चन्दन के फायदे, घरेलु नुस्खे और उपाय जरूर पढ़े।

चन्दन के फायदे, घरेलु नुस्खे और उपाय जरूर पढ़े।

चन्दन का इस्तेमाल ज्यादातर पूजा पाठ के लिए किया जाता हैं। चन्दन से माथे पर तिलक किया जाता हैं। चन्दन से धुप, अगरबत्ती और पाउडर भी बनाया जाता हैं। चन्दन में एंटीबायोटिक गुण पाए जाते हैं जो हमें कई सारी बिमारियों से निजात दिलाता हैं। हिन्दू धर्म में चंदन की लकड़ी का विशेष महत्व हैं। यह बहुत ही ज्यादा पवित्र लकड़ी मानी जाती हैं, इसका प्रयोग हवन-यज्ञ आदि में किया जाता हैं। लेकिन क्या आपको चन्दन के फायदे के बारे में पता हैं? जी हाँ चन्दन न सिर्फ पूजा-पाठ के लिए उपयोगी हैं, बल्कि इससे स्वास्थ्य और सौन्दर्य दोनों को लाभ होते हैं। यहाँ तक की चन्दन का तिलक माथे पर लगाने भर से ही कई सारी बिमारियों से बचाव होता हैं।

क्योंकि दोनों आँखों के बीच में जहाँ चन्दन का तिलक लगाया जाता हैं, उस स्थान को अग्नि चक्र कहा जाता हैं। इस अग्नि चक्र को तीसरी आँख भी कहा जाता हैं। इसलिए माथे पर चन्दन का तिलक लगाने से हमारी तीसरी आँख सक्रिय हो जाती हैं। चन्दन ठंडा होता हैं, इसलिए यह कई सारी बिमारियों को दूर रखता हैं।

आइये आज के लेख में हम जानते हैं चन्दन से सेहत को होने वाले फायदे, इसके घरेलु नुस्खे और उपाय। Benefits of Sandalwood in Hindi.

चन्दन के फायदे, घरेलु नुस्खे और उपाय

बालों को स्वस्थ्य बनाता हैं

चन्दन का प्रयोग आप कंडीशनर के रूप में भी कर सकते हैं। यह बालों को मजबूत बना कर, उन्हें पोषण प्रदान करता हैं। इससे बाल चमकदार बनते हैं। नियमित रूप से इसका इस्तेमाल आप अपने बालों में करे, और बहुत जल्द ही आपको बालों को होने वाले फायदे नज़र आने लगेंगे।

शरीर को शीतलता प्रदान करे

चंदन में ऐसे गुण उपस्तिथ हैं जो शरीर को ठंडक प्रदान करते हैं। इसी वजह से इसका उपयोग चेहरे पर ठंडक पहुचाने के लिए किया जाता हैं। जिससे आपकी स्किन भी ग्लो करने लगती है और चेहरे की स्किन में कसावट भी आती हैं।

खुजली दूर करे

शरीर के किसी भी जगह पर खुजली होने पर चंदन के पाउडर में 1 चम्मच निम्बू का रस और हल्दी मिला कर लगाए। इस मिश्रण को लगाने से खुजली तो दूर ही होती हैं, साथ ही लालपन भी कम होने लगता हैं। चन्दन में एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज पाई जाती हैं। इसे हर्बल एंटी-सेप्टिक भी माना जाता हैं। इसलिए यह घाव और खरोंच को भी ठीक कर देता हैं।

टेंशन और अनीन्द्रा से मुक्ति दिलाये

नींद न आने की वजह जरूरत से ज्यादा सक्रिय दिमाग, टेंशन और थकान मानी जाती हैं। आयुर्वेद कहता हैं की माथे पर चन्दन से मालिश करने से तनाव के साथ ही अनिंद्रा से भी आराम मिलता हैं। एरोमाथेरेपी के दौरान चन्दन के तेल का प्रयोग टेंशन और थकान को दूर करने के लिए किया जाता हैं। तेल में पाए जाने वाले तत्व मष्तिक में सेरोटोनिन का उत्पादन करते हैं, जिससे पॉजिटिव एनर्जी का संचार होता हैं और टेंशन से छुटकारा मिलता हैं।

दांतों के लिए फायदेमंद

चन्दन के तेल में मसूड़ो को मजबूत बनाने की क्षमता होती हैं। इसलिए ज्यादातर दन्त मंजनो में इसका इस्तेमाल किया जाता हैं। इससे दांतों से सम्बंधित परेशानियों से सुरक्षा मिलती हैं।

सूजन कम करे

चन्दन में एंटी-सेप्टिक गुण पाए जाते हैं जो सूजन से आराम दिलाते हैं। बॉडी के कुछ खास अंग जैसे की गाल ब्लैडर और गुप्तांग में सूजन होने पर चंदन का इस्तेमाल करना लाभकारी रहता हैं।

मुहांसो से छुटकारा दिलाये

चेहरे पर कील-मुहांसे होने के बाद इसके दाग-धब्बे बन जाते हैं। चन्दन के पाउडर का लेप चेहरे पर लगाने से चेहरा साफ होता हैं। चन्दन का पेस्ट न सिर्फ चेहरे से मुहांसे दूर करता हैं, बल्कि यह स्किन को साफ करके उसे नमी प्रदान करता हैं। आधे चम्मच हल्दी पाउडर में 1 चम्मच चन्दन पाउडर मिला कर पेस्ट बनाये। इस पेस्ट को चेहरे पर कम से कम 15 से 20 मिनट तक लगाए। इससे चेहरे की रंगत निखरने लगती हैं और चेहरे के पिम्पल्स भी ख़त्म होने लगते हैं।

शरीर की दुर्गन्ध ख़त्म करे

चन्दन का प्रयोग शरीर की दुर्गन्ध को दूर करने के लिए किया जाता हैं। रोजाना चन्दन के पाउडर को पानी में मिला कर शरीर पर लगाने से पसीना कम आता हैं। इससे आप घंटो तक खुद को फ्रेश फील करते हैं।

शरीर का कालापन दूर करे

शरीर का अगर कोई हिस्सा काला पड़ गया हैं तो 2 चम्मच बादाम के तेल में 5 चम्मच नारियल का तेल और 4 चम्मच चन्दन का पाउडर मिक्स करे। फिर आप इस मिश्रण को काले पड़ गये हिस्से पर लगाए। इससे स्किन का कालापन दूर हो जायेगा और स्किन की चमक भी बढ़ेगी।

सिरदर्द से आराम दिलाता हैं

अगर आप घर से बाहर गये हैं और आपको सिरदर्द हो रहा हैं तो चन्दन आपके लिए लाभकारी साबित हो सकता हैं। चाइनीज़ एक्यूप्रेशर साइंस में माथे यानी की दोनों भोंहो के बीच की जगह को तंत्रिकाओं का नजदीकी बिंदु माना जाता हैं। इसलिए इस बिंदु पर मसाज करने से सिरदर्द से आराम मिलता हैं। अगर आप इस जगह पर चंदन लगाते हैं तो आपको ठंडक मिलती हैं, जिससे आपका सिरदर्द दूर हो जाता हैं।

ज़ख्म जल्दी भरे

इसमें एंटीबायोटिक गुण होते हैं जो किसी भी प्रकार के वायरस को ख़त्म करता हैं। किसी भी प्रकार के फोड़े-फुंसी, ज़ख्म आदि में चन्दन का इस्तेमाल करने पर यह उन्हें जल्दी से भरने में मदद करता हैं।

हाजमा दुरुस्त बनाता हैं

चन्दन पाचन क्रिया को सही रखता हैं। चन्दन का इस्तेमाल आप किसी भी रूप में कर सकते हैं। चाहे आप इसका तेल. लकड़ी, पाउडर किसी भी रूप में इस्तेमाल करे। यह स्नायुतंत्र और श्वसनतन्त्र को मजबूत बनाता हैं।

सकारात्मक उर्जा का संचार करे

ऐसा विश्वास किया जाता हैं की दोनों भौंहों के बीच में अवचेतन मन हैं, जो अलग-अलग प्रक्रिया का नेतृत्व करता हैं। इस चक्र के कारण आपके नेगेटिव विचारो के कारण आपके अन्दर नेगेटिव एनर्जी चली जाती हैं। इसको रोकने के लिए चन्दन बहुत लाभकारी साबित होता हैं। इसलिए माथे पर चन्दन का तिलक लगाया जाता हैं, ताकि नेगेटिव एनर्जी आपके शरीर में दाखिल न हो सके।




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

Behatar Digestion ke liye asaan tips.
वीट ग्रास (गेंहू के जवारे) के फायदे.
बच्चे को सर्दी-जुकाम से बचाए वरना हो जाएगी यह जानलेवा बीमारी.
काले चने खाने के फायदे.
गाजर का जूस पीने के फायदे.
मस्से ख़त्म करने के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।
पेट दर्द दूर करने के उपयोगी एवं आसान घरेलु नुस्खे और उपाय।
ज्यादा समय तक जांघ पर लैपटॉप रखकर काम करने के नुकसान।
पुदीने के तेल से होते हैं यह गज़ब के फायदे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *