शराब से जुड़े भ्रम और सत्य.

शराब से जुड़े भ्रम और सत्य

शराब से जुड़े ये 8 मिथक आपकी अब तक की नॉलेज पर सवाल खड़ा कर सकते हैं।

मिथक: पुरानी शराब ज्यादा अच्छी।

सच: माना कि कुछ बेस्ट वाइन सैकड़ों साल पुरानी हैं, लेकिन अधिकतर वाइन एक या दो साल के अंदर-अंदर पीने के लिए तैयार की जाती हैं। इन्हें लंबे समय तक रखने से न तो इनकी गुणवत्ता में इजाफा होगा औ न ही इनके स्वाद में।

मिथक: शराब पीने से अच्छी नींद आती है।

सच:
शराब पीने से आपको जल्दी नींद तो आ सकती है, लेकिन वह अच्छी नींद नहीं होती, और जब वह नींद टूटती है तब आप फ्रेश भी फील नहीं करते।

मिथक: उल्टी कर देने से शराब नहीं चढ़ती।

सच: हलक से नीचे उतरते ही शराब खून में समाना शुरू हो जाती है। जब तक आप उल्टी करेंगे, तब तक इतनी शराब तो आपके रक्त में समा ही चुकी होगी, जिससे आपको हैंगओवर होना तय है। उल्टी करने से थोड़ी सी शराब बाहर निकल जाएगी, जिससे आपका हैंगओवर और बुरा नहीं होगा, लेकिन हैंगओवर के चांसेज पूरी तरह से खत्म हो जाएंगे, ऐसा संभव नहीं है।

मिथक: पीने से पहले खाना खा लेने से शराब नहीं चढ़ती।

सच: शराब स्टमक लाइनिंग के जरिए खून में समाती है। भरे पेट यह थोड़ा धीरे-धीरे होगा, लेकिन जैसे ही आपका पेट खाली हो जाएगा, यह प्रॉसेस तेजी पकड़ लेगी। किसी भी सूरत में आप पर शराब का खुमार तो चढ़कर ही रहेगा।

मिथक: कभी-कभी पीने से कुछ नहीं होता।

सच: प्रतिदिन के हिसाब से ऐल्कॉहॉल की रेकमेंडेड लिमिट औरतों के लिए एक ड्रिंक और पुरुषों के लिए दो ड्रिंक की है। अगर आप वीकडेज पर नहीं पीते और वीकेंड पर बोतलों पर बोतलें खोलते जाते हैं, तो यह आपकी सेहत पर बहुत बुरा असर डाल सकता है।

मिथक: कुछ लोगों को देर से चढ़ती है, तो वे बेहिचक ज्यादा पी सकते हैं।

सच: अगर आपको देर से चढ़ती है, इसका मतलब यह नहीं कि आप ज्यादा पी सकते हैं। देर से चढ़ने का मतलब यह है कि आपकी बॉडी आपको जरूरी इंडिकेशन नहीं दे रही है कि कब आपको पीना बंद कर देना चाहिए। यह आपके लिए ज्यादा नुकसानदायक है।

मिथक: डार्कर ऐल्कॉहॉल्स स्वास्थ्यवर्धक होते हैं।

सच: डार्कर विस्की और डार्कर बीयर्स जैसे डार्कर ऐल्कॉहॉल्स में ज्यादा एंटिऑक्सिडेंट्स होते हैं, लेकिन उनमें ज्यादा कॉन्जनेर्स भी होते हैं। कॉन्जनेर्स वे टॉक्सिक तत्व होते हैं जो शराब निर्माण की प्रक्रिया में बनते हैं। साथ ही, डार्कर ऐल्कॉहॉल्स में कैलरी भी ज्यादा होती है।

मिथक: एनर्जी ड्रिंक्स के साथ पीने से शराब का नशा और चढ़ता है।

सच: एनर्जी ड्रिंक्स में कैफीन होती है, जिससे आप ऊर्जावान महसूस करते हैं, लेकिन इसका आपकी खुमारी से कुछ लेना-देना नहीं है। शराब के में एनर्जी ड्रिंक मिलाने से आपको महसूस ही नहीं हो पाता कि आप कितनी पी चुके हैं और कितने थके हुए हैं। इससे आप लिमिट से कहीं ज्यादा पी लेते हैं।


Loading...


Related posts:
Kabz hone ki wajah kya hain?
दर्द को कम करते हैं यह फ़ूड।
कच्चा आम खाने के फायदे
फरवरी महीने में जन्मे लोग कैसे होते हैं, जानिए इसके बारे में.
दीवाली की तरह दुनिया में मनाए जाने वाले प्रकाश पर्व.
तरबूज खाने के फायदे.
शलगम खाने के फायदे जरूर पढ़े.
बार बार थकान होने के यह हैं कारण।
टूथपेस्ट के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।
शहद और लहसुन को एक साथ मिला कर खाने से होते हैं यह गज़ब के फायदे।
गर्मी से बचने के लिए जरूर फॉलो करे यह टिप्स।
महिलाओं की प्रजनन क्षमता बढ़ाने वाले आहार के बारे में जानिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *