सेब के सिरके के फायदे एवं नुकसान और इसके उपयोगी घरेलु नुस्खे एवं उपाय।

सेब का सिरका (एप्पल साइडर विनेगर)

सेब के सिरके को एप्पल साइडर विनेगर कहा जाता हैं। सेब का सिरका भूरे रंग का तरल पदार्थ होता हैं। सेब को Fermentation (एक विशेष किस्म का मेटाबोलिक प्रोसेस, जिससे बियर, ब्रेड आदि बनती हैं, उसी तरह का प्रोसेस) करके निकाले गये एक खास तरल को साइडर कहा जाता हैं। इस fermented liquid से ही एप्पल साइडर विनेगर को तैयार किया जाता हैं। आज के लेख में हम सेब के सिरके के फायदे और नुकसान, इसके घरेलु नुस्खे और उपाय सभी के बारे में जानेंगे। Side-Effects & Health Benefits + Home Remedies of Apple Cider Vinegar in Hindi.

एप्पल साइडर विनेगर का प्रयोग प्राचीन काल से किया जाता रहा हैं। मॉडर्न साइंस के जनक हिप्पोक्रेट्स ने 400 ईसा पूर्व ही सर्दी और जुकाम को दूर करने शहद में सेब के सिरके को मिला कर पीने की बात कही थी। उसी समय से ही सेब के सिरके का इस्तेमाल दर्द दूर करने के अलावा और भी कई सारी बिमारियों के उपचार के लिए किया जाने लगा। एप्पल साइडर विनेगर का सबसे ज्यादा इस्तेमाल रोम और जापान में सेहत, शक्ति और फुर्ती बढ़ाने के लिए किया जाता हैं। एप्पल साइडर विनेगर को रोजाना पीने से पाचन अच्छा होता हैं और इसके आलावा डिप्रेशन, गठिया, हाई ब्लड प्रेशर, हाई कोलेस्ट्रॉल जैसी खतरनाक रोगों को दूर करने में भी मदद मिलती हैं।

सेब के सिरके में एसेटिक एसिड होता हैं जो आहारनाल में फफूंदी और बैक्टीरिया को नष्ट करता हैं। जिससे आंतो में भोजन को हजम होने और उससे पोषण सोखने में मदद मिलती हैं। सेब के सिरके में पेक्टिन होता हैं जो पानी में घुलनशील रेशे के रूप में पाया जाता हैं। जो पाचन तंत्र से पानी, फैट, ज़हरीले पदार्थो और कोलेस्ट्रॉल को सोख कर शरीर से बाहर निकाल देता हैं।

सेब के सिरके के फायदे, घरेलु नुस्खे और उपाय

वजन कम करता हैं

एप्पल साइडर विनेगर से ब्लड शुगर लेवल को कण्ट्रोल किया जा सकता हैं। जिससे वजन कम करने में मदद मिलती हैं। इसमें एसिटिक एसिड होता हैं जो वजन कम करने सहायता करता हैं। अगर आप मोटापा कम करना चाहते हैं तो रोजाना थोड़ा एप्पल साइडर विनेगर पानी में मिला कर पीजिये।

दस्त दूर करे

सेब के सिरके का इस्तेमाल आप दस्त दूर करने के लिए भी कर सकते हैं। दस्त की समस्या होने पर पानी में एप्पल साइडर विनेगर मिला कर पीने से लाभ होता हैं।

साइनस के रोगियों के लिए लाभकारी

सेब का सिरका साइनस के मरीजों के लिए लाभकारी होता हैं। पानी में थोड़ा सा एप्पल साइडर विनेगर मिला कर नाक में डालने से नाक तुरंत खुल जाता हैं।

पाचन तंत्र के लिए अच्छा

अगर आप पाचन से समन्धित समस्याओं से परेशान हैं तो पानी में थोड़ा सा शहद और एप्पल साइडर विनेगर मिला कर पिए। इससे आपको काफी लाभ होगा। एप्पल साइडर विनेगर में पेक्टिन ज्यादा मात्रा में पाया जाता हैं, जो कब्ज़, एसिडिटी और गैस जैसी पेट से जुड़ी समस्याओं से भी निजात दिलाता हैं।

यीस्ट इन्फेक्शन दूर करे

2 चम्मच सेब का सिरका लेने से स्त्रियों में यीस्ट इन्फेक्शन कम होता हैं। हालांकि यह सभी महिलाओं के लिए असरकारी नहीं होता हैं और इसे सावधानी से इस्तेमाल करना चाहिए।

बॉडी के इम्यून सिस्टम के लिए फायदेमंद

सेब के सिरके में बीटा कैरोटीन होता हैं, जिसे एक अच्छा एंटीऑक्सीडेंट माना जाता हैं। यह शरीर को हानिकारक फ्री रेडिकल्स सेल्स से होने वाले नुकसान से बचाता हैं और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता हैं।

बाल सिल्की बनाये

शैम्पू करने के बाद 1 चम्मच सेब के सिरके को 1 गिलास पानी में मिला कर बालो में डालिए। इससे बाल सिल्की हो जाते हैं।

हिचकी दूर करे

अगर किसी को बार-बार हिचकी आ रही हैं तो एप्पल साइडर विनेगर को थोड़े से पानी में मिक्स करके पीने से हिचकी आनी बंद हो जाती हैं।

यह भी पढ़े :- हिचकी दूर करने के घरेलु नुस्खे और उपाय और इसके बारे में रोचक जानकारी।

मूंह की बदबू दूर करे

अगर मूंह और साँसों से आने वाली दुर्गन्ध से परेशान हैं तो एप्पल साइडर विनेगर से गरारे करे। इससे साँसों से वाली बदबू दूर हो जाती हैं।

पसीने की दुर्गन्ध दूर करने के लिए

पसीने की दुर्गन्ध से पीड़ित लोगो के लिए सेब का सिरका बहुत ही कारगर घरेलु नुस्खा हैं। एप्पल साइडर विनेगर को नहाने से पहले पुरे शरीर पर लगा ले और फिर उसके बाद नहाये। इससे पसीने की बदबू ख़त्म हो जाती हैं।

डायबिटीज में फायदेमंद

सेब का सिरका ब्लड शुगर लेवल को कम करता हैं। क्योंकि इसमें एसेटिक एसिड होता हैं।

सर्दी-जुकाम दूर करने के लिए

एक गिलास में थोड़े से अदरक को पीस ले। फिर आप इसमें थोड़ा सा एप्पल साइडर विनेगर और शहद मिला ले। फिर आप इस घोल को छान कर इससे गरारे करे। इससे आपकी सर्दी दूर होने लगती हैं।

कोलेस्ट्रॉल कम करे

सेब के सिरके में पेक्टिन होता हैं जो कोलेस्ट्रॉल को कम करता हैं। लेकिन कुछ लोगो को पेक्टिन से एलर्जी होती हैं, इसलिए उन्हें सेब के सिरके का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

स्किन को हेल्दी बनाये

सेब का सिरका एक ऐस्ट्रिन्जेन्ट होता हैं जो चेहरे और गले की स्किन को हेल्दी बनाता हैं। इसे आँखों से दूर रखना चाहिए वर्ना इससे आपको जलन हो सकती हैं।

ऑस्टियोपोरोसिस के लिए फायदेमंद

ऑस्टियोपोरोसिस बॉडी में एसिड कणों के निर्माण की वजह से होता हैं। सेब के सिरके से यह कण शरीर में टूट जाते हैं और बॉडी का पीएच बैलेंस हो जाता हैं। लेकिन इसके पीछे कोई साइंटिफिक प्रूफ तो नहीं हैं, लेकिन डॉ जार्विस ने एप्पल साइडर विनेगर की मदद से ऑस्टियोपोरोसिस के कई मरीजों का सफल उपचार करने का दावा जरूर किया हैं।

सॉफ्ट और ग्लोइंग चेहरे के लिए

मुल्तानी में मिट्टी में थोड़ा सा शहद और सेब के सिरके का रस मिला कर पेस्ट बनाये। इस पेस्ट को 15 मिनट के लिए चेहरे पर लगाये। फिर चेहरे को पानी से धो कर साफ़ करले। इससे आपका चेहरा मुलायम एवं चमकदार बन जाता हैं।

मिनरल्स से भरपूर

एप्पल साइडर विनेगर में पोटैशियम, मैग्नीशियम और कई प्रकार के मिनरल्स होते हैं। पोटैशियम शरीर में पानी के बैलेंस के साथ ही हार्ट बीट को कण्ट्रोल में रखने का काम करता हैं। मैग्नीशियम कई तरह के प्रोसेस में मददगार होता हैं जिससे पाचन क्रिया दुरुस्त बनती हैं और यह कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ा कर हड्डियों को मजबूत बनाता हैं।

हड्डियों को स्वस्थ्य बनाये रखे

एप्पल साइडर विनेगर में पोटैशियम के साथ ही कैल्शियम और फॉस्फोरस भी होता हैं। इसलिए नियमित थोड़ा एप्पल साइडर विनेगर लेते रहने से हड्डियाँ स्वस्थ्य बनी रहती हैं।

रूसी दूर करे

बालों में रूसी होने की वजह फंगस मैलेसेजिया फरफर हैं जिसे सेब के सिरके के इस्तेमाल से ख़त्म किया जा सकता हैं। क्योंकि सेब के सिरके में एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं। सेब के सिरके में बराबर मात्रा में पानी मिला कर नियमित रूप से सिर में लगाए और यह उपाय तब तक अजमाते रहे जब तक सिर से रूसी ख़त्म नहीं हो जाती हैं।

यह भी पढ़े :- यह 6 चीज़े खाने से रूसी दूर होती हैं।

हमेशा जवां दिखाई देने के लिए

अगर आपके चेहरे पर बढ़ती उम्र के निशान दिखाई देने लगे हैं तो रात को सोने से पहले एप्पल साइडर विनेगर में थोड़ा सा पानी मिला कर चेहरे पर लगाये। और सुबह होते ही चेहरे को धो ले।

सूजन कम करे

सेब के सिरके को नहाने के पानी में मिला कर नहाने से सूजन दूर होती हैं। इससे धुप की वजह से झुलसी त्वचा को भी आराम मिलता हैं। सलाद और पानी के साथ सेब के सिरके को मिला कर लेने से आहारनाल की अंदरूनी सूजन को भी कम किया जा सकता हैं।

चेहरे के दाग-धब्बे दूर करे

चेहरे को धोने से पहले पानी में थोड़ा सा एप्पल साइडर विनेगर मिला ले। इस एप्पल साइडर विनेगर मिले पानी से चेहरे को धोने से चेहरे के दाग-धब्बे दूर हो जाते हैं और आपका रंग भी निखरने लगता हैं।

एंटीसेप्टिक प्रोपर्टी से भरपूर

सेब का सिरका एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर हैं। इसके नियमित सेवन से फंगल और बैक्टीरियल इन्फेक्शन से छुटकारा मिलता हैं। यह पाचन तंत्र के लिए भी फायदेमंद होता हैं और डायबिटीज को भी कण्ट्रोल में रखता हैं।

हालांकि की सेब के सिरके के ढेर सारे फायदे हैं। यह मोटापे और मधुमेह जैसी बिमारियों को कण्ट्रोल में रखने में मददगार होता हैं। लेकिन प्रकृति का नियम यह कहता हैं की जिस चीज़ के फायदे होते हैं, उसी चीज़ को ज्यादा इस्तेमाल करने पर आपको नुकसान भी होता हैं। आइये जानते हैं सेब के सिरके (एप्पल साइडर विनेगर) के क्या-क्या नुकसान हैं?

सेब के सिरके का इस्तेमाल टेबलेट और लिक्विड दो तरीको से किया जा सकता हैं। आहार विशेषज्ञो का मानना हैं की सेब के सिरके का इस्तेमाल कभी कभी सेहत के लिए कुछ मामलो में हानिकारक भी हो जाता हैं। सेब के सिरके से सेहत को होने वाले नुकसान और हानियों को जानिए।

सेब के सिरके के नुकसान

ब्लड शुगर लेवल पर प्रभाव

मधुमेह के रोगियों को सेब के सिरके का सेवन करने की सलाह दी जाती हैं। लेकिन ब्लड शुगर और इंसुलिन को यह प्रभावित करता हैं। क्योंकि इसमें पाया जाने वाला एसिड, इंसुलिन और ब्लड शुगर पर सीधा असर करता हैं। जिससे अगर कोई व्यक्ति ब्लड प्रेशर और डायबिटीज दोनों का मरीज़ हैं और वह दवाईओं के साथ ही सेब के सिरके का सेवन भी कर रहा हैं तो उसपर दवाईयों का रिएक्शन होने का ख़तरा काफी ज्यादा रहता हैं।

टिश्यू पर असर

जो व्यक्ति सेब के सिरके का ज्यादा इस्तेमाल करता हैं तो इसमें पाए जाने वाले एसिड के कारण उसे इसोफोगस, टूथ इनेमल और पेट की समस्यायें हो सकती हैं। अगर सेब के सिरके का इस्तेमाल सीधे स्किन पर किया जाए तो स्किन में खुजली, जलन और रैशेज हो सकते हैं। इसलिए सेब के सिरका का इस्तेमाल सीधे तौर पर करने की बाजए, पानी, शहद, जूस, बेकिंग सोडा और सलाद आदि में मिला कर करना चाहिए।

दांतों के लिए नुकसानदायक

सेब के सिरके को कभी भी सीधे दांतों में नहीं लगाना चाहिए, इससे दांतों को काफी नुकसान होता हैं। इसके अतरिक्त यह दांतों का पीलापन भी बढ़ाता हैं। एप्पल साइडर विनेगर में पाया जाने वाला एसिड दांतों की सेंस्टिविटी को बढ़ा देता हैं, जिससे आपको खाने-पीने में तखलीफ़ उठानी पड़ सकती हैं। इसलिए इसे डायरेक्ट दांतों पर न लगाये, बल्कि इसे पानी या जूस के साथ मिक्स करके ही इस्तेमाल करे। इसके इस्तेमाल के तुरंत बाद ब्रश करना चाहिए।

यह भी पढ़े :- दांतों को स्वस्थ्य रखने के लिए भूल कर भी न करे यह गलतियाँ।

पोटैशियम का लेवल कम करे

एप्पल साइडर विनेगर में पाया जाने वाला एसिड बॉडी में मौजूद खास करके ब्लड में मौजूद पोटैशियम के लेवल को कम कर देता हैं। इससे अलावा यह हड्डियों में मौजूद मिनरल्स को भी कम कर देता हैं। ऑस्टियोपोरोसिस की बीमारी के मरीजों को सेब के सिरके के इस्तेमाल करने से बचना चाहिए। हालांकि डॉ जार्विस का दावा हैं की उन्होंने सेब के सिरके की मदद से ऑस्टियोपोरोसिस के मरीजों का इलाज किया, लेकिन अभी तक इसके कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं मिले हैं। इसलिए बेहतर यही होगा की आप इसका इस्तेमाल ऑस्टियोपोरोसिस होने पर न करे।

नोट :- सेब के सिरके को सेहत के लिए वरदान माना गया हैं। दिन में 2 चम्मच सेब के सिरके को पानी में मिला कर लिया जाये तो कई सारी बिमारियों से छुटकारा मिलता हैं। सेब के सिरके का इस्तेमाल त्वचा को निखारने के लिए किया जाता हैं, लेकिन कभी भी इसका इस्तेमाल डायरेक्ट स्किन पर नहीं करना चाहिए। वर्ना आपकी त्वचा में जलन और रैशेज हो सकते हैं। इसे आप शहद, पानी आदि में मिला कर त्वचा पर लगा सकते हैं। एप्पल साइडर विनेगर को आप हमेशा पानी या हर्बल टी, जूस आदि में मिला कर ही पिए। अगर आप सेब के सिरके का भरपूर लाभ उठाना चाहते हैं तो इसे सही तरह से इस्तेमाल करने का तरीका अपनाये। और जरूरत से ज्यादा सेब के सिरके का इस्तेमाल करने से भी बचना चाहिए, क्योंकि अति किसी भी चीज़ की बुरी ही होती हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *