दिमाग को बनाना चाहते हैं कंप्यूटर से भी तेज़ तो इन जड़ी-बूटियों का सेवन करे।

दिमाग को बनाना चाहते हैं कंप्यूटर से भी तेज़ तो इन जड़ी-बूटियों का सेवन करे।

क्या आप भी अपने दिमाग को कंप्यूटर से भी ज्यादा तेज़ बनाना चाहते हैं? क्या आप भी अपनी ब्रेन मेमोरी यानि याददाश्त को इतना ज्यादा अच्छा बना लेना चाहते हैं, की लोग आपके ब्रेन के दीवाने बन जाये। तो यह लेख जरूर पढ़े, क्योंकि आज हम आपको दिमाग तेज़ करने वाली ऐसी जड़ी-बूटियों के बारे में बताएँगे, जिनके सेवन से सचमुच में आपका दिमाग कंप्यूटर से भी तेज़ बन जाता हैं।

मेडिकल स्टोर पर आपको दिमाग तेज़ करने और याददाश्त बढ़ाने वाली दवाएं आसानी से मिल जाएँगी, लेकिन क्या यह दवाएं वाकई में यह आपके ब्रेन को चुस्त-दुरुस्त बना देती हैं, इसके बारे में शंका हैं। लेकिन आयुर्वेद में ऐसे जड़ी बूटीयों का वर्णन मिलता हैं, जो सच में मनुष्य के दिमाग को तेज़ और शार्प बना देती हैं। आइये इनके बारे में जानते हैं। Best Ayurvedic herbs for Boost Brain Power in Hindi.

दिमाग को तेज़ बनाने वाली चमत्कारी जड़ी-बूटियाँ :-

1. काली मिर्च का सेवन करे

काली मिर्च को नियमित रूप से किसी न किसी रूप में लेते रहने से दिमाग को काफी ज्यादा फायदा होता हैं। इसमें पेपरिन नाम का रसायन पाया जाता हैं जो ब्रेन सेल्स को रिलैक्स करता हैं। यह डिप्रेशन जैसी बिमारियों से आपको बचाता हैं। इसलिए दिमाग को हेल्दी बनाये रखने के लिए भोजन में काली मिर्च का इस्तेमाल जरूर करे।

2. हल्दी भी हैं लाभकारी

एक रिसर्च के अनुसार हल्दी में कुरकुमिन रसायन होता हैं जो ब्रेन के डैमेज सेल्स को रिपेयर करने में मदद करता हैं। इसके अलावा हल्दी के नियमित सेवन से अल्जाइमर जैसी भूलने की बीमारी से भी बचाव होता हैं। इसके लिए हल्दी वाला दूध पीना चाहिए। लेकिन हल्दी वाला दूध रोजाना न पिए, क्योंकि हल्दी की तासीर गर्म होती हैं, जिससे पेट से सम्बंधित समस्याएं पैदा हो सकती हैं।

3. जटामांसी करे कमाल

जटामांसी दिमाग को तेज़ बनाने वाली सबसे महत्वपूर्ण औषधि मानी जाती हैं। इस चमत्कारी बूटी के सेवन से याददाश्त बढ़ाने में मदद मिलती हैं। इसका सेवन करने से दिमाग धीरे-धीरे करके तेज़ बनने लगता हैं, लेकिन यह बूटी अपना कार्य जरूर करती हैं। इस बूटी को पीस ले और इसकी सिर्फ 1 चम्मच मात्र ले और इसे एक कप दूध में मिला कर पिए।

4. जायफल

जायफल की हल्दी की तरह गर्म तासीर का मसाला हैं। इसलिए इसे भी कम मात्रा में लेना चाहिए। यह दिमाग के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद हैं। लेकिन इसकी कम मात्रा ही दिमाग तेज़ करने के लिए उपयोगी होती हैं। इसके नियमित सेवन से अल्जाइमर यानि भूलने की बीमारी नहीं होती हैं।

5. अजवाइन

अजवाइन का इस्तेमाल भोजन को पचाने के लिए किया जाता हैं। लेकिन क्या आपको मालूम हैं की अजवाइन पेट के लिए ही नहीं, बल्कि मस्तिष्क के लिए भी फायदेमंद हैं। जानकारों की माने तो अजवाइन की पत्तियों में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो दिमाग को तेज बनाने के लिए किसी औषधि से कम नहीं हैं।

6. केसर वाला दूध

दूध में चुटकी भर केसर मिला कर पीने से या फिर केसर का इस्तेमाल अन्य खाद्य पदार्थो में मिला कर करने से नींद न आना और अवसाद जैसी समस्याओं से मुक्ति मिलती हैं। अगर आपको अनिद्रा और डिप्रेशन जैसी बिमारियां हैं तो इससे आपका दिमाग कमजोर बनने लगता हैं, इसलिए केसर का इस्तेमाल जरूर करे और इन बिमारियों को दूर करे, ताकि आपका दिमाग तेज़ बन सके।

7. शंख पुष्पी

दिमाग को बढ़ाने के साथ यह चमत्कारी बूटी ब्रेन में ब्लड सर्कुलेशन को सही बनाये रखने में मददगार होती हैं। शंखपुष्पी के नियमित सेवन से आपकी Creativity भी बढ़ती हैं। इसके इस्तेमाल से आपकी याद करने से क्षमता और सीखने की क्षमता में भी सुधार होता हैं। इसलिए दिमाग को शांत और तेज़ बनाना चाहते हैं तो ½ चम्मच शंख पुष्पी को एक कप गर्म पानी में मिला कर पीजिये।

8. ब्राह्मी

ब्राह्मी नाम की जड़ी बूटी तो विशेष रूप से दिमाग का टॉनिक हैं। इससे दिमाग को शान्ति मिलती हैं और याददाश्त को बढ़ाने में सहायता मिलती हैं।

8. दालचीनी

दालचीनी एक ऐसा मसाला हैं जो आपकी रसोई में रहता ही हैं। इस मसाले का इस्तेमाल भोजन का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता हैं। रात को सोने से पहले नियमित रूप से चुटकी भर दालचीनी पाउडर में शहद मिला कर लेना चाहिए। ऐसा नियमित करने से टेंशन दूर होती हैं और दिमाग को तेज़ करने में मदद मिलती हैं।

9. तुलसी

तुलसी के फायदे बहुत ज्यादा हैं। इसके नियमित सेवन से शरीर को कई सारी बिमारियों से सुरक्षा मिलती हैं। इसके अलावा तुलसी दिमाग को तेज़ करने के लिए भी जानी जाती हैं।

सम्बन्धित लेख जिन्हें आपको जरूर पढ़ना चाहिए :- 

दिमाग को तेज़ बनाने वाले जूस और तरल पदार्थ।

दिमाग को तेज़ करने वाले फूड।

याददाश्त बढ़ाने वाले उपयोगी घरेलु नुस्खे। 

सावधान! यह आदतें आपके दिमाग को बना रही हैं कमजोर। 

लड़के और लड़कियों के दिमाग में क्या अंतर होता हैं? 








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *