लीची खाने के बेमिसाल फायदे

लीची खाने के फायदे

इन बीमारियों से छुटकारा दिलाती है रसीली लीची

Lychee (Litchi/Leechi) khane ke fayde. Benefits of Litchi in Hindi. 

लीची में पानी की मात्रा काफी होती है। इसमें विटमिन सी, पोटैशियम और नैसर्गिक शक्कर की भरमार होती है। गरमी में खाने से यह शरीर में पानी के अनुपात को संतुलित रखते हुए ठंडक भी पहुंचाती है। तो आइए जानते हैं कि लीची के फायदों के बारे में.

बीज और छिलका भी है फायदेमंद

लीची बीज के पाउडर में दर्द से राहत पहुंचाने के गुण हैं। पाचन संबंधी विकारों को दूर करने के लिए बीज के पाउडर की चाय पीना फायदेमंद है। ऐसी चाय पीने से तंत्रिका तंत्र में होने वाले दर्द में भी राहत मिलती है। पेट के कीड़े मारने के लिए शहद में यह पाउडर मिला कर खाया जाता है।

त्वचा के निखार के लिए

लीची में सूरज की अल्ट्रावॉयलट यूवी किरणों से त्वचा और शरीर का बचाव करने की खासियत होती है। इसके नियमित सेवन से ऑइली स्किन को पोषण मिलता है। साथ ही मुंहासों के विकास को कम करने में मदद मिलती है। चेहरे पर पड़ने वाले दाग-धब्बों में कमी आ जाती है।

सर्दी-जुकाम के वायरस के संक्रमण से बचाव

लीची विटामिन सी का बहुत अच्छा स्त्रोत होने के कारण खांसी-जुकाम, बुखार और गले के संक्रमण को फैलने से रोकती है। यह संक्रामक एजेंटों के खिलाफ प्रतिरोधक के रूप में काम करती है और हानिकारक मुक्त कणों को हटाती है।

पेट के लिए फायदेमंद

हल्के दस्त, उल्टी, पेट की खराबी, पेट के अल्सर और आंतरिक सूजन से उबरने में लीची का सेवन फायदेमंद है। यह कब्ज या पेट में हानिकारक टोक्सिन के प्रभाव को कम करती है। गुर्दे की पथरी से होने वाले पेट दर्द से आराम पहुंचाती है।

पानी की कमी नहीं होने देती

लीची का रस एक पौष्टिक तरल है। यह गर्मी के मौसम से संबंधित समस्याओं को दूर करता है और शरीर को ठंडक पहुंचाता है। लीची हमारे शरीर में संतुलित अनुपात में पानी की आपूर्ति करती है।

ऊर्जा का प्रमुख स्त्रोत

लीची ऊर्जा का स्त्रोत है। थकान और कमजोरी महसूस करने वालों के लिए लीची बहुत फायदेमंद है। इसमें मौजूद नियासिन हमारे शरीर में ऊर्जा के लिए आवश्यक स्टेरॉयड हार्मोन और हीमोग्लोबिन का निर्माण करता है, इसलिए काम की थकावट के बावजूद लीची खाने से आप दोबारा ऊर्जावान हो जाते हैं।

वजन कम करने में सहायक

लीची हमारी सेहत के साथ ही फिगर का भी ध्यान रखती है। इसमें घुलनशील फाइबर बड़ी मात्रा में मिलता है, जो मोटापा कम करने का अच्छा विकल्प है। फाइबर हमारे भोजन को पचाने में सहायक होता है और अंदरूनी समस्याओं को रोकने में मदद करता है।

कॉलस्ट्रॉल कंट्रोल

यह विटामिन लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण और पाचन-प्रक्रिया के लिए जरूरी है। इससे बीटा कैरोटीन को जिगर और दूसरे अंगों में संग्रहीत करने में मदद मिलती है। फोलेट हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित रखता है। इससे हमारा तंत्रिका तंत्र स्वस्थ रहता है।

इम्यूनिटी बढ़ाती है

लीची एक अच्छा ऐंटिऑक्सिडेंट भी है। इसमें मौजूद विटमिन सी हमारे शरीर में रक्त कोशिकाओं के निर्माण और लोहे के अवशोषण में भी मदद करता है, जो एक प्रतिरक्षा प्रणाली को बनाए रखने के लिए जरूरी है। रक्त कोशिकाओं के निर्माण और पाचन-प्रक्रिया में सहायक लीची में बीटा कैरोटीन, राइबोफ्लेबिन, नियासिन और फोलेट जैसे विटमिन बी काफी मात्रा में पाया जाता है।

सेहत का खजाना

लीची को बतौर फल ही नहीं खाया जाता, इसका जूस और शेक भी बहुत पसंद किया जाता है। जैम, जैली, मार्मलेड, सलाद और व्यंजनों की गार्निशिंग के लिए भी लीची का इस्तेमाल किया जाता है। छोटी-सी लीची में कार्बोहाइड्रेट, विटमिन सी, विटमिन ए और बी कॉम्प्लेक्स, पोटैशियम, कैल्शियम, मैग्निशियम, फॉस्फोरस, लौह जैसे खनिज लवण पाए जाते हैं, जो इसे काफी फायदेमंद बना देते हैं।

सावधानी भी जरूरी

लीची का सेवन सीमित मात्र में ही करें, यह नुकसानदेह भी साबित हो सकती है। 10-11 से ज्यादा लीची न खाएं। इससे ज्यादा लीची का सेवन नकसीर और सिर दर्द जैसी समस्याओं का कारण बन सकता है। यह शरीर में खुजली, जीभ तथा होंठों में सूजन और सांस लेने में कठिनाई भी पैदा कर सकता है।




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

बॉडी को डिटॉक्स करने के 19 बेस्ट तरीके जानिए...
प्रेगनेंसी में इन बातो का रखे ख्याल.
अमरुद की पत्तियों के घरेलु नुस्खे और फायदे.
डायबिटीज में क्या खाए और क्या नहीं खाए?
बहुत ज्यादा बिजी रहने वाले लोगो को ऐसे करना चाहिए अपना ब्रेकफास्ट।
टाइट कपड़े क्यों नहीं पहनने चाहिए?
गर्मियों के दिनों में खाने को जल्दी खराब होने से कैसे बचाए?
अगर आप चाइनीज़ फूड के दीवाने हैं तो आपको सावधान हो जाने की जरूरत हैं।
बालों को हेल्दी बनाने में मदद करते हैं यह जरूरी विटामिन।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *