।

तरबूज

तरबूज में मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते है और इसमें फाइबर भी बहुत ही अच्छी मात्रा में होता हैं। तरबूज प्रेगनेंसी में होने वाले मोर्निंग सिकनेस को दूर करने में भी मदद करता हैं। तरबूज सीने की जलन, हाथो और पैरो की सूजन, मसल्स cramp को दूर करने में मदद करता हैं और शरीर को हाइड्रेट रखता हैं। तरबूज़ में विटामिन ए, सी, बी6, मैग्नीशियम और पोटैशियम बहुत ही अच्छी मात्रा में होता हैं।

चीकू

चीकू गर्भावस्था में बहुत ही फायदेमंद होता हैं। चीकू में एल्क्ट्रोलाइट, विटामिन ए, कार्बोहाइड्रेट्स और उर्जा सही मात्रा में होते हैं जो स्तनपान करवाने वाली माओं के लिए भी अच्छा होता हैं। चीकू में गर्भवती महिला और उसके होने वाले बच्चे को ढेर सारे फायदे होते हैं। यह शरीर कोलेजन का उत्पादन बढ़ाता हैं, जिससे पेट से सम्बंधित परेशानियां जैसे की डायरिया और पेचिश से लड़ने में मदद मिलती हैं।

सीताफल (शरीफा)

चाहे शरीफा पुरे साल आपको न मिल पाए, क्योंकि यह एक मौसमी फल हैं जो की एक खास समय के दौरान ही आपको बाज़ार में मिलेगा। लेकिन अगर आप उस समय गर्भवती हैं, जिस समय यह फल आपको बाज़ार में आसानी से मिल रहा हैं तो आपको सीताफल जरूर खाना चाहिए। शरीफा में विटामिन ए और सी पाए जाते हैं जो होने वाले शिशु की आँखों, स्किन, बालों और बॉडी टिश्यू का विकास करने में मदद करते हैं। यह गर्भवती महिला को कब्ज़ होने से बचाता हैं और पेट दर्द को दूर करता हैं।

अनार

अनार गर्भवती महिला को प्रकृति का दिया हुआ वरदान हैं। इसमें कैल्शियम, एनर्जी, फोलेट, आयरन, प्रोटीन और विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। प्रेगनेंसी के समय अनार खाना और इसका जूस पीना दोनों ही फायदेमंद माने जाते हैं।




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

calendula (गेंदे) के तेल से होते हैं यह गजब के फायदे
पेट का फैट कम करने के 9 कारगर नुस्खे
रात में दही क्यों नहीं खाना चाहिए?
बच्चों को पीनट बटर खिलाने और खाने के फायदे.
बादाम वाला दूध पीने के फायदे.
तिल के अनमोल फायदे के बारे में जानिए।
जीरे और गुड़ का पानी पीने से होते हैं यह कमाल के फायदे।
क्या दांतों में टूथपिक का इस्तेमाल करना चाहिए?
जमीन पर सोने के फायदे जानकर, आप भी निचे जमीन पर सोने लगेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *