याददाश्त (स्मरण शक्ति) बढ़ाने के 23 असरदार घरेलु नुस्खे, उपाय और तरीके जानिए।

याददाश्त बढ़ाने वाले उपयोगी घरेलु नुस्खे

आज के युग में लोगो की याददाश्त पहले के मुकाबले काफी ज्यादा कम होने लगी हैं। अगर आप स्टूडेंट हैं तो आपकी ब्रेन मेमोरी शार्प और तेज़ होनी ही चाहिए। इसके अलावा बड़े और बूढ़े लोगो को भी अपनी याददाश्त सही रखनी चाहिए। आज एक लेख में हम याददाश्त बढ़ाने वाले असरदार आसान घरेलु नुस्खे और उपाय लेकर आये हैं। इन घरेलु नुस्खों और उपाय के इस्तेमाल से याददाश्त (स्मरण शक्ति) बढ़ने लगती हैं। ब्रेन मेमोरी तेज़ बनाने वाले इन घरेलु तरीकों को अजमाना भी काफी आसान हैं।

अगर आपको भूलने की समस्या हैं और आप बहुत जल्दी किसी बात को भूल जाते हैं तो कृपया करके निचे बताये गये घरेलु इलाज को जरूर अजमाए। वैसे भी विद्यार्थियों को अपने दिमाग को तेज़ बना कर रखना चाहिए और अपनी याददाश्त को सुधारना चाहिए, तभी तो वह परीक्षा में अच्छे नंबर ला सकते है। तो बिना देर किये ब्रेन मेमोरी (याददाश्त) बढ़ाने वाले उपयोगी आसान तरीके और उपाय को जानते हैं। Home Remedies & Tips for Increase Brain Memory in Hindi.

याददाश्त सुधारने और तेज़ करने वाले उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय :-

1) बेल फल दिमाग के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद हैं। बेल का मुरब्बा 15 दिनों तक नियमित रूप से खाने से दिमाग की कमजोरी दूर होती हैं और याददाश्त तेज़ बनती हैं।

2) पिस्ता और तिल की बर्फी के सेवन से मष्तिक के विकार दूर होते हैं और स्मरण शक्ति तीव्र होती हैं।

3) 250 ग्राम दूध में मुलहठी का पाउडर मिला कर कुछ दिनों तक पीना चाहिए। इससे दिमाग को बहुत ज्यादा फायदा होता हैं और इससे कमजोर याददाश्त सुधरने लगती हैं।

4) सोयाबीन का दूध पीने से या फिर सोयाबीन को गेंहू के आटे में मिला कर पकौड़ी बना कर खाने से भी दिमाग की कमजोरी दूर हो जाती हैं।

5) अगर दिमाग को तेज़ बनाना चाहते हैं तो हरे गेंहू की बाली का रस रोजाना एक चम्मच जरूर पिए, इससे आपको काफी ज्यादा लाभ होगा।

6) दिमाग की कमजोरी दूर करने के लिए यह बहुत ही कारगर घरेलु नुस्खा हैं। 7 दाने बादाम की गिरी को शाम के वक़्त कांच के बर्तन में पानी डाल कर भिगो दे। सुबह उठकर भिगोये हुए बादाम के छिलके निकाल कर बादाम को पीस ले। अगर आपकी आँखें भी कमजोर हो गयी हैं तो इस बादाम के साथ 4 काली मिर्च भी मिला कर पीस ले। अब 250 ग्राम उबलते हुए दूध में इस पीसे हुए बादाम के पेस्ट को मिला ले। इस दूध को अच्छी तरह उबाले, जब दूध में उबाल आ जाये तो इसे आंच से उतारकर इसमें एक चम्मच देसी घी और 2 चम्मच बूरा डाल कर ठंडा करले। लेकिन इसे बिलकुल भी ठंडा न कर, बल्कि यह पीने लायक गर्म होना ही चाहिए। इस दूध को लगातार 15 से 40 दिन तक पीते रहे। इस दूध के सेवन से दिमाग की कमजोरी दूर होती हैं, साथ ही भूलने की बीमारी से छुटकारा मिलता हैं, याददाश्त भी तेज़ बनती हैं। इसके अलावा इस दूध के सेवन से शरीर में ताकत भी आती हैं और यह वीर्य वर्धक भी होता हैं।

7) अगर उपर बताये गए बादाम के दूध को लेना रोजाना मुश्किल लग रहा हैं तो आप 7 बादाम की गिरियों को रात भर पानी में भिगो कर इसके छिलके निकाल कर 4 काली मिर्च के साथ पीस कर या वैसे भी एक-एक बादाम को छीलकर सुबह के समय खूब चबा-चबा कर खा सकते हैं और फिर इन्हें खाने के बाद उपर से गर्म दूध पी ले। इससे स्मरण शक्ति बढ़ने लगती है, साथ ही आँखों की कमजोरी, आँखों से पानी आना, आंख आना, आँखों की थकान जैसी नेत्र रोगों से भी छुटकारा मिलता हैं।

8) 2 चम्मच पके हुए आम के जूस में एक चम्मच अदरक का रस, एक चम्मच तुलसी की पत्तियों का रस और थोड़ा सा शहद मिला कर लेते रहना चाहिए। इससे ब्रेन मेमोरी को बूस्ट करने में मदद मिलती हैं, साथ ही मष्तिष्क से जुड़ी दुर्बलता को दूर करने में मदद मिलती हैं।

9) पीपल के पेड़ की छाल को सुखा कर पीस कर पाउडर बना ले। इसकी थोड़ी सी मात्रा को 2 चम्मच शहद या पानी के साथ मिला कर लेने से कमजोर याददाश्त सुधरने लगती हैं और स्मरण शक्ति में विकास होता हैं।

10) गर्मी के दिनों में पेठा की मिठाई खाने से भी कमजोर ब्रेन मेमोरी ठीक होने लगती हैं। पेठा खा कर भी कमजोर याददाश्त को दुरुस्त बनाया जा सकता हैं।

11) तीन ग्राम शंखपुष्पी का चूर्ण दूध या मिश्री की चासनी के साथ रोजाना सुबह तीन से 4 हफ्ते तक खास करके गर्मियों के दिनों में लेते रहने से ब्रेन मेमोरी तेज़ होती हैं।

12) रोजाना सुबह खाली पेट 2 आंवले का मुरब्बा खाने से भी स्मरण शक्ति बढ़ती हैं। लेकिन आंवले का मुरब्बा खाने के बाद दूध या पानी न पिए, वर्ना इससे आपको कोई लाभ नहीं मिल पायेगा।

13) प्रतिदिन एक कप चुकंदर का जूस पीने से दिमाग की कमजोरी दूर होती हैं, इससे याददाश्त अच्छी होने लगती हैं और दिमाग से जुड़ी समस्याओं से निजात मिलती हैं।

14) रोजाना 2 अंजीर को चबाकर खाने से स्मरण शक्ति तेज़ होने लगती हैं।

15) खरबूजे की गिरी (मगज) को घी में भून ले। इसे सुबह-शाम खाना खाने के बाद 5 ग्राम की मात्रा में रोजाना खाए। इससे याददाश्त के कम होने के समस्या से मुक्ति मिलती हैं, साथ ही ब्रेन शार्प और तेज़ बनता हैं।

16) 4 ग्राम दालचीनी के चूर्ण को ताज़े पानी के साथ लेने से भी दिमाग की कमजोरी को दूर करने में बहुत ज्यादा फायदा होता हैं।

17) 8 से 10 खजूर रोजाना दूध में उबाल कर पीने और खाने मतलब की छुहारे वाला दूध पीने से भी ब्रेन मेमोरी बढ़ जाती हैं। आपकी याददाश्त इतनी ज्यादा अच्छी हो जाएगी की आप पुरानी से पुरानी बात को याद रख पाएंगे।

18) 20 ग्राम पके हुए कद्दू को बिना भूने रोजाना खाने से स्मरण शक्ति में वृद्धि होती हैं।

19) कनपटी, माथे, खोपड़ी और पैरों के तलवों पर रोजाना गाय के घी से 10 मिनट तक मालिश करनी चाहिए, इससे दिमागी कमजोरी दूर होती हैं और स्मरण शक्ति में सुधार आता हैं।

20) हरी शंख पुष्पी (पंचांग) की 10 ग्राम मात्रा को घोट-छान कर दूध में मिला कर ठंडई की तरह पीना चाहिए। शंख पुष्पी मष्तिष्क के लिए सबसे लाभकारी जड़ी बूटी मानी गयी हैं। इससे दिमाग तेज़ बनने लगता हैं।

21) एक चम्मच सौंफ को पीस कर इसमें शहद मिला कर सुबह-शाम चाटने से ब्रेन को बहुत ज्यादा फायदा होता हैं। इससे कम होती याददास्त में सुधार आने लगता हैं और स्मरण शक्ति बढ़ जाती हैं।

22) आधा लीटर गाय के ताज़े दूध में शहद मिला कर पीने से या बिना शहद मिलाये गाय का दूध यूँहीं पीने से भी ब्रेन मेमोरी को बढ़ाने में मदद मिलती हैं। गाय का दूध दिमाग के लिए टॉनिक का काम करता हैं।

23) आधा कप पपीते के जूस में आधा कप आम का रस, 2 चम्मच लीची का रस और 2 चम्मच फालसे का रस मिला कर पीने से ब्रेन मेमोरी बढ़ने लगती हैं और भूलने की बीमारी से निजात मिलती हैं।






इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *