डायरिया होने पर अपनाये यह घरेलु नुस्खे और उपाय.

डायरिया होने पर क्या करे?

दस्त लगना या डायरिया एक बहुत ही कॉमन प्रॉब्लम होती है। खाने या पानी को लेकर कि गई थोड़ी सी लापरवाही भी इस समस्या का कारण बन सकती है। दस्त लगने पर शरीर के मिनरल्स और पानी शरीर से तेजी से बाहर हो जाते हैं, जिससे मरीज को कमजोरी महसूस होने लगती है।

 

जिसे एक बार ये समस्या हो जाती है उसे एक साल में दो से तीन बार भी इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है। दस्त की समस्या बार-बार न हो इसके लिए ऐलोपेथिक दवाओं के बजाए घरेलू नुस्खों को अपनाना चाहिए। आज हम आपको बताने जा रहे हैं। डायरिया से निपटने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे जो इस समस्या से बहुत जल्दी राहत दिलवाते हैं।

डायरिया में अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

 

  1. सरसों के बीज –सरसों के बीज में एंटीबैक्टिरियल गुण पाए जाते हैं। इसीलिए इसे डायरिया की समस्या में रामबाण माना जाता है। सरसों के एक चौथाई चम्मच बीजों को एक कप पानी में एक घंटे के लिए भिगो दें। एक घंटे बाद इस पानी को छानकर पी लें। यह नुस्खा एक दिन में दो से तीन बार दोहराएं। डायरिया की समस्या से बहुत जल्दी आराम मिल जाएगा।

 

  1. नींबू – नींबू के रस में एंटी इंफ्लामेट्री प्रॉपर्टीज पाई जाती हैं। इससे पेट आसानी से साफ हो जाता है। यह डायरिया की समस्या से राहत देने वाला बहुत प्राचीन नुस्खा है। एक नींबू के रस में एक चम्मच नमक और थोड़ी चीनी मिलाकर अच्छे से मिक्स करने के बाद पिएं। हर एक घंटे में ये घोल बनाकर पीने से डायरिया में बहुत जल्दी आराम मिलता है। इस नुस्खे को अपनाने के साथ ही हल्का खाना लें। इससे आपको इस समस्या से जल्दी छुटकारा मिल जाएगा।

 

  1. अनार –अनार लूज मोशन्स की समस्या में रामबाण दवा की तरह काम करता है। अनार के बीजों को चबाएं। दिनभर में कम से कम दो बार अनाज का जूस पिएं। अनार की पत्तियों को पानी में उबाल लें। इस पानी को छानकर पीने से भी दस्त में आराम मिलता है।

 

  1. मेथीदाना – मेथीदाना में एंटीबैक्टिरियल और एंटीफंगल प्रॉपर्टीज पाई जाती हैं। एक चौथाई चम्मच मेथीदाना पाउडर ठंडे पानी से लें। इससे पेट की गर्मी छट जाएगी और दस्त की समस्या से मुक्ति मिल जाएगी। यह पाउडर खाली पेट दो से तीन दिनों तक लेना चाहिए। बहुत जल्दी आराम मिलता है।

 

  1. शहद –शहद भी इस समस्या में दवा का काम करता है। जब भी लूज मोशन की समस्या हो दिन भर में कम से कम दो से तीन चम्मच शुद्ध शहद खाएं। एक चम्मच शहद में आधा चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाकर लेने पर भी दस्त से राहत मिलती है।

 

  1. कच्चा पपीता – कच्चा पपीता दस्त की समस्या में एक जबरदस्त दवा का काम करता है। कच्चे पपीता को छिलकर छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर उबाल लें। इस पानी को छानकर जब हल्का गर्म रह जाए तब पिएं। दस्त बंद हो जाएंगे। यह पानी दिनभर में दो से तीन बार पीना चाहिए।

 

  1. उबले चावल –उबले हुए यानी कुकर में बनाए हुए चावल को ताजा दही के साथ खाएं। दिन भर में दो से तीन बार दही चावल खाने से दस्त की समस्या से मुक्ति मिल जाती है।

 

  1. अदरक –अदरक में एंटीफंगल और एंटीबैक्टिरियल प्रॉपर्टीज मौजूद होती हैं। आधा चम्मच अदरक पाउडर को छाछ के साथ लें। इस मिश्रण को दिन में दो तीन बार लेने से डायरिया से राहत मिलती हैं।

 

  1. लौकी –लौकी को पाचनतंत्र के लिए बहुत अच्छी औषधी माना जाता है। एक लौकी लेकर उसे छिलकर बारीक काट लें। मिक्सर में उसका रस निकाल लें। इस रस को छानकर दिन में दो-तीन बार पिएं। दस्त की समस्या खत्म हो जाएगी।

Keywords :- Loose motion door karne ke gharelu nuskhe aur upay. Home remedies for diarrhea in Hindi. डायरिया दूर करने के आसान घरेलु नुस्खे और उपाय. दस्त का असरदार इलाज क्या हैं? दस्त लगने पर क्या करना चाहिए? दस्त होने पर








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *