ज्यादा मात्रा में शहद खाने से होते हैं यह नुकसान।

शहद के नुकसान

वैसे तो शहद सेहत के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद चीज़ हैं। शहद खाने के फायदे बहुत है, लेकिन जैसा की प्रकृति का यह नियम हैं की जरूरत से ज्यादा मात्रा में किसी भी चीज़ का सेवन सेहत के लिए नुकसानदायक होता हैं। ऐसे ही जरूरत से ज्यादा मात्रा में रोजाना शहद खाने से शरीर को नुकसान होने लगता हैं। एक नियमित मात्रा में शहद को खाने से कई सारी बीमारियाँ आपसे कोसों दूर रहती हैं, लेकिन जब आप ज्यादा मात्रा में शहद खाते हैं तो इससे कई सारी बीमारियाँ आपको घेर सकती हैं।

एक चम्मच शहद में 5.8 ग्राम कार्बोहाइड्रेट्स पाया जाता हैं। शहद में पाया जाने वाला कार्बोहायड्रेट शुगर के रूप में होता हैं। नार्मल शुगर के मुकाबले शहद में कार्बोहाइड्रेट और कैलोरी ज्यादा होती हैं।

आइये जानते हैं ज्यादा मात्रा में शहद खाने से सेहत को क्या क्या नुकसान होते हैं? Side-effects of Honey in Hindi

ज्यादा शहद खाने के नुकसान :-

■ वजन बढ़ सकता हैं

शहद में फ्रक्टोज होता हैं जो मोटापे की समस्या पैदा कर सकता हैं। शुगर की ज्यादा मात्रा होने के कारण जब आप शहद रोजाना जरूरत से ज्यादा मात्रा में लेते हैं तो धीरे धीरे करके आप मोटापे के शिकार बनने लगते हैं। वैसे तो शहद में पोषक तत्व ज्यादा मात्रा में होते हैं, लेकिन अति किसी भी चीज़ की बुरी ही होती हैं।

■ लो ब्लड प्रेशर की समस्या होना

शहद ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए जाना जाता हैं। ऐसे में शहद उन लोगो को नहीं खाना चाहिए, जिन्हें पहले से ही लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो। क्योंकि जब लो ब्लड प्रेशर वाले मरीज़ शहद को खाते हैं तो उनकी समस्याएं और भी ज्यादा बढ़ जाती हैं। ऐसे में लो ब्लड प्रेशर के मरीजों को बिना डॉक्टर की सलाह से शहद भूलकर भी नहीं खाना चाहिए।

■ ब्लड शुगर लेवल का बढ़ना

जैसा की शहद और चीनी में काफी ज्यादा कार्बोहाइड्रेट और कैलोरी होती हैं तो इससे ब्लड शुगर लेवल के बढ़ने की आशंका रहती हैं। ज्यादा मात्रा में शहद का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल बहुत ही तेज़ी के साथ बढ़ सकता हैं। जो लोग डायबिटीज के रोगी हैं उन्हें शहद नहीं खाना चाहिए।

■ गैस्ट्रोइन्टेस्टनल ट्रैक्ट पर असर डालता हैं

शहद एसिडिक किस्म का पदार्थ हैं। इस तरह जो लोग रोजाना ज्यादा मात्रा में शहद खाते हैं, उन्हें एक समय के बाद इसका साइड-इफ़ेक्ट गैस्ट्रोइन्टेस्टनल ट्रैक्ट पर दिखाई देने लगता हैं। जिससे आपको एसिड रिफ्लेक्स की प्रॉब्लम्स हो सकती हैं।

■ दांतों को होता हैं नुकसान

शहद के गुण चीनी के गुणों से 82% तक मिलते जुलते हैं। इसी कारण यह दांतों के लिए भी नुकसानदेह हो सकता हैं। जब आप शहद का सेवन करते हैं तो यह आपके दांतों में चिपक जाता हैं। जिससे दांतों में बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। बैक्टीरिया दांतों में सड़न पैदा कर देते हैं और आपके दांतों में कई सारी समस्याएं पैदा होने लगती हैं।

■ कब्ज़ होने का ख़तरा

वैसे तो शहद कब्ज़ को दूर करने के लिए जाना जाता हैं। लेकिन तब जब आप इसे एक नियमित मात्रा में लेते हैं। लेकिन जब आप आप जरूरत से ज्यादा मात्रा में शहद खाने लगते हैं तो कब्ज़ दूर करने वाला शहद उलटा कब्ज़ होने की वजह बनने लगता हैं। इससे पेट से सम्बंधित कई सारी परेशानियां होने लगती हैं। ज्यादा मात्रा में शहद खाने से डायरिया, पेट फूलना और कब्ज़ जैसी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता हैं। ऐसे में सिमित मात्रा में शहद का सेवन करना ही बुद्धिमानी हैं।

कितनी मात्रा में रोजाना शहद को खाना चाहिए ताकि न हो कोई नुकसान :-

अब आप पूछेंगे की शहद को रोजाना कितनी मात्रा में खाना उचित रहेगा, जिससे सेहत को कोई नुकसान न हो सके? तो इसका जवाब हैं की रोजाना 50 ml शहद को खाने से शरीर को कोई हानि नहीं होती हैं और इससे सेहत को फायदे ही होते हैं। लेकिन किसी भी व्यक्ति के लिए शहद की पर्याप्त मात्रा उसके दिनभर की दिनचर्या और जीवनशैली पर निर्भर करती हैं। जैसा की दिनभर में ज्यादा मेहनत करने वाले लोग इससे ज्यादा मात्रा में भी शहद को खा सकते हैं। लेकिन एक हेल्दी व्यक्ति को दिनभर में 50 ml शहद का सेवन करना उचित रहेगा।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *