नीम का पानी पीने के फायदे और उपयोग.

Neem ka paani peene ke fayde aur gharelu nuskhe. Benefits of Neem water in Hindi.

नीम का स्वाद चाहे कड़वा ही क्यों न हो लेकिन स्वस्थ्य के नज़रिए से देखा जाये तो यह किसी मिठाई से कम नहीं हैं. नीम के इस्तेमाल से हम कई सारी बीमारियों को दूर कर सकते हैं. नीम हमारे शरीर, स्किन और बालो के लिए बहुत ही लाभकारी हैं. बहुत ही कड़वा होने के कारण नीम का सेवन सीधे नही किया जा सकता हैं. नीम का कड़वापन तो दूर नहीं किया जा सकता हैं, लेकिन कम जरूर किया जा सकता हैं. नीम का कड़वापन दूर करने के लिए नीम का पानी का इस्तेमाल करे. आइये जानते हैं नीम का पानी पीने से क्या लाभ होते हैं.

नीम का पानी पीने के फायदे :-

1. डायबिटीज से बचाए

मधुमेह एक खरतनाक बीमारी हैं और अनियमित दिनचर्या के कारण इसके मरीज़ो की संख्या लगातार बढ़ रही हैं. ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ने से मधुमेह की बीमारी होती हैं. अगर आप रोजाना नीम का जूस पिएँगे तो आपके ब्लड का शुगर लेवल नही बढ़ेगा और मधुमेह जैसी बीमारी नही होगी. मधुमेह के रोगी भी नीम का जूस पीकर अपने ब्लड शुगर लेवल को नॉर्मल कर सकते हैं.

2. खून साफ करे :-

अगर किसी व्यक्ति का खून साफ़ ना हो , तो इसके कारण कई प्रकार की प्रॉब्लम्स होने लगती हैं. शरीर की इम्यूनिटी पावर कमजोर हो जाती हैं और बीमारियो के इन्फेक्शन होने का ख़तरा काफ़ी बढ़ जाता हैं. नीम का पानी एक खून साफ़ करने वाली दवाई हैं. यह LDL यानी ख़राब कोलेस्टरॉल को कम करने में मदद करता हैं. साथ ही कुछ समय तक लगातार नीम के पानी के सेवन से फोड़े-फुंसियो और स्किन से रिलेटेड बीमारियो से छुटकारा मिलता हैं.

3. आँखों के लिए लाभकारी

मोबाइल और कंप्यूटर के अधिक इस्तेमाल से आँखों को काफ़ी नुकसान पहुचता हैं. नज़र कमजोर हो जाती हैं. आँखों की रोशिनी बढ़ाने के लिए नीम के रस 2 बूंदे आँखों में डाले, इससे रोशिनी बढ़ेगी. अगर आपकी आंकों में Conjunctivitis रोग हो गया हैं, तो नीम के पानी के प्रयोग से वह ठीक हो जाता हैं.

4. बीमारियो का उपचार

नीम का पानी मलेरिया और पीलिया जैसी बीमारिया होने पर लाभकारी हैं. अपने एंटी-बैक्टीरियल गुणों के कारण यह मलेरिया के ज़िम्मेवार वायरस को बढ़ने से रोकता हैं और साथ ही लिवर को मजबूत बनाता हैं. पीलिया होने पर नीम की पत्तियो के रस को शहद के साथ मिला कर सेवन करने से यह रोग ठीक हो जाता हैं.

5. चेहरे के लिए लाभकारी

नीम का पानी चेहरे को निखारने और कील-मुहँसो की समस्या को दूर करने के लिए बहुत ही प्रभावकारी हैं. मुहांसों की समस्या होने पर नीम का रस चेहरे पर लगाए, इससे पिंपल्स की प्रॉब्लम्स दूर होती हैं. अगर चेहरे पर नीम के पानी का मसाज किया जाए तो चेहरे की नमी बरकरार रहती हैं और स्किन ग्लो करने लगती हैं. यह नॅचुरल तरीके से स्किन को ग्लो करने में मदद करता हैं. इसका साइड-एफेक्ट भी नही होता हैं.

6. चिकन पॉक्स के धब्बे मिटाए

चिकन पॉक्स के धब्बे बहुत ही खराब होते हैं और यह जल्दी समाप्त नही होते हैं. चिकन पॉक्स के निशान को साफ़ करने के लिए नीम के रस का मसाज करे. नियमित रूप से नीम की रस से चेहरे पर मसाज करने से कुछ ही दीनो में चिकन पॉक्स के धब्बे दूर हो जाएँगे. इसके अलावा नीम का जूस स्किन से रिलेटेड बीमारियाँ जैसे एक्जिमा और स्माल पॉक्स के होने की संभावना को कम करता हैं.

7. प्रेगनेंसी में पिए

नीम का पानी प्रेग्नेन्सी के दौरान पीने से समय-समय पर योनि में होने वाला दर्द कम हो जाता हैं. प्रसव के दौरान होने वाले दर्द को कम करने के लिए नीम के रस का मसाज करना लाभकारी होता हैं. डीलिवरी के बाद महिला को अगर कुछ दिनों तक नीम का पानी दिया जाए तो उसका खून साफ़ होता हैं और इन्फेक्शन से बचाव होता हैं.

8. पायरिया में लाभकारी

मसूड़ो से खून आने और पायरिया होने पर नीम के तने की भीतरी छाल या पत्तो को पानी में डालकर कुल्ला करने से लाभ होता हैं. इससे मसूड़े और दाँत मजबूत होते हैं. नीम के फुलो का काढ़ा बनाकर पीने से भी दांतो की बीमारियो में लाभ होता हैं. नीम का दातुन रोज करने से दांतो के अंदर पाए जाने वाले बैक्टीरिया ख़त्म हो जाते हैं. कुल मिला कर नीम का किसी भी तरीके से प्रयोग दांतो के लिए लाभकारी होता हैं.




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

केसर से होते हैं यह बेमिसाल फायदे
कच्चा केला खाने के फायदे और नुकसान जरूर पढ़े.
योग क्या हैं और यह कितने प्रकार का होता हैं?
डेंगू से बचने में मदद करता हैं बकरी का दूध।
चौलाई का साग खाने के फायदे और घरेलु नुस्खे।
ज्यादा समय तक जांघ पर लैपटॉप रखकर काम करने के नुकसान।
उबला अंडा खाना चाहिए या फिर अंडे को फ्राई करके खाना अच्छा रहेगा?
सोयाबीन खाने के फायदे जानिए।
जानिए अगरबत्ती का धुँआ सेहत के लिए कैसे होता हैं हानिकारक।

One thought on “नीम का पानी पीने के फायदे और उपयोग.

  1. नवदीप धीमान

    नीम जा पानी कैसे बनाये ओर कितनी मात्रा में ले

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *