प्रेगनेंसी में अखरोट खाने के फायदे जानिए।

प्रेगनेंसी में अखरोट खाने के फायदे जानिए।

गर्भावस्था के दिनों में गर्भवती महिला को अपनी डाइट का विशेष ध्यान रखना पड़ता हैं। क्योंकि वह जो चीज़े खाती हैं, उसका फायदा या नुकसान उसके होने वाले बच्चे को भी होता हैं। अगर गर्भवती स्त्री पौष्टिक आहार का सेवन करती हैं, तो गर्भ में पल रहे बच्चे का विकास भी अच्छी तरह से होता हैं।

आज के लेख में हम जानेंगे की प्रेगनेंसी में अखरोट क्यों खाना चाहिए? इससे क्या फायदे होते हैं? गर्भावस्था में गर्भवती महिला को अखरोट खाने से बहुत सारे लाभ होते हैं।

प्रेग्नेंट महिलाओं को भोजन ज्यादा मात्रा में ही खाना चाहिए। क्योंकि उन्हें न सिर्फ अपने लिए भोजन खाना पड़ता हैं, बल्कि वह होने वाले शिशु के पोषण के लिए भोजन करती हैं। अगर आप प्रेगनेंसी पीरियड में आम दिनों के मुकाबले ज्यादा भोजन नहीं करती हैं तो आपके गर्भ में पल रहे बच्चे को परेशानियां हो सकती हैं।

प्रेग्नेंट महिला को फैटी एसिड से भरपूर आहार जैसे की अखरोट आदि का सेवन जरूर करना चाहिए। अखरोट खाने से गर्भ में पल रहे बच्चे को फूड एलर्जी होने का खतरा काफी कम हो जाता हैं। अखरोट में बच्चे की ग्रोथ के लिए जरूरी पोषक तत्व भी मौजूद होते हैं।

अखरोट मिनरल्स, विटामिन्स, ओमेगा-3 फैटी एसिड, एंटीऑक्सीडेंट का खज़ाना हैं। जो माँ और उसके होने वाले बच्चे को तंदरुस्त बनाये रखता हैं। अखरोट खाने से गर्भवती महिलाओं को एनर्जी प्राप्त होती हैं। लेकिन गर्भावस्था के दिनों अखरोट थोड़ी और सिमित मात्रा में ही खाना चाहिए, क्योंकि अगर आप इसे ज्यादा मात्रा में खाती हैं तो इससे परेशानी हो सकती हैं। लेकिन फिर भी गर्भावस्था के दिनों में अखरोट खाने की सलाह दी जाती हैं।

प्रेगनेंसी में अखरोट खाने के फायदे :-

■ गर्भवती स्त्री की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये

गर्भवती महिला को इन्फेक्शन आदि से बचने की ज्यादा जरूरत होती हैं। इसलिए उनकी बॉडी की इम्युनिटी का मजबूत होना ज्यादा जरूरी हैं। अखरोट में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन ई, polyphenols और कॉपर गर्भवती महिला की इम्युनिटी को बूस्ट करते हैं। इसलिए गर्भवती महिला को अखरोट का सेवन जरूर करना चाहिए।

■ अच्छी नींद लाने में मददगार

प्रेगनेंसी के समय अखरोट खाने से नींद अच्छी आती हैं। अखरोट का सेवन करने से गर्भवती स्त्रियों के अंदर मेलाटोनिन नामक हॉर्मोन बनने लगता है, जिससे उन्हें अच्छी नींद आती हैं।

■ बच्चे के दिमाग का विकास करे

अखरोट ओमेगा-3 फैटी एसिड का सबसे बढ़िया स्रोत हैं जो गर्भ में पल रहे बच्चे के ब्रेन के विकास में सहायता करता हैं। इसमें पाए जाने वाले मिनरल्स जैसे की सेलेनियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम, मैंगनीज, आयरन, कॉपर, जिंक, कैल्शियम जैसे तत्व एक तरफ बच्चे के दिमागी विकास के लिए जरूरी होते हैं, साथ ही यह उसका शारीरिक विकास करने में भी मदद करते हैं।

■ वजन को कण्ट्रोल में रखे

अखरोट में प्रोटीन और फाइबर अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं, जिससे आप ओवरईटिंग से बच जाती हैं। अखरोट का सेवन करने से आप फास्टफूड आदि का सेवन करने से बची रहती हैं, जिससे आपको कई तरह की बीमारियाँ जैसे की डायबिटीज आदि होने का ख़तरा भी कम रहता हैं और वजन भी कण्ट्रोल में रहता हैं।

■ हाई ब्लड प्रेशर कम करे

प्रेगनेंसी के दौरान अखरोट खाने से कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में मदद मिलती हैं, साथ ही इससे हाई ब्लड प्रेशर भी कम होता हैं। यह बॉडी में ख़राब फैट को कम करके, शरीर में अच्छे फैट की मात्रा को बढ़ाता हैं।

■ सूजन कम करे और ब्लड सर्कुलेशन तेज़ बनाये

गर्भावस्था के समय अखरोट का सेवन करने से आंतरिक सूजन को कम करने में मदद मिलती हैं। इसके अलावा अखरोट खाने से ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर बनता हैं। जिससे बच्चे तक ज्यादा मात्रा में खून की सप्लाई होती हैं, इससे उसे माँ के जरिये ज्यादा मात्रा में ऑक्सीजन और पोषक तत्व प्राप्त होते हैं।

■ बच्चे के विकास में मददगार

इसमें मौजूद कॉपर भ्रूण के विकास लिए जरूरी होता हैं। अखरोट में उपस्तिथ फैटी एसिड (अल्फा-लिनोलेनिक एसिड) बच्चे के हड्डियों और दांतों के विकास में सहायता प्रदान करता हैं।






इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *