सिंहपर्णी की जड़ से सेहत को होने वाले 11 फायदे जानिए।

सिंहपर्णी की जड़ से सेहत को होने वाले 11 फायदे जानिए।

सिंहपर्णी की जड़ों का इस्तेमाल डायबिटीज, बवासीर, किडनी स्टोन, मूत्राशय के रोग और कई किस्म की बिमारियों को दूर करने के लिए किया जाता हैं। सिंहपर्णी में पोटैशियम, फाइबर, मैग्नीशियम, जिंक, कैल्शियम, फॉस्फोरस, बीटा-कैरोटीन और विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं। सिंहपर्णी को अंग्रेजी में Dandelion कहा जाता हैं। आइये सिंहपर्णी से सेहत को होने वाले 11 बेहतरीन फायदे के बारे में जानते हैं।

सिंहपर्णी के फायदे :-

1. सिंहपर्णी की जड़ों के इस्तेमाल से डायबिटीज के रोगियों को लाभ होता हैं। इससे ब्लड शुगर लेवल और इंसुलिन के लेवल को बैलेंस में रखने में आसानी होती हैं।

2. सिंहपर्णी की जड़ो का सेवन करने से बॉडी का इम्यून सिस्टम मजबूत बनता हैं। शरीर को यह फंगस और इन्फेक्शन आदि से बचाता हैं।

3. इसमें एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी ज्यादा मात्रा में पाए जाते हैं। जिससे कैंसर से बचने में मदद मिलती हैं। इससे बुढ़ापा भी जल्दी नहीं आता हैं।

4. सिंहपर्णी की जड़ों में विटामिन ए और सी ज्यादा मात्रा में होता हैं, जो लीवर के लिए काफी फायदेमंद हैं। यह लीवर को मजबूत बनाता हैं और उसमे हाइड्रेशन और इलेक्ट्रोलाइट के बैलेंस में सुधार करता हैं। यह पित्त को भी बढ़ाता हैं।

5. इसकी पत्तियों में एंटीऑक्सीडेंट और फाइटोन्यूट्रीएंट्स पाए जाते हैं जो कैंसर से लड़ने में सक्षम हैं। सिंहपर्णी को कैंसर विरोधी माना जाता हैं जो कैंसर सेल्स की ग्रोथ को धीमा बना देता हैं और उसे बढ़ने से रोकता हैं।

6. सिंहपर्णी की जड़ों के सेवन से भूख बढ़ने लगती हैं, पाचन शक्ति में सुधार होता हैं और आँतों के लिए यह विशेष रूप से लाभकारी हैं। यह पेट में एसिड और पित्त को ज्यादा मात्रा में पैदा करता हैं, जिससे भोजन आसानी से हजम हो जाता हैं।

7. यह पित्त उत्पादन और सूजन को कम करके पित्ताशय की थैली को विकारों से बचाता हैं और ब्लॉकेज को दूर करता है।

8. यह एक मूत्रवर्धक जड़ी-बूटी हैं जो किडनी से फ़ालतू नमक और ज़हरीले पदार्थो को बाहर निकाल देता हैं। इसके अलावा यह मुत्र प्रणाली में माइक्रोबियल को बढ़ने से रोकता हैं।

9. सिंहपर्णी के सेवन से कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने और उसे नियंत्रण में रखने में मदद मिलती हैं।

जरूर पढ़े :- ख़राब कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए क्या खाना चाहिए? 

10. यह हाई ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए जाना जाता हैं। इसके सेवन से हाई ब्लड प्रेशर को कम किया जा सकता हैं, क्योंकि इसमें फाइबर और पोटैशियम पाए जाते हैं जो हाई बी.पी. को कम करने का काम करते हैं।

11. सिंहपर्णी की जड़ों में पालक के मुकाबले काफी ज्यादा मात्रा में प्रोटीन पाया जाता हैं। इसके अलावा यह दर्द निवारक भी हैं, इससे मसल्स pain से छुटकारा मिलता हैं। यह चोट और eczema के निशान मिटाने के लिए भी जाना जाता हैं। इसके सेवन से मूत्र में वृद्धि होती हैं।




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

टूथपेस्ट से होते हैं यह नुकसान
प्याज से होते हैं यह कमाल के फायदे.
बेल के फायदे.
ऑफिस में फिट रहने के आसान टिप्स.
गाजर का जूस पीने के फायदे.
चिरौंजी खाने के फायदे और इसके घरेलु नुस्खे और उपाय।
मोटापा कम करने के लिए अजवाइन के पानी का इस तरह से करे इस्तेमाल।
हाई ब्लड प्रेशर होने की वजह क्या हैं?
आखिर दही या खट्टी चीज़ों को ताम्बे के बर्तन में क्यों नहीं रखना चाहिए?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *