बुखार को कम करने के आसान घरेलु नुस्खे और उपाय।

बुखार कम करने के आसान घरेलु नुस्खे और उपाय। Home remedies of Fever in Hindi.

आइये बुखार कम करने के घरेलु उपाय और घरेलु नुस्खे के बारे में जानते हैं, जब भी बुखार होता हैं तो हमारा शरीर गर्म हो जाता हैं। दरअसल जब कोई बैक्टीरिया या वायरस हमारे शरीर में दाखिल हो जाता हैं तो हमारा शरीर उसे नष्ट करने के कोशिश करने लगता हैं, जिससे आपकी बॉडी का टेम्परेचर 98.3 डिग्री फॉरनहाइट से बढ़ जाता हैं, जिसे बुखार माना जाता हैं।

कई बार ज्वर मौसम के बदलने के कारण भी होता हैं, वैसे तो 100 डिग्री तक के बुखार में किसी दवाई की जरूरत नहीं पड़ती हैं। लेकिन अगर यही 100 डिग्री की रेंज वाला बुखार 4 से 5 दिन तक लगातार बना रहे तो आपको उपचार करवाने की जरूरत हैं। कई बार बुखार 104 से 105 डिग्री फॉरनहाइट तक भी हो सकता हैं। इस स्तिथि में तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। आज के लेख में बुखार को कम करने वाले कारगर, आसान घरेलु नुस्खे और उपाय के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं जो तेज़ बुखार को कम करने में उपयोगी साबित होते हैं। Home Remedies for Fever in Hindi.

बुखार कम करने वाले कारगर घरेलु नुस्खे और उपाय :-

लहसुन

कच्चे लहसुन को शहद के साथ खाने से भी बुखार में आराम मिलता हैं। 2 बड़े चम्मच जैतून के तेल में 2 कच्चे लहसुन की कलियों का पेस्ट मिलाये और इसे गर्म करे। अप इस मिश्रण को पैरो के तलवों पर लगाये और इसे किसी प्लास्टिक के कवर से लपेट दे। इसे रात भर के लिए लपेट कर छोड़ दे, इससे आपको बुखार से राहत मिलेगी।

चावल स्टार्च

चावल का मांड भी बुखार में फायदेमंद होता हैं। एक भाग चावल में आधा भाग पानी मिला कर इसे आधा पकने तक उबाले। फिर इसके पानी को निकाल कर अलग करले और इस चावल के मांड में नमक मिला कर गरमा गर्म पिए इससे वायरल बुखार में बहुत फायदा मिलता हैं।

किशमिश

25 किशमिश को पानी के साथ पीस ले और इस पानी को छान ले। इसमें आधा चम्मच निम्बू का रस मिलाये और दिन में 2 बार पिए। ऐसा करने से तेज़ बुखार को कम किया जा सकता हैं।

यह भी पढ़े :- किशमिश का पानी पीने के फायदे।

सरसों के दाने

एक कप गर्म पानी में एक चम्मच सरसों के दाने डाले और इसे 5 मिनट तक ऐसा ही रहने दे, फिर इसे पी लीजिये। Fever  कम करने का यह कारगर उपाय हैं।

मेथी का पानी

आधा कप पानी में एक बड़ा चम्मच मेथी के बीज को भिगोए। सुबह इस पानी को नियमित अंतराल पर पीने से वायरल बुखार को दूर किया जा सकता हैं। मेथी के बीज, शहद और निम्बू का मिश्रण तैयार करके उसका भी इस्तेमाल किया जा सकता हैं।

प्याज

कच्चे प्याज के टुकड़े को पैरो के तलवे में अच्छी तरह से किसी गर्म कपड़े से बाँधने से भी बुखार से राहत मिलती हैं।

तुलसी

एक कप पानी में 4-5 तुलसी के पत्तों को उबाल कर ठण्डा करके दिन में 2 से 3 बार पीने से बुखार में आराम मिलता हैं।

तुलसी लौंग का काढ़ा

20 तुलसी की ताज़ी पत्तियों में आधे से एक चम्मच लौंग का पाउडर को ले और इन्हें एक लीटर पानी में उबाले। इस पानी को तब तक उबाले जब तक पानी आधा न रह जाये। इस काढ़े को हर 2 घंटे के बाद पीजिये। इससे आपका बुखार कम हो जायेगा।

गर्मी को कण्ट्रोल करे

कमरे के तापमान को कम करने के लिए खिड़की को खोले। अगर ठण्डा मौसम हैं तो अपने पास एक कम्बल रखे। अपने शरीर के तापमान को नियंत्रित करने के लिए उन कपड़ों का इस्तेसमाल करने के बजाय जिन्हें उतारना मुश्किल हो, कंबल का इस्तेेमाल बेहतर रहता है। ठंडा भोजन करने से भी आपको लाभ होता हैं।

यह भी पढ़े :- गर्मी की गर्म रातों में सोने के टिप्स। 

ठंडी और गर्म पानी और जुराब

एक कटोरा गर्म पानी और एक कटोरा ठण्डा पानी ले। अब एक जुराब को ठंडे पानी में भिगोए और अपने पैरो को गर्म पानी में एक मिनट के लिए डुबोये। फिर जुराब को निचोड़ ले और इसे पहन ले और इसके ऊपर 2 और जुराबें भी पहन ले। इस जुराब को कुछ घंटो तक पहनने से बुखार कम होने लगता हैं।

खूब पानी पीना चाहिए

बुखार होने पर आपको खूब ढेर सारा पानी पीना चाहिए। इसके अलावा आप जूस भी पी सकते हैं। नींबू, लैमनग्रास, पुदीना, साग, शहद आदि भी आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं।

सिरका

अपने नहाने के पानी में सिरका मिलाये और 10 मिनट बाद इस पानी से नहाये। इससे आपको बुखार कम करने में फायदा होता हैं। आलू के टुकडो को सिरके में डुबोए और अब इन आलू के पतले स्लाइस को अपने माथे पर लगाये और किसी कपड़े से बाँध दे। इससे भी बुखार की कम किया जा सकता हैं। एक कटोरी गुनगुने पानी में थोडा सा सिरका डाल कर इस पानी की पट्टियाँ बना कर माथे पर रखने से भी तेज़ बुखार कम होने लगता हैं।

सूखी अदरक

2 माध्यम आकार के सूखी अदरक या सोंठ पाउडर को एक कप पानी में डाल कर उबाले। दूसरा उबाल आने पर आप इसमें थोड़ी सी काली मिर्च, चीनी और हल्दी डालिए और उबाले। इसे दिन में 3 से 4 बार पीने से वायरल बुखार में आराम मिलता हैं।

वज्रांगी की पत्तियां

इन पत्तियों को पानी में उबाले और इस पत्तियों के निचे का हिस्सा खाने से तेज़ बुखार से राहत मिलता हैं।

सोआडील का बीज

एक कप उबलते पानी में सोआडील का बीज डाले और इसे उबाले। फिर इसमें एक चुटकी दालचीनी भी मिलाये। इसे गर्म चाय की तरह पीने से ज्वर दूर हो जाता हैं।

निम्बू के पानी की जुराब

एक कप गर्म पानी में निम्बू का रस मिलाये। अब आप इस पानी में रूई के फोहे डाले और इसे निचोड़ ले। अब आप इन रूई के फोहो को जुराब में डाले और इस जुराब को रात भर पहन कर सो जाये, इस उपाय को करने से बुखार कम होने लगता हैं।

धनिया के बीज

एक कप पानी में 1 बड़ा चम्मच धनिये के बीज डालिए और इसे उबाले। इसके बाद इसमें थोड़ा दूध और चीनी मिलाये। इस तरह धनिये की चाय तैयार हो जाएगी और इसे पीने से  बहुत ही जल्दी आराम मिलता हैं।

निम्बू

निम्बू को काट कर इसके टुकड़े से पैरो के तलवो पर मसाज करे। आप चाहे तो निम्बू के कटे हुए टुकडो को जुराबो में डाल कर सारी रात पहनकर सो सकते हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *