रक्तदान (Blood Donate) क्यों करना चाहिए? इसके फायदे क्या हैं?

रक्तदान (ब्लड डोनेट) क्यों करना चाहिए? इसके फायदे क्या हैं?

क्या आपको पता हैं की रक्तदान यानि की Blood donate करने से न सिर्फ किसी दुसरे की जान बचाई जा सकती हैं, बल्कि इससे सेहत को भी ढेर सारे फायदे होते हैं। खूनदान क्यों करना चाहिए? Benefits of Blood Donation in Hindi. खूनदान करने के फायदे आदि के बारे में जानिए।

ज्यादातर लोग यह सोचकर ब्लड डोनेट करते हैं की इससे किसी की ज़िन्दगी बच सकती हैं। और कई लोग ऐसे होते हैं जो यह सोचकर रक्तदान नहीं करते हैं की इससे उनकी सेहत खराब हो जायेगा, जो की एक भ्रम के अलावा कुछ भी नहीं हैं। ऐसे लोग सोचते हैं की खून दान करने से शरीर में खून की कमी हो जाएगी, जबकि ऐसा नहीं हैं। तो इन सभी सवालों का जवाब जानने के लिए यह लेख पूरा जरूर पढ़े। रक्तदान (Blood Donation) स्वास्थ्य के लिए कैसे अच्छा और फायदेमंद होता हैं।

रक्तदान करना क्यों हैं जरूरी और इसके फायदे :-

• ब्लड डोनेशन के समय जितना खून लिया जाता हैं, वह 21 दिनों में शरीर फिर से निर्माण कर लेता हैं। ब्लड का वॉल्यूम तो शरीर 24 से 72 घंटो के भीतर ही पूरा बन जाता हैं।

• खूनदान करने का सबसे बड़ा फायदा यह हैं की इससे डोनर के अन्दर छुपी सभी बिमारियों के बारे में पता चल जाता हैं। क्योंकि रक्तदान करते समय 7 तरह के टेस्ट किये जाते हैं, अगर व्यक्ति को कोई बीमारी हैं तो उसका पता चल जाता हैं।

• आपको जानकर अच्छा लगेगा की ब्लड डोनेट करने से कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल में रहता हैं। इससे ज्यादा कैलोरी और फैट बर्न होती हैं। नए सेल्स बनते हैं।

• खूनदान करके आप खुद को ब्रेन स्ट्रोक के जोखिम से बचाते हैं। डॉक्टर्स यह मानते हैं की ब्लड डोनेशन करने से खून पतला बनता हैं, जो दिल के लिए फायदेमंद रहता हैं।

• नाइजीरिया के रिसर्च में यह पाया गया की खूनदान करने से जो ख़ुशी और स्वास्थ्यवर्धक लाभ मिलते हैं। यह दुसरे तरीको से आपको नहीं मिल सकते हैं। स्वंय को सेहतमंद रखने का सबसे अच्छा तरीका रक्तदान हैं।

• फ़िनलैंड में एक रिसर्च में 2682 लोगो ने हिस्सा लिया। जर्नल of अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन ने यह पाया की 43 से 60 साल के जिन लोगो ने 6 महीने के गैप पर ब्लड डोनेट किया, उनमे हार्ट अटैक होने का खतरा काफी कम हो गया।

• रक्तदान करने से कैंसर होने का ख़तरा 95% तक कम हो जाता हैं। नेशनल कैंसर इंस्टिट्यूट ने यह बताया की शरीर में आयरन की ज्यादा मात्रा हो जाने पर कैंसर होने का ख़तरा बन जाता हैं। इसलिए 1200 लोगो पर एक रिसर्च किया गया और पाया गया की जिन लोगो ने हर 6 महीने के भीतर खूनदान किया, उनमे आयरन की कमी आई। इससे कैंसर होने का ख़तरा कम हो जाता हैं।

• इसके अलावा रक्तदान करने से शरीर में जो नया खून बनता हैं, उसके सेल्स ज्यादा हेल्दी होते हैं। नया खून बनने के कारण शरीर और भी ज्यादा चुस्त और दुरुस्त रहता हैं। सबसे अच्छी बात यह हैं की खूनदान करने से शरीर के किसी भी हिस्से में कैंसर होने का रिस्क काफी कम हो जाता हैं।

• एक यूनिट ब्लड डोनेट करने से हमारे शरीर की 650 कैलोरी बर्न होती हैं। जिससे वज़न को कण्ट्रोल करने में मदद मिलती हैं। तो रक्तदान करने के साथ ही आप अपनी एक्स्ट्रा कैलोरी को भी जला सकते हैं।

• एक नयी रिसर्च के अनुसार ब्लड डोनेट करने से दूसरी बीमारियाँ होने का ख़तरा काफी कम हो जाता हैं। बोन मेरो हमेशा एक्टिव बना रहता हैं।

तो देखा आपने की ब्लड डोनेशन यानि की रक्तदान हमारे शरीर के लिए कैसे लाभकारी होता हैं। ब्लड डोनेट (खूनदान) करने से कोई कमजोरी नहीं आती हैं। शरीर कुछ ही दिनों में नया खून बना लेता हैं। तो आप भी खूनदान करिए, इससे घबराए नहीं, बल्कि ख़ुशी-ख़ुशी खून दान करे।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

4 thoughts on “रक्तदान (Blood Donate) क्यों करना चाहिए? इसके फायदे क्या हैं?

  1. बमेन्द्र कुमार सिंह, औरंगाबाद, बिहार

    रक्तदान करके गर्व महसूस होता है,आत्म संतुष्टि मिलती है। किसी की जान बचा कर जीवन सार्थक हो जाती है।मैं हर 3 माह पर रक्तदान करता हूँ

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *