प्रोटीन ड्रिंक से क्या नुकसान होते हैं?

प्रोटीन ड्रिंक से क्या नुकसान होते हैं?

अगर आप नियमित रूप से जिम जाते हैं तो अब तक आपने कई प्रोटीन ड्रिंगक्स का नाम सुन लिया होगा। कहते हैं कि कसरत के कारण हमारे शरीर में प्रोटीन की जरुरत बढ जाती है। इस जरूरत को पूरा करने के लिए हमें इन कृत्रिम चीजों का सेवन करने की आवश्यकता है। ये शरीर की प्रोटीन जरूरतों को पूरा करने में मदद करती हैं। परंतु प्रोटीन शेक केवल लाभदायक ही नहीं बल्कि नुकसानदायक भी होते हैं।

प्रोटीन पाउडर में कई विषाक्त पदार्थ मिलाए जाते हैं जिनकी मौजूदगी लेबल पर दर्ज नहीं होती है। इन विषाक्त पदार्थों में लेड, आर्सेनिक व पारा शामिल है। अगर फिर भी आप इन्हें पीने में रूचि रखते हैं तो जैविक प्रोटीन शेक का सेवन करें। परंतु यह इस समस्या का हल नहीं है। प्रोटीन से समृद्ध खाद्य पदार्थ, प्रोटीन के साथ शरीर को अन्य पोषण तत्व भी प्रदान करेंगे।

आज हम प्रोटीन ड्रिंगक्स से होने वाली स्वास्थ्य समस्याओं को संझा करेंगे  तथा इसके हानिकारक प्रभावों के बारे में भी बताएँगे।

प्रोटीन ड्रिंक से होने वाली स्वास्थ्य समस्याएं

 

1 एलर्जी :– जिन्हें अंडा, सोया व दूध से एलर्जी है उन्हें इन प्रोटीन ड्रिंगक्स से भी एलर्जी हो सकती है। ऐसी स्थिति में वे दस्त, उल्टी व निर्जलीकरण का शिकार हो सकते हैं। इस तरह इसके सेवन से आपको फायदा कम व नुकसान ज्यादा होगा।

 

2 पेट की खराबी :-   दूध से बनाए जाने वाले प्रोटीन शेक में लैक्टोज होता है। अतः जो लोग दूध में मौजूद लैक्टोज नहीं पचा पाते हैं उन्हें पेट की समस्या हो सकती है। इस वजह से आपको गैस, दस्त, पेट में मरोड या पेट में भारीपन महसूस हो सकता है।

 

3 अंगों के लिए नुकसानदेह :–   शरीर की प्रोटीन की जरूरत को पूरा करने के लिए प्रोटीन पाउडर को दूध में मिलाकर पीना बहुत आसाना है और इस वजह से प्रोटीन के सेवन की मात्रा बढ जाती है। शरीर में प्रोटीन की अति गुर्दे व यकृत को नुकसान पहुंचा सकती है। गुर्दे व यकृत के रोगियों में इसकी संभावना अधिक है। यह प्रोटीन पाउडर का एक नकारात्मक गुण है।

 

4 विषाक्त पदार्थ :–   कई प्रोटीन पाउडर में लेड, आर्सेनिक व पारा जैसे हानिकारक एवं विषैले तत्व शामिल हो सकते हैं। कंपनी इनकी मौजूदगी का खुलासा लेबल पर नहीं करती है। परंतु कई प्रयोगशालाओं में हुए परीक्षणों ने इनकी उपस्थिति को दर्शाया है। इनका सेवन धीरे-धीरे हमारे शरीर में विषाक्तता को बढाता है।

 

5 वजन को बढ़ता है :- आपका वजन दो कारणों से बढ सकता है। एक, जरूरत से अधिक मात्रा में प्रोटीन शेक का सेवन करने से और दूसरा शरीर में मौजूद प्रोटीन का इस्तेमाल ना करने पर। क्योंकि प्रोटीन को अवशोषित करने में शरीर को थोडा अधिक समय लगता है। अतः बैठे रहने से आपके शरीर में मौजूद प्रोटीन फैट में तबदील हो सकता है।

 

6 कुपोषण :-   प्रोटीन की जरूरत को पूरा करने के लिए केवल प्रोटीन शेक पर निर्भर होने से आप कुपोषण का शिकार हो सकते हैं। क्योंकि हमारे शरीर को प्रोटीन के साथ-साथ अन्य पोषक तत्व जैसे कैल्शियम, आयरन, विटामिन व खनिज की भी आवश्यकता है। जिन्हें आप प्रोटीन से समृद्ध अन्य खाद्य पदार्थों से सेवन से पूर्ण कर सकते हैं।

 

7 कोलेस्ट्रॉल व हृदय रोग :-   कुछ प्रोटीन शेक में वसायुक्त पदार्थ होते हैं जिनके सेवन से आपके कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ सकता है। कोलेस्ट्रॉल, हृदय रोग व स्ट्रोक के खतरे को बढ़ाता है।

 

8 थायरॉयड :- प्रोटीन शेक में सोया मौजूद होता है। सोया, थायरॉयड ग्रंथि को आयोडीन को अवशोषित करने से रोकता है तथा थायरॉयड ग्रंथि की क्षमता को घटाता है। इस तरह प्रोटीन शेक थायरॉयड व गण्डमाला की समस्या का कारण बनता है।

 

9 पोषण की कमी :-  प्रोटीन शेक में चीनी एवं कृत्रिम सामग्री उच्च मात्रा में मौजूद होने के कारण यह हमारे स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक है। अतः हमें प्रोटीन शेक के बजाय प्रोटीन से युक्त अन्य खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

कीवर्ड:- प्रोटीन ड्रिंक पीने के नुकसान. Side effects of Protein drinks in Hindi. Protein drinks peene ke kya nuksan hote hain? 




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

तांबे के बर्तन में रखा हुआ पानी पीने के 15 फायदे जानिए।
मुलेठी से मिलते हैं यह लाभ.
मेथी के पत्ते (साग) खाने के फायदे.
नकसीर का आयुर्वेदिक इलाज करने के तरीके और उपाय.
अरबी खाने के फायदे और घरेलु नुस्खे.
तिल के फायदे जरूर जानिए.
सूप पीने के 10 बेहतरीन फायदे जरूर पढ़े।
ज्याद आम खाने के होते हैं यह नुकसान।
जानिए क्या होता हैं जब आप नकली या मिलावटी घी खाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *