बरगद के पेड़ के फायदे, इसके घरेलु नुस्खे और उपाय।

बरगद के पेड़ के फायदे, इसके घरेलु नुस्खे और उपाय।

बरगद का पेड़ भारत में पूजनीय माना जाता हैं। बरगद का पेड़ भारतीय लोगो में धार्मिक मान्यताओं से जुड़ा हुआ हैं। कई सारे व्रत और त्यौहार बरगद के पेड़ बिना अधूरे हैं। कई जगहों पर बरगद के पेड़ की पूजा तक भी की जाती हैं। विशेष करके वट सावित्री व्रत, बरगद के पेड़ के बिना पूरा ही नहीं किया जा सकता हैं।

बरगद का पेड़ भारत का राष्ट्रीय पेड़ हैं। यह हमारी धार्मिक भावनाओं से जुड़ा हुआ हैं। लोगो का इसका पूजना व्यर्थ नहीं हैं, क्योंकि बरगद का पेड़, इसके पत्ते, फल, डंठल और इससे निकलने वाला दूध सभी औषधीय गुणों से भरपूर माने जाते हैं। बरगद के पेड़ से निकलने वाला दूध और इसका फल कई सारी बिमारियों के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं। आज के लेख में हम बरगद के पेड़ के फायदे, इसके घरेलु नुस्खे और उपाय आदि सभी के बारे में जानेंगे। Health Benefits & Home Remedies of Banyan Tree in Hindi.

बरगद के पेड़ के घरेलु नुस्खे, उपाय और इसके फायदे :-

दांत दर्द से आराम दिलाता हैं

बरगद के पेड़ की छाल को कत्थे और काली मिर्च के साथ पीसकर पाउडर बना ले। इस पाउडर को टूथपेस्ट की जगह पर प्रयोग करे, इससे दांतों के दर्द से तुरंत आराम मिल जाता हैं।

इसके दूध को आप कॉटन बॉल की सहायता से दांत दर्द वाली जगह पर लगाये। इससे भी दांत दर्द से छुटकारा मिलता हैं। इसको लगाने से किसी भी प्रकार के इन्फेक्शन होने का खतरा नहीं रहता हैं।

चेहरे की रंगत निखारने में मदद करे

1. बरगद की पत्तियों और फूलो को एक साथ पीसकर उसमे केसर मिला कर चेहरे पर लगाए, इससे चेहरे की रंगत निखरने लगती हैं।

2. 6 से 7 बरगद की पत्तियों को मसूर की दाल के साथ पीस ले। इसे चेहरे और हाथ पैर पर अच्छे से लगाये। यह हर प्रकार के स्किन प्रॉब्लम से निजात दिलाने में आपकी मदद करता हैं।

3. बरगद की पीली पत्तियों को चमेली की पत्तियों और चन्दन पाउडर को एक साथ मिक्स करे और इनका पेस्ट बनाये। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाने से दाग-धब्बे दूर होने लगते हैं।

नकसीर का उपचार

बरगद के पेड़ की छाल को छाछ के साथ मिला कर इसका पाउडर बना ले। नाक से खून निकलने की समस्या बहुत जल्द दूर हो जाती हैं।

उल्टी की समस्या में

बरगद की पत्तियों को 6-7 लौंग को पानी में अच्छी तरह से पीस कर पीजिये। इससे उल्टी में बहुत ही जल्दी फायदा मिलता हैं।

बालों की समस्याओं में

 इसकी कोमल पत्तियों को सरसों के तेल के साथ मिलाये और इसे थोड़ी देर तक गर्म करने के बाद इसे बालों पर लगाये। इससे बालों की समस्याओं से छुटकारा मिलता हैं।

○ बरगद के पत्तियों को जला कर इसकी राख बना ले, फिर इसमें 2-3 चम्मच अलसी का तेल मिलाये और इससे सिर की मालिश करे। इससे गिरते बालों की समस्या को ख़त्म  किया जा सकता हैं।

इसके अलावा इसकी छाल और तिल के बीजो को एक साथ मिला कर पाउडर बनाये। इसे 30 मिनट के लिए बालों पर लगाये, इसके बाद सिर को पानी से धो ले। फिर इसके बाद बालों में नारियल का तेल लगाये। इससे बालों की ग्रोथ बढ़ने लगती हैं।

मूत्र सबंधित समस्याओं का उपचार

बरगद के फलो को पीसकर पाउडर बना ले। दिन में 2 बार इस पाउडर को दूध के साथ ले। इससे मूत्र से सम्बंधित सभी प्रकार की समस्याएं दूर हो जाती हैं।

जलन से आराम दिलाये

बरगद की ताज़ी पत्तियों को दही के साथ पीसकर पेस्ट बनाये और इसे जलन वाली जगह पर लगाये। इससे आपको जलन से बहुत ही ज्यादा राहत मिलता हैं।

डायबिटीज में बरगद का प्रयोग

बरगद की छाल को अच्छी तरह से पीस ले। फिर इसकी 20 ग्राम मात्रा को पानी में डाल कर उबालिए। ठण्डा होने के बाद दिन में 2 बार इसे पिए। लगातार एक महीने तक इसका इस्तेमाल करने से आपको डायबिटीज में लाभ मिलता हैं।

आँखों की सूजन दूर करे

बरगद से निकलने वाले दूध को लगभग 125 मिलीग्राम कपूर और 2 चम्मच शहद के साथ मिक्स करे। फिर आप इन्हें आँखों पर लगाये, इससे आँखों की सूजन दूर होती हैं, यह आँखों की सूजन को कम करने का बहुत ही कारगर उपाय माना जाता हैं।

मूंह के छाले दूर करे

बरगद के पेड़ की कोमल पत्तियों को पानी के साथ उबालिए। उतनी ही मात्रा में इसमें तिल का तेल मिलाये और अच्छे से पकाए। दिन में 2 से 3 बार इसे छालों पर लगाये। इसे लगाने से मूंह के छालें बहुत जल्दी ठीक होने लगते हैं

कान में समस्या होने पर

बरगद से निकलने वाले दूध को सरसों के तेल के साथ मिक्स करे। कान में इसकी 2-2 बूँद डाले। इससे कान का दर्द दूर हो जाता हैं साथ ही कान में इन्फेक्शन होने का खतरा भी कम हो जाता हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *