जानिए अपने बारे में मनोविज्ञान से जुड़े हुए कुछ रोचक तथ्य।

जानिए अपने बारे में मनोविज्ञान से जुड़े हुए कुछ रोचक तथ्य।

Interesting facts of Psychology in Hindi. Human Nature Facts in Hindi. क्या आप अपने बारे में कुछ मनोविज्ञानिक तथ्यों को जानना चाहते हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे मज़ेदार रोचक तथ्य और बातें बनाने जा रहे हैं जो कई सारी रिसर्च से पता चली हैं। इन तथ्यों के जरिये आप अपने बारे में और अपने दिमाग के बारे में जान सकते हैं, की यह किसी परिस्तिथि में कैसे काम करता हैं? आइये जानते हैं मनोविज्ञान से सम्बंधित कुछ रोचक जानकारियां। Interesting Facts about You in Hindi.

आज हम आपको आपके बारे में ऐसे तथ्य बताएँगे जो आप भी नहीं जानते हैं। कहने का मतलब यह हैं की ज्यादातर इंसानों का दिमाग ऐसे ही काम करता हैं। उनका व्यवहार भी लगभग एक जैसा ही होता हैं, जब उन्हें किसी विशेष परिस्तिथि का सामना करना पड़े तो। जैसे की हिंदी फिल्म थ्री इडियट्स में Human Behavior के बारे में यह बताया गया की, दोस्त अगर एग्जाम में फेल हो जाये तो दुःख होता हैं, अगर वहीँ दोस्त एग्जाम में फर्स्ट आ जाये तो और भी ज्यादा दुःख होता हैं। इसी को human behavior कहा जाता हैं,  आइये इसके बारे में जानते हैं।

मनोविज्ञान से जुड़े कुछ रोचक तथ्य, जो आप से भी सम्बंधित हैं :-

1. आप एक समय पर कई सारे काम नहीं कर सकते हैं

कई सारे लोग यह सोचते हैं की वह एक ही समय पर कई सारे काम करने में माहिर हैं। लेकिन कई सारी रिसर्च यह बताती हैं की मनुष्य का  दिमाग एक ही समय पर सिर्फ एक ही काम को करने की कोशिश करता हैं। लेकिन कुछ छोटी मोटी फिजिकल एक्टिविटीज  इसके अपवाद हैं, जैसे की  सैर करते समय एक व्यक्ति दुसरे व्यक्ति से बात कर सकता हैं, इत्यादी।

जब कोई व्यक्ति एक काम कर रहा हो और उसी समय उसे दूसरा काम करना हैं, तो वह पहले वाले काम को छोड़कर दुसरे काम पर आसानी से फोकस कर सकता  हैं। लेकिन यह असंभव सी बात हैं की कोई व्यक्ति  एक ही समय पर कई सारे कामों पर फोकस कर सके।


2. आपको ऑनलाइन आर्टिकल पढ़ना अच्छा नहीं लगता हैं

हाँ यह बात एकदम सच हैं की आपको ऑनलाइन पढ़ना अच्छा नहीं लगता हैं। चाहे आप इस समय यह लेख अपने मोबाइल या कंप्यूटर पर ऑनलाइन ही पढ़ रहे हैं। लेकिन अगर आपको यह लेख अख़बार में पढ़ने को मिले तो आप इस लेख को ऑनलाइन पढ़ने बजाये अखबार में छपे होने की वजह से ऑफलाइन पढ़ना ज्यादा प्रेफर करेंगे।

क्योंकि स्क्रीन पर दिखाई देने वाले अक्षर आँखों को जल्दी थका देते हैं। चाहे ऑनलाइन मिलने वाली कोई जानकारी कितनी भी ज्यादा रोचक ही क्यों न हो या फिर लेख के अक्षर बड़े और आसानी से पढ़ने लायक ही क्यों न हो। लेकिन ज्यादातर लोगो की आँखें और  दिमाग ऑनलाइन पढ़ने के मामले में बहुत जल्दी अपना फोकस खो देती हैं और  ज्यादातर लोग किसी भी ऑनलाइन आर्टिकल को पूरा नहीं पढ़ते हैं। ज्यादातर लोग बस यही चाहते की लेख जल्दी से जल्दी ख़त्म हो जाये।


3. जब आप किसी आर्टिकल को पहली बार पढ़ते हैं तो उसे पढ़ने में हमेशा गलती कर देते हैं

यह बात एकदम सच हैं की जब कोई व्यक्ति किसी लेख को पहली बार पढ़ता हैं,  तो वह उस लेख को सही तरह से पढ़ने में गलतियाँ करने लगता हैं। ऐसा इसलिए होता हैं क्योंकि जो वाक्य आप पढ़ रहे होते हैं, उसमें  लिखे कुछ शब्दों को आप एक साथ मिक्स कर देते हैं या फिर अपने दिमाग से ही आने वाले शब्द की कल्पना कर लेते हैं। ज्यादातर लोग किसी भी लेख को पढ़ते समय उसमे लिखे वाक्यों को पूर्वानुमान लगा कर पढ़ने लगते हैं। जिसकी वजह से पहली बार किसी लेख को पढ़ने पर गलतियाँ होनी स्वाभाविक हैं। जैसे की यह वाक्य लिखा हैं “He lives in United States of Amsterdam”

पहली बार पढ़ने पर गलती होती ही हैं

 मैं यकीन के साथ कह सकता हूँ की आपमें से ज्यादातर लोगो ने “Amsterdam” की जगह “America” ही पढ़ा होगा, क्योंकि हम किसी भी पंक्ति को पूर्वानुमान लगाकर पढ़ने लगते हैं, जिसकी वजह से पहली बार किसी भी आर्टिकल को पढ़ते समय गलतियाँ होने लगती हैं। हालांकि आपमें से  कई लोग यह कहेंगे की हमने तो “Amsterdam” को अमेरिका न पढ़कर “Amsterdam” ही पढ़ा था। लेकिन दोस्तों यह बहुत ही छोटा सा वाक्य था, लेकिन अगर यही वाक्य किसी लम्बे आर्टिकल में लिखा गया होता तो आप इसे पढ़ने में गलती करते ही करते।


4. एक ही समय पर एक साथ मिलकर की जाने वाली गतिविधियों से आपके ग्रुप का रिश्ता मजबूत बनता हैं

क्या आपको पता हैं की एक साथ मिलकर एक ही समय पर किये जाने वाले काम आपके ग्रुप में विश्वास और प्यार को बढ़ाते हैं।

फैमिली वह अच्छी हैं जो Eat Together, Live Together

रिसर्च यह बताते हैं की जिन परिवारों के सदस्य एक साथ बैठकर बातें करते हैं, एक साथ मिलकर खाना खाते हैं, एक साथ मिलकर टी.वी. देखते हैं। उन परिवारों के सदस्यों का रिश्ता एक दुसरे के प्रति काफी मजबूत होता हैं। क्योंकि एक साथ मिलकर वह सभी लोग एक ही समय पर एक ही काम करते हैं, जिससे वह एक दुसरे से ज्यादा socially attach हो जाते हैं, जिससे उन्हें अपने परिवार के दुसरे सदस्यों की ख़ुशी के लिए अपनी इच्छाओं की भी कुर्बानी देने में कोई ज्यादा परेशानी महसूस नहीं होती हैं।


5. आप ज्यादा स्ट्रेस होने पर अच्छा परफॉरमेंस नहीं कर सकते हैं

यह एक मनोविज्ञानिक तथ्य हैं, जिसे आपको याद रखना चाहिए। अगर कोई व्यक्ति मानसिक रूप से बहुत ज्यादा दबाव और स्ट्रेस महसूस कर रहा हैं तो उसका दिमाग सही ढंग से काम नहीं कर सकता हैं। और तो और इस स्तिथि में वह बहुत ही बुरा परफॉर्म करेगा। इसलिए यह माना जाता हैं की अगर कोई बड़ी प्रतियोगिता में भाग लेने जा रहे हैं तो उससे एक दिन पहले आराम जरूर करना चाहिए। अपने आपको ब्रेक देना न सिर्फ सेहत के लिए अच्छा रहेगा, बल्कि इससे परफॉरमेंस भी काफी अच्छी होगी।


6. आप हालातों की बजाये दुसरे लोगो को ज्यादा दोष देते हैं

क्या आपको पता हैं अगर अपने मन मुताबिक़ कोई काम न हो पाए,  तो ज्यादातर लोग हालातों की बजाये दुसरे व्यक्ति पर दोष मढ़ देते हैं।

जैसे की अगर किसी व्यक्ति को ट्रेन पकडनी हैं और वह ऑटो में जा रहा हैं और सडकें टूटी हुई हैं। वह व्यक्ति लेट हो रहा हो तो, उस समय वह व्यक्ति सड़कों के टूटे होने के बजाये ऑटो ड्राईवर पर दोष लगाने लगता हैं,   की औटो ड्राईवर ऑटो को बहुत धीमा चला रहा हैं, इससे उसकी ट्रेन छूट जाएगी।

ऐसा इसलिए हैं क्योंकि हमारा दिमाग हालातों की बजाये सामने वाले व्यक्ति को दोषी मानने लगता हैं।


7. भ्रम की परिस्थिति में आप ज्यादा प्रयास करते हैं

भ्रम  प्रेणना देने का भी काम करती हैं। रिसर्च बताते हैं की अगर कोई व्यक्ति लक्ष्य जल्दी प्राप्त करना चाहता हैं तो भ्रम की स्तिथि होने पर वह उसे पाने के लिए और भी ज्यादा कोशिश करने लगता हैं।

Illusion

उदाहरण के रूप में अगर किसी रेस्टोरेंट में खाना खाने के बाद एक कूपन मिलता हैं और रेस्टोरेंट की शर्त यह हैं की 10 कूपन जमा करने पर  एक दिन का खाना मुफ्त में खा सकते हैं। तो ज्यादातर लोग उस रेस्टोरेंट में जल्दी जल्दी नहीं जाते हैं और 10 कूपन जल्दी से इकट्ठा भी नहीं करते हैं। लेकिन अगर किसी रेस्टोरेंट के कर्मचारी उस व्यक्ति के घर जाये और उसे 2 कूपन फ्री में दे दे और यह कहे की अगर आप हमारे रेस्टोरेंट में डिनर करेंगे तो हम डिनर के बाद आपको 1 कूपन देंगे, जब आपके पास 12 कूपन हो जायेंगे तो आप 1 दिन का डिनर मुफ्त में कर सकते हैं। तो इस स्तिथि में उस व्यक्ति को भ्रम पैदा हो जाता हैं। वह यह सोचने लगेगा की उसके पास तो already 2 कूपन आ ही गये हैं, बस अब जल्दी से जल्दी 10 और कूपन का इंतज़ाम करना हैं और 1 दिन का डिनर फ्री में करना हैं।

बस यही भ्रम उसे उस रेस्टोरेंट में 10 बार और जाने की प्रेणना देता हैं। मतलब साफ़ हैं की 10 कूपन वाले ऑफर के मुकाबले ,  12 कूपन वाले ऑफर के लक्ष्य को पाने के लिए वह व्यक्ति ज्यादा कोशिश करेगा। दोनों ही स्तिथियों में उसे  10 बार ही  रेस्टोरेंट में जाना होगा, लेकिन उसे  12 कूपन वाला ऑफर, 10 कूपन वाले ऑफर से  ज्यादा अच्छा और आसान लगने लगता हैं।


8. अगर आपने कोई काम जिंदगी में कभी नहीं किया हो और उसे पहली बार करने जा रहे हैं तो उस काम को करने का तरीका भी आप पहले से जानते हैं।

क्या आपको पता हैं आप यह भी पहले से जानते हैं की आपने जिंदगी में कोई काम कभी नहीं किया हो, उसे पहली बार कैसे करना हैं।

जैसे की अगर आपके दोस्त ने यह कहा की आप किसी Bar-Code को मोबाइल से स्कैन करे और उसकी जानकारियाँ प्राप्त करे।

और आपने ज़िन्दगी में कभी भी अपने मोबाइल से बार-कोड को स्कैन नहीं किया हैं। और आप इसको पहली बार करने जा रहे हैं। तो इस स्तिथि में आपका दिमाग अपने आप कल्पना करने लगता हैं की इस काम को कैसे करना चाहिए। यानी की आपका दिमाग उस तरीके को आपके सामने प्रस्तुत करने लगता हैं की इस काम को ऐसे करना चाहिए। चाहे वह तरीका सही हो या नहीं… लेकिन यह सच हैं जब हम कोई ऐसा काम करने जा रहे होते हैं, जिसे हमने जीवन में कभी भी न किया हो तो हमारा दिमाग एक पिक्चर बना लेता हैं, जिसके अनुसार हमें काम करना होता हैं।


9. आपका दिमाग कभी भी आराम नहीं करता हैं

ज्यादातर लोग यह सोचते हैं की सोते समय दिमाग आराम कर रहा होता हैं। लेकिन ऐसा बिलकुल भी नहीं हैं। क्योंकि सोते हुए भी हमारा दिमाग अपना काम करते रहता हैं। जब हम गहरी नींद में सो रहे होते हैं तब भी हमारा दिमाग सक्रिय रहता हैं।

दिमाग कभी भी आराम नहीं करता हैं

इसका सबसे बड़ा example यह हैं की सोते समय हमें सपने दिखाई देते हैं। इसके अलावा दिन भर की गयी गतिविधियाँ भी सोते समय सपने बनकर दिखाई देने लगती हैं। इसके अलावा दिमाग के 24 घंटे सक्रिय रहने का संकेत यह भी हैं की हम सोते समय भी सांस लेते हैं। यानी की इससे यह प्रमाणित होता हैं की हमारा दिमाग कभी भी आराम नहीं करता हैं।


10. आप एक ही समय पर 3-4 चीजों को ही याद रख सकते हैं

एक रिसर्च से यह पता चला हैं की मनुष्य का दिमाग 20 सेकंड के अन्दर एक ही समय पर सिर्फ 3 या 4 चीजों को ही याद रख सकता हैं। इसलिए अगर आपके सामने कोई जानकारी बार-बार लगातार प्रस्तुत की जाए तो आप ज्यादातर बातें भूल जाते है।

इसलिए अगली बार अगर  ज्यादा समय तक कोई जानकारी याद रखना चाहते हैं तो उस जानकारी को छोटे-छोटे हिस्सों में बाँट कर पढ़े, इससे आप उसे ज्यादा समय तक याद रख पाएंगे।


11. आपका दिमाग हमेशा भटकता रहता हैं

यह आपने सूना ही होगा की मन बड़ा चंचल हैं और यह हमेशा भटकते रहता हैं। लेकिन आपने सोचा हैं की हमारा दिमाग दिन भर में कितनी बार भटकता हैं?

प्रोफेसर Jonathon Schooler की माने तो हमारा दिमाग एक दिन में 30% बार भटकता हैं, कई बार तो यह 70% तक भी भटकने लगता हैं यानी की आपका दिमाग किसी जगह टिक नहीं सकता हैं।

मन के भटकने से जहाँ कुछ फायदे हैं, वहीँ इसके कुछ नुकसान भी हैं। जैसे की अगर कोई विद्यार्थी क्लास में हो और उसका मन पढ़ाई की बजाये भटक कर किसी और चीज़ के बारे सोच रहा हैं। तो उस समय अध्यापक अपनी कक्षा को नयी जानकारी दे रहा हो, तो मन के भटकने की वजह से वह विद्यार्थी उस जानकारी को ग्रहण ही नहीं कर पाता हैं। लेकिन मन के भटकने का फायदा भी हैं, इससे आपकी क्रिएटिविटी में सुधार आता हैं,  जिससे कोई नया काम करने की प्रेणना मिलती हैं।


12. आप कभी कभी अंधे भी हो जाते हैं

बुरा मत मानिए जनाब, हम आपको अँधा नहीं कह रह रहे हैं। इसका मतलब यह हैं की आपको कभी कभी कुछ चीज़े दिखाई ही दे पाती हैं। जैसे की अगर आपको कोई एक काम ऐसा करने को कहा जाये, जिसमे आपको ज्यादा फोकस करने की जरूरत हैं तो आप आसपास हो रही अन्य गतिविधियों को नज़र-अंदाज़ करने लगते हैं या फिर वह आपको दिखाई ही नहीं देती है।

उदाहरण के रूप में एक बास्केटबॉल के मैच में कई लोगो को यह टास्क दिया गया की उन्हें यह बताना हैं की ग्राउंड पर कितने प्लेयर सफ़ेद रंग की जर्सी पहन कर दाखिल हो रहे हैं। तो ज्यादातर लोग सफ़ेद रंग वाली जर्सी पहने हुए खिलाडियों की गिनती करने लगे। उन्ही खिलाड़ियों में एक भालू की ड्रेस पहने हुए आदमी भी ग्राउंड में दाखिल हुआ, लेकिन ज्यादातर लोगो का ध्यान सफ़ेद रंग के कपड़े पहने हुए खिलाडियों की गिनती करने में व्यस्त था। जिसकी वजह से उन्होंने भालू की ड्रेस पहने हुए व्यक्ति को नज़रंदाज़ कर दिया या फिर कहे की उन्होंने उस भालू वाले ड्रेस पहने व्यक्ति को देखा ही नहीं। मतलब अगर आपको कोई एक ऐसा पेचीदा काम करने के लिए कह दिया जाये तो आप अन्य चीजों पर उतना ध्यान नहीं देते हैं और उन्हें ज्यादातर नज़रंदाज़ ही कर देते हैं।


13. डर और उदास होने पर आप कोई कुछ नया चीज़ ट्राई नहीं करना चाहते हैं

उदास लड़की

यह बात सच हैं जब आप उदास या डरे हुए होते हैं तो नयी चीज़ ट्राई करने की बजाये आप उन चीज़ों को करना ज्यादा पसंद करते हैं, जिनके बारे में आप पहले से परिचित हो। जैसा की किसी लड़की का उसके बॉयफ्रेंड के साथ झगड़ा हो गया हो और वह किसी शॉपिंग मॉल में गयी हैं। तो उस समय वह लड़की उन चीजों को खरीदना चाहेंगी, जिन्हें वह पहले से जानती हैं। डर और उदासी की स्तिथि में मनुष्य का दिमाग कुछ नया नहीं करना चाहता हैं, और वह उन्ही चीजों पर फोकस करता हैं, जिसे वह अच्छी तरह से पहले से जानता हो।


14. आप सिर्फ कुछ लोगो के साथ ही रिश्ता बना कर रख सकते हैं

आपका दिमाग एक सिमित गिनती के लोगो से ही रिश्ता बना कर रख सकता हैं। यानी की हमारा दिमाग एक  सिमित संख्या तक ही उतने लोगो से रिश्ता बना कर रख पाता हैं। इस गिनती को Dunbar’s Number का नाम दिया जाता हैं। यह Dunbar’s Number मानव विज्ञानी Robin Dunbar की खोज हैं। इस नियम के मुताबिक कोई भी व्यक्ति ज्यादा से ज्यादा 150 लोगो से रिश्ता कायम रख पाता हैं या फिर उन्हें अच्छी तरह से याद रख पाता हैं।

इसके अनुसार  सिर्फ 150 लोगो तक ही अपनी फ्रेंडशिप या रिलेशनशिप रख सकते हैं। कई लोगो के फेसबुक पर 1000 से भी ज्यादा फ्रेंड बने हुए हैं, लेकिन ज्यादातर लोग अपने फ्रेंड सर्किल में सिर्फ कुछ लोगो के बारे में ही अच्छी तरह से जानते हैं। और इस नियम के मुताबिक आप सिर्फ 150 लोगो को ही अच्छी तरह से जान सकते हैं या उनके बारे में याद रख सकते हैं।


Loading...


Related posts:
पहले इन मशहूर ब्रांड्स का नाम कुछ और था, आइए जानते हैं.
जानवरों से जुड़ी 10 रोचक जानकारी और बातें जरूर जानिए।
बिकिनी के बारे में रोचक मजेदार जानकारी और तथ्य।
मानव शरीर के बारे में 44 रोचक तथ्य और मज़ेदार जानकारी।
जानिए जानवरों और जीव-जन्तुओं के 16 मज़ेदार रोचक तथ्य।
जानिए इन 8 फ़ूड का जन्म स्थान के बारे में।
WhatsApp के बारे में रोचक जानकारी और यह कैसे इतना लोकप्रिय हुआ?
रंगों के बारे में मजेदार जानकारी और तथ्यों को जाने।
आइये जानते हैं दुनिया के अलग-अलग देश के झंडे क्या सन्देश देते हैं।
उड़ने वाली गिलहरी के बारे में 27 रोचक मज़ेदार बातें और तथ्य।
Emoji के बारे में 20 मजेदार रोचक तथ्य और जानकारी।
जानिए ऐसे रहस्य के बारे में जिन्हें विज्ञान भी सही तरह से व्याख्या नहीं कर पाता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *