मूंग की दाल खाने के फायदे जरूर पढ़े लेख।

भारत में विभिन्न-विभिन्न प्रकार की दालों का पैदावार होती हैं। हर राज्य में अलग-अलग दालें खाने का प्रचलन हैं। सभी दालों के अपने अपने खास फायदे होते हैं। इन्ही दालों में से एक हैं मूंग की दाल। आज हम आपको मूंग की दाल खाने के फायदे के बारे में बतायेंगे। Health Benefits of Moong Dal in Hindi.

सभी दालों में प्रोटीन बहुत ही ज्यादा मात्रा में पाया जाता हैं। मूंग की दाल 2 प्रकार की होती हैं, पहली पीली और दूसरी हरी। पीली मूंग की दाल धूलि हुयी और छिलके के बगैर होती हैं, जबकि हरी मूंग दाल छिलकों के समेत होती हैं। हरी मूंग दाल को साबुत मूंग भी कहा जाता हैं। मूंग की दाल को खाने के अलावा इसका हलवा भी बनाया जाता हैं। मूंग की दाल खाने में जितना ज्यादा स्वादिष्ट होती हैं, सेहत के नजिरये से भी उतनी ही ज्यादा फायदेमंद मानी जाती हैं।

मूंग की दाल पेट के लिए काफी लाभकारी मानी जाती हैं। यह शाकाहारी लोगो की पसंदीदा दालों में से एक हैं।

मूंग की दाल में 50% तक प्रोटीन होता हैं। इसमें फाइबर और कार्बोहाइड्रेट्स भी बहुत ही अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। इसके अलावा मूंग की दाल में विटामिन्स, फॉस्फोरस और मिनरल्स भी पाए जाते हैं। इस सेहतमंद दाल का आप सूप भी बना कर ले सकते हैं। बीमार लोगो को पीली मूंग दाल खाने की सलाह डॉक्टर देते हैं।

मूंग की दाल खाने के फायदे

गर्भवती महिलाओं के लिए लाभकारी

गर्भवती स्त्रियों को मूंग की दाल का सेवन जरूर करना चाहिए। क्योंकि यह न सिर्फ उनके लिए फायदेमंद हैं, बल्कि होने वाले बच्चे के लिए भी लाभकारी होती हैं। इसलिए गर्भवती महिला हफ्ते में कम से कम 3 दिन मूंग की दाल को जरूर खाए।

कमजोरी दूर करे

मूंग की दाल शरीर में ताकत पैदा करती हैं। इसलिए बीमार लोगो को मूंग की दाल खाने की सलाह डॉक्टर देते हैं। मूंग की दाल का सेवन करने से मरीज़ को बहुत जल्दी फायदा होता हैं। अगर कोई व्यक्ति आयरन की कमी से जूझ रहा हैं, उसे अपने भोजन में मूंग की दाल को शामिल करने की जरूरत हैं। यह शरीर की कमजोरी को दूर करती हैं।

पेट के लिए लाभकारी

मूंग की दाल पचने में बहुत ही आसान होती हैं। कब्ज़ की समस्या से परेशान लोगो को मूंग की दाल में बनी खिचड़ी को जरूर खाना चाहिए। इससे पेट सही रहता हैं। पीली मूंग दाल में फाइबर, प्रोटीन, आयरन बहुत ही बढ़िया मात्रा में होते हैं। यह दाल दूसरी दालों के मुकाबले ज्यादा हल्की होती हैं, इसलिए इसे आप बड़ी ही आसानी के साथ हजम कर लेते हैं।

ज्यादा पसीना आने पर

मूंग की दाल का पाउडर पानी में मिला कर मालिश करे। इससे ज्यादा पसीना आने की समस्या से छुटकारा मिलता हैं। इसके लिए मूंग की दाल को हल्का गर्म करके पीस ले। फिर इस पाउडर में पानी मिला कर लेप बना ले और पुरे शरीर पर इस लेप को लगाये। इस लेप को लगाने पर शरीर से ज्यादा पसीना आना कम हो जाता हैं।

वजन कम करे

एक कप पकाई गयी मूंग की दाल में 100 से भी कम कैलोरी होती हैं। इस दाल में पोटैशियम, कैल्शियम एवं विटामिन बी-काम्प्लेक्स होता हैं, लेकिन फैट न के बराबर पाया जाता हैं। इसके सेवन से पेट भरा-भरा सा महसूस होता हैं और आपको लम्बे समय तक भूख नहीं लगती हैं। रात को रोटी के साथ मूंग की दाल को खाना चाहिए। इससे आपको ढेर सारे पोषक तत्व प्राप्त होंगे और वजन कम करने में मदद मिलेगी।

कोलेस्ट्रॉल के लिए अच्छा

मूंग की दाल में फाइबर होता हैं जो शरीर से फ़ालतू कोलेस्ट्रॉल को कम करता हैं। जो लोग कोलेस्ट्रॉल को कम करना चाहते हैं, उन्हें मूंग की दाल जरूर खानी चाहिए।

बच्चों के लिए फायदेमंद

इसमें पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो बच्चों से लेकर बड़े सभी के लिए फायदेमंद होते हैं। बच्चों के विकास के लिए कई सारे न्यूट्रीएंट्स की जरूरत होती हैं, जिसे मूंग की दाल के सेवन से पूरा किया जा सकता हैं। इसलिए बच्चों को मूंग की दाल जरूर खिलाये।

स्किन के लिए अच्छा

मूंग की दाल को खाने से आप स्किन कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से भी बच सकते हैं। जब आप धुप में जाते हैं तो सूरज की अल्ट्रा वायलेट किरणें और पोल्यूशन की वजह से फ्री रेडिकल्स सेल्स आपकी स्किन में प्रवेश कर लेते हैं। जिससे आपकी स्किन डैमेज होने लगती हैं। मूंग दाल में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो फ्री रेडिकल्स सेल्स से लड़ते हैं और आपको स्किन कैंसर होने से बचाने में मदद करते हैं।

ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल करे

मूंग दाल के सेवन से ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल में रहता हैं। यह सोडियम के प्रभाव को कम कर देता हैं, जिससे ब्लड प्रेशर ज्यादा नहीं बढ़ता हैं। दिल के मरीजों को मूंग की दाल जरूर खानी चाहिए। यह दिल के लिए काफी फायदेमंद माना जाता हैं।

दाद-खाज, खुजली दूर करे

छिलके वाली मूंग की दाल को पीस ले, फिर इसका लेप बना कर दाद-खाज, खुजली वाली जगह पर लगाये, इससे आपको काफी आराम मिलता हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...