सोंठ के फायदे और घरेलु नुस्खे.

सोंठ के फायदे और घरेलु नुस्खे

भारत में चाय को खुश्बूदार या सब्जी को मसालेदार बनाने में सदियों से अदरक का उपयोग किया जाता रहा है। मगर अदरक सिर्फ एक मसाला ही नहीं है ये एक औषधि भी है। इसका उपयोग भी दो रूपों में किया जाता है ताजा अदरक के रूप में व इसे सुखाकर सोंठ के रूप में। सिर्फ ताजा अदरक ही नहीं सोंठ को भी आयुर्वेद में जबरदस्त औषधि माना गया है। सोंठ के इन्हीं गुणों के कारण आइए आज हम जानते हैं इसके कुछ घरेलू नुस्खे ..

आइये जानते हैं सोंठ के फायदे. Sonth ke fayde. Benefits of Sonth (Dry Ginger). Home remedies of Adrak dry ginger in Hindi.

सोंठ में 1.6 से 2.44 प्रतिशत नाइट्रोजन होती है जिनमें से दो तिहाई प्रोटीन के रूप में होती है । ये एल्ब्यूमिन, ग्लोब्युलि और ग्लूटामिन नाम से व सूक्ष्म रूप में थ्रिओनिन नाम से पाए जाते हैं । प्रोटीनों के अतिरिक्त मुक्त अमीनो अम्ल भी हैं- यथा ग्लूटेमिक एसिड, एस्पार्टिक एसिड, सीरीन, प्लाइसीन थ्रीयोविन, ऐलेनीन अर्जीनीन, बेलीन, फिनाइल एलेन, एस्पेरेजीन, लायसीन, सीस्टीन, हिस्टीडीन, ल्यूसीन्स प्रोलीन एवं पाइकोलिक एसिड। कार्बोहाइड्रेटों में स्टार्च के अतिरिक्त ग्लूकोस, फ्रूक्टोस, सुक्रोस, रैफीनील आदि भी सोंठ में पाए जाते हैं।

  1. कमरदर्द

कमरदर्द में आधा चम्मच सोंठ का चूर्ण दो कप पानी में उबालकर आधा कप रह जाए तब छानकर ठंडाकर उसमें दो चम्मच अरंडी तेल मिला कर रोज रात को पिएं।


  1. कब्ज

कब्ज होने पर एक चम्मच सोंठ का पाउडर पानी में डाले और उस पानी को उबालकर पी लें। कब्ज में ये उपाय रामबाण है।


  1. आधा सिरदर्द

सोंठ को चंदन की तरह घिसकर उसका सिर पर लेप करें।चार ग्राम सोंठ का काढ़ा बनाकर पीने से पेट की बीमारियां खत्म हो जाती है।


  1. आंखों के रोग

सोंठ नीम के पत्ते या निंबोली पीसकर उसमें थोड़ा सा सेंधा नमक डालकर गोलियां बना लें। गोली को मामूली गर्म कर आंखों पर बांधने से आंखों की पीड़ा कम होती है।


 

  1. पीलिया

सोंठ और गुड़ को पानी में मिलाकर नाक में उसकी बूंदे डालने से हिचकी दूर होती है। सोंठ और गुड़ खाने से पीलिया मिटता है। सौंठ , आंवले और मिश्री का बारीक चूर्ण बनाकर सेवन करने से एसिडिटी खत्म होती है।


  1. गर्भपात रोकने के लिए

महिलाओं में गर्भपात रोकने के लिए सोंठ, मुलहठी और देवदारू का दूध के साथ सेवन करना चाहिए। इससे गर्भ पुष्ट होता है।

बच्चों के पेट में यदि कीडे़ हों तो उन्हें अदरक के रस की एक-एक चम्मच मात्रा दिन में दो बार नियमित रूप से देनी चाहिए। अदरक का रस कान में डालने पर कान का दर्द ठीक हो जाता है।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *