दुनिया के सबसे गर्म तापमान वाली जगहों के बारे में जानिए.

दुनिया के सबसे गर्म तापमान वाली जगहों के बारे में जानिए.

दोस्तों, इन दिनों पारा है कि चढ़ता ही जा रहा है। आसमान से बरसती आग से आप भी बेहाल होंगे। माना कि गर्मी कुछ ज्यादा है, पर क्या आपको पता है कि दुनिया में कई ऐसी जगहें भी हैं जहां तापमान 54 डिग्री सेल्सियस (129.2 डिग्री फॉरेनहाइट) से भी अधिक रहता है। इस बार जानते हैं दुनिया के ऐसे ही

दोस्तों, इन दिनों पारा है कि चढ़ता ही जा रहा है। आसमान से बरसती आग से आप भी बेहाल होंगे। माना कि गर्मी कुछ ज्यादा है, पर क्या आपको पता है कि दुनिया में कई ऐसी जगहें भी हैं जहां तापमान 54 डिग्री सेल्सियस (129.2 डिग्री फॉरेनहाइट) से भी अधिक रहता है। इस बार जानते हैं दुनिया के ऐसे ही सबसे गर्म स्थानों के बारे में..

डेथ वैली, अमेरिका : 134 डिग्री फॉरेनहाइट, व‌र्ल्ड मेट्रोलॉजिकल ऑर्गनाइजेशन (डब्ल्यूएमओ) के मुताबिक, अमेरिका के कैलिफॉर्निया स्थित डेथ वैली धरती का सबसे गर्म स्थान है। यहां 10 जुलाई, 1913 को 56.7 डिग्री सेल्सियस (134 डिग्री फॉरेनहाइट)अधिकतम तापमान दर्ज किया गया था।

अल अजीजिया, लीबिया : 136.4 डिग्री फॉरेनहाइट, यह लीबिया के नॉर्थवेस्टर्न जफरा डिस्ट्रिक्ट की राजधानी है। 13 सितंबर, 1922 को यहां सबसे ज्यादा तापमान 136.4 डिग्री फॉरेनहाइट (58 डिग्री सेल्सियस) रिकॉर्ड किया गया था। हालांकि 90 साल पुराने इस दावे को डब्ल्यूएमओ के एक पैनल ने खारिज कर दिया।

गदामेस, लीबिया : 131 डिग्री फॉरेनहाइट, साउथवेस्टर्न लीबिया का गदामेस शहर दुनिया के सबसे गर्म स्थानों में से एक है। इस शहर की जनसंख्या 10 हजार के करीब है। यूनेस्को ने इसे व‌र्ल्ड हेरिटेज साइट का दर्जा दिया है। यहां का अधिकतम तापमान 131 डिग्री फॉरेनहाइट रिकॉर्ड किया गया है।

किबिली, ट्यूनीशिया : 31 डिग्री फॉरेनहाइट यह ट्यूनीशिया का मरुस्थलीय एरिया है। यहां का अधिकतम तापमान 131 डिग्री फॉरेनहाइट रिकॉर्ड किया गया है। यहां मिले प्रमाणों के आधार पर कहा जा रहा है कि यहां लोग तब से रह रहे हैं, जब से इंसान ने धरती पर चलना शुरू किया।

टिम्बकटू, माली : 130.1 डिग्री फॉरेनहाइट, यह टिम्बकटू प्रांत की राजधानी है। यहां का अधिकतम तापमाम 130.1 डिग्री फॉरेनहाइट रिकॉर्ड किया गया है। यहां की पॉपुलेशन 54,453 (2009) है।

अराओन, माली : 130 डिग्री फॉरेनहाइट

मलियन सहारा का छोटा-सा गांव है अराओन यह टिम्बकटू से 150 मील नॉर्थ में है। इस जगह का अधिकतम तापमान 130 डिग्री फॉरेनहाइट रिकॉर्ड किया गया है।

तिरत ज्वी, इजरायल : 28.7 डिग्री फॉरेनहाइट, यह स्थान इजरायल-जॉर्डन के बॉर्डर पर स्थित है और जनसंख्या मात्र 1000 हजार है। इस जगह का तापमान 128.7 डिग्री फॉरेनहाइट रिकॉर्ड किया गया है, जो एशिया में रिकॉर्ड किए गए तापमान में सबसे अधिक है। इसके बाद अहवाज (ईरान), 128. 3 डिग्री फॉरेनहाइट, अग्हाजारी (ईरान) 128 डिग्री फॉरेनहाइट और सूडान के वडी हाफा का अधिकतम तापमान 127 डिग्री फॉरेनहाइट रिकॉर्ड किया गया है।

फॉरेनहाइट और सेल्सियस का आविष्कार

1724 में जर्मनी के डेनियल फॉरेनहाइट (1686-1736) ने तापमान को मापने वाले स्केल फॉरेनहाइट का आविष्कार किया।

-1742 में स्वीडन के एस्ट्रोनॉमर एंडर्स सेल्सियस (1701-1744) ने भी तापमान को मापने वाले स्केल सेल्सियस का ईजाद किया।

-1957 में सबसे पहले मौसम की भविष्यवाणी पेनसिल्वेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी (युनाइडेट स्टेट ऑफ अमेरिका) ने की थी।

-1850 से लेकर अब तक 2001-2010 का दशक सबसे गर्म रहा है।

-आमतौर पर फॉरेनहाइट स्केल का इस्तेमाल अमेरिका में होता है, जबकि दूसरे देशों में सेल्सियस का इस्तेमाल होता है।

Keywords :- Are you know world hottest places? Duniya ke sabse  garm jagaho ke baare mein kya aap jante hain? क्या आप जानते हैं दुनिया के सबसे गर्म जगहे कौन सी हैं ? 




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

लड़कियों को दाढ़ी वाले लड़के क्यों पसंद होते हैं ?
सांप को दूध क्यों पिलाया जाता हैं?
हर लीप साल में 366 दिन क्यों होते हैं?
क्या आप जानते हैं ? पार्ट -1
हमें भूख क्यों लगती हैं ? जानिए
स्मार्टफोन से जुड़े myths (भ्रम) के बारे में जानिए.
मिनरल्स और विटामिन्स के फायदे क्या हैं?
रक्तदान (Blood Donate) क्यों करना चाहिए? इसके फायदे क्या हैं?
हिचकी दूर करने के घरेलु नुस्खे और उपाय, इसके बारे में कुछ रोचक जानकारी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *