बच्चों को स्वस्थ्य रखने वाले 7 हेल्दी फूड.

Baccho ke liye best food. बच्चे को जरूर खिलाना चाहिए यह आहार. बच्चों के लिए सर्वोतम आहार और खाद्य पदार्थ.

बच्चो को खाने में सही प्रकार से पोषण का मिलना अति आवश्यक हैं, क्योंकि अगर बचपन के दिनों में बच्चे सही पोषण से वंचित रहेंगे तो उन्हे बड़े होने पर भी पूरी जिंदगी कई सारी बीमारियों का सामना करना पड़ेगा.

आपको यह जानना जरूरी हैं की बचपन के दिनों में बच्चे को अलग-अलग न्यूट्रियेंट्स की ज़रूरत होती हैं, ताकि उसके शरीर और मष्तिक दोनो का सही तरह से विकास हो सके. आप यह समझते हैं की दूध का गिलास पिला कर, दाल चावल खिला कर या फिर परांठा आदि खिला कर आप अपने बच्चे को स्वस्थ्य बना देंगे तो आप गलत सोच रहे हैं.

बच्चों को कुछ विशेष प्रकार के आहार खिलाना चाहिए. आज हम आपको उन्ही खास चीज़ो के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हे खाने से बच्चे को न्यूट्रियेंट्स की कमी नही होती हैं और बच्चा सेहतमंद बना रहता हैं. इन आहार को सुपर फ़ूड के नाम से भी संबोधित किया जाता हैं.

बच्चों को जरूर खिलाना चाहिए यह आहार :-

1. पालक :- कई बार बच्चो को पालक खाना बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता हैं. लेकिन पालक एक सूपर फुड हैं. इसमे ढेर सारा विटामिन ए, सी के अलावा फोलिक एसिड, फाइबर, मैग्नीशियम और कई ज़रूरी न्यूट्रियेंट्स पाए जाते हैं. यह कैंसर को रोकने में सहायक होता हैं.

पालक खाने से खून में वृद्धि होती हैं, यह आँखो की रोशिनी को बढ़ाता हैं. मसूड़ो और हड्डियों को मजबूत बनाने में पालक सहायता करता हैं. पालक की सबसे अच्छी बात यह हैं की आप इसके कई तरह के पकवान बना सकते हैं. आप इसे पिज़्ज़ा में मिला कर बच्चे को खिला सकते हैं. आटे में गूंथ कर या मिला कर इसका परांठा या रोटी बना सकते हैं. दाल में डाल कर पालक वाली दाल बना सकते हैं. सब्ज़ियो के साथ मिक्स करके भी बच्चे को खिला सकते हैं. पालक के पकौड़े भी बच्चों को अच्छे लगेंगे.


2. मछली :- मछली हर व्यक्ति के लिए बहुत ही लाभकारी खाद्य पदार्थ हैं. गर्भवती महिला हो या बुढ़ा आदि, नवयुवक हो या फिर बच्चा हर किसी को मछली का सेवन जरूर करना चाहिए. इसमे एंटीऑक्सीडेंट, ज़िंक और आयोडीन बहुत ही अच्छी मात्रा में पाया जाता हैं. इसमे दिमागी विकास के लिए जरूरी ओमेगा-3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं. यह विटामिन ए, इ और डी का भी अच्छा स्रोत हैं.

आप अपने बच्चे को मछली के पकौड़े, फिश फिंगर या चिप्स खिला सकते हैं. वैसे मछली की सब्जी बना कर खिलाने से भी बच्चे इसे चाव के साथ खाते हैं. बच्चे को मछली में से कांटे निकालना जरूर सिखाये. बच्चों को मछली खिलने से उनका दिमाग तेज़ होता हैं और आँखों की रोशिनी बढ़ती हैं.


3. स्प्राउट्स :- अंकूरित चना, मूँग या सोयाबीन पौष्टिकता से भरपूर होता हैं, यह आपको बताने की ज़रूरत नही हैं. इसमे सभी विटमिन्स जैसे विटामिन ए, बी, सी, डी, इ और K पाए जाते हैं. यह प्रोटीन का बहुत अच्छा सोर्स माने गये हैं.

अंकुरित अनाज़ में फाइबर की मात्र बहुत अधिक होती हैं, जिस कारण यह पाचन तंत्र के लिए बहुत ही फायदेमंद होता हैं और पाचन में मदद करता हैं. इसमे कई ज़रूरी मिनरल्स भी पाए जाते हैं. आयरन से भरपूर होने की वजह से यह बच्चे में खून की कमी को दूर करता हैं और उन्हे अनीमिया जैसी बीमारी से बचाता हैं. इनके सेवन से बाल और नाख़ून दोनो ही मजबूत होते हैं. स्प्राउट्स खाने से टेंशन से भी मुक्ति मिलती हैं. यह बॉडी के कोलेस्टरॉल लेवल को भी कंट्रोल में रखता हैं.

सलाद या रायते में मिला कर या फिर आलू के साथ मिक्स करके परांठा बना कर आप बच्चो को इसे खिला सकती हैं. आप इसकी टिक्की भी बना सकती हैं, जिसे बच्चे बड़े ही मज़े के साथ खाना पसंद करेंगे.


4. बैंगन :- बैंगन को हम बेकार की चीज़ समझते हैं, लेकिन बैंगन बेगुण नहीं हैं. बैंगन विटामिन B6 का बहुत ही उत्तम स्रोत हैं. मात्र 75 ग्राम बैंगन खाने से हमारे दिन भर की जरूरत का विटामिन B6 की पूर्ति हो जाती हैं.

आप बच्चों को बैंगन का भर्ता और इसके रोस्ट कर इसका डीप भी बना सकते हैं. साथ ही आप बैंगन भाजा भी बना सकती हैं, बच्चे इसे बड़े चाव के साथ खाते हैं.


5. ब्रोक्कोली :- बच्चों को ब्रोकोली खाना बिल्कुल भी नहीं भाता हैं, लेकिन ब्रोक्कोली से विटामिन K की प्राप्ति होती हैं, जो बच्चों के लिए बहुत ही ज़रूरी विटामिन हैं. इसमे भरपूर मात्रा में फाइबर और विटामिन A और सी भी होता हैं.

आप इसे आलू के साथ मिक्स करके इसका सूप भी बना सकती हैं. इसका स्वाद ज़रूर ही आपके बच्चों को पसंद आएगा. इसके अलावा ब्रोक्कोली का इस्तेमाल आप दूसरी सब्ज़ियो के मिला कर भी कर सकते हैं. आप इसे आलू के साथ मिला कर टिक्की भी बना सकते हैं.


6. चुकंदर :- चुकंदर खाने से इन्स्टेंट एनर्जी मिलती हैं. इसमे एनर्जी देने वाला ढेर सारा कारबोहाइड्रेट होता हैं, लेकिन इससे वज़न नही बढ़ता हैं. मैग्नीशियम, आयरन और कैल्शियम के साथ-साथ इसमे विटामिन ए और सी भी होता हैं.

कई रिसर्च से यह साबित हुआ हैं की नियमित रूप से चुकंदर खाने से कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से बचा जा सकता हैं. आप बच्चों को सलाद में मिला कर चुकंदर को खिला सकते हैं. इसका सूप और जूस बना कर भी बच्चों को पीला सकते हैं. यह खून को बनाने में मदद करता हैं.


7. शिमला मिर्च :- हरे, लाल और पीले रंग में पाई जाने वाली शिमला मिर्च भी बच्चों को जरूर खिलानी चाहिए. यह रंग बिरंगी सब्ज़ी विटामिन सी से भरपूर होती हैं. आपको जानकार हैरानी होगी की शिमला मिर्च में नींबू और संतरे के मुक़ाबले कंही ज़्यादा विटामिन सी पाया जाता हैं.

इसमें एंटीऑक्सीडेंट बहुत ही अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं. यह कैंसर को रोकने में भी मदद करता हैं. यह बैक्टीरिया के अटैक से आपके बच्चे की रक्षा करता हैं. शिमला मिर्च बॉडी के कोलेस्टरॉल लेवल को भी कंट्रोल करता हैं, साथ ही बॉडी का मेटाबॉलिज़म रेट भी बढ़ाता हैं.

आप इसे चावल के साथ मिक्स करके बच्चे को खिला सकती हैं. इसे नूडल्स और पास्ता में ज़रूर डालिए. इसे चिकन के साथ ज़रूर मिक्स करे या दूसरी सब्ज़ियो के साथ ज़रूर मिलाए . आलू भरे हुए शिमला मिर्च बड़े ही स्वादिष्ट लगते हैं, आपके बच्चे भी इन्हे बड़े ही चाव के साथ खाएँगे.


Loading...


इन्हें भी जरूर पढ़े...

One thought on “बच्चों को स्वस्थ्य रखने वाले 7 हेल्दी फूड.

  1. जमशेद आज़मी

    बहुत ही अच्‍छी किस्‍म की पोस्‍ट। बच्‍चों के पोषण का हमें जरूर ध्‍यान रखना चाहिए। मछली एक ऐसा व्‍यंजन है जोकि शारीरिक और मानिसिक दोनों ही आवश्‍क्‍ताओं की पूर्ति करता है। वैसे मछली मेरा पसंदीदा व्‍यंजन भी है।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *