सोयाबीन खाने के फायदे जानिए।

सोयाबीन खाने के फायदे जानिए।

आइये सोयाबीन खाने के फायदे के बारे में जानते हैं। Health Benefits of Soybean in Hindi. सोयाबीन क्यों खाना चाहिए? इसके बारे में जानकारी चाहिए तो जरूर पढ़े यह लेख।

प्रोटीन के उच्चतम स्रोतों की बात की जाये तो सोयाबीन भी उनमे से हैं। सोयाबीन में प्रोटीन के साथ ही विटामिन ई, विटामिन बी काम्प्लेक्स भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। सोयाबीन के सेवन से शरीर में एमिनो एसिड की कमी को दूर किया जा सकता हैं। सोयाबीन में शरीर के जरूरी तत्व जैसे की सैपोनिन्स, सीटोस्टेरॉल और फेनोलिक एसिड भी पाए जाते हैं। इसके अलावा सोयाबीन के बीजों को खाने से स्किन की रंगत में भी निखार आता हैं।

सोयाबीन का इस्तेमाल कई तरह से किया जाता हैं। इसके बीजों की सब्जी बनाई जाती हैं, इसके अलावा सोयाबीन का तेल भी निकाला जाता हैं। इसके छिलकों से बडी बनाई जाती हैं, जिसे न्यूट्री भी कहा जाता हैं। इसके अलावा सोयाबीन के बीजों से दूध भी बनाया जाता हैं, जिसे सोयाबीन मिल्क कहा जाता हैं। सोयाबीन का दूध भी सेहत के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद हैं। इसी सोयाबीन के दूध से सोया पनीर यानि टोफू को भी बनाया जाता हैं। टोफू यानि सोया पनीर खाने के अपने ही खास फायदे हैं

यानि की कुल मिलाकर यह कहा जाये की सोयाबीन से ढेर सारे उत्पाद बनाये जाते हैं, जो सेहत के लिए काफी ज्यादा लाभदायक हैं तो यह अतिकथनी नहीं होगी। आपको जानकर काफी अच्छा लगेगा की सोयाबीन में अंडे, मीट और दूध के आधे जितना प्रोटीन होता हैं। इसके अलावा इसे खाने से शरीर को कार्बोहाइड्रेट्स, फैट, कैल्शियम, फॉस्फोरस, आयरन जैसे तत्व भी प्राप्त होते हैं। आइये जानते हैं सोयाबीन खाने से सेहत को क्या-क्या फायदे होते हैं?

सोयाबीन खाने के फायदे :-

1. डायबिटीज में फायदेमंद

डायबिटीज के मरीजों को सोयाबीन का सेवन जरूर करना चाहिए। इसके लिए सोयाबीन से बनी रोटी को खाना चाहिए। और तो और डायबिटीज के रोगी अगर सोयाबीन को रोजाना खाते हैं तो उन्हें डायबिटीज की वजह से होने वाले मूत्र से सम्बंधित समस्याओं से छुटकारा पाने में आसानी होती हैं।

2. हड्डियों के लिए फायदेमंद

सोयाबीन में प्रोटीन, कैल्शियम पाए जाते हैं जो हड्डियों को मजबूत बनाने का काम करते हैं। सोयाबीन के सेवन से हड्डियों में कैल्शियम की कमी की वजह से ऑस्टियोपोरोसिस की बीमारी होने से बचा जा सकता हैं।

3. गठिया में फायदेमंद

गठिया की बीमारी से बचने के लिए सोया से बनी रोटियों को खाना चाहिए। इसके अलावा सोयाबीन का दूध भी गठिया की बीमारी में लाभकारी होता हैं।

4. दिल के लिए फायदेमंद

दिल की बीमारी उन लोगो में सबसे ज्यादा होती हैं, जिनके खून में ख़राब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा ज्यादा बढ़ जाती हैं और खून में अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम हो जाती हैं। सोयाबीन में 20 से 22 प्रतिशत तक फैट होता हैं। जिसमे से 15% सैचुरेटेड फैट, 15% मोनो-अनसैचुरेटेड फैट और 60% पॉली-अनसैचुरेटेड फैट होता हैं। जो दिल के लिए मरीजों के लिए काफी फायदेमंद हैं। सोयाबीन के सेवन से ख़राब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद मिलती हैं। इसमें लेसिथिन नाम का कंपाउंड पाया जाता हैं जो कोलेस्ट्रॉल को दिल की धमनियों में जमने नहीं देता हैं। इसलिए सोयाबीन दिल के मरीजों के काफी फायदेमंद माना जाता हैं।

5. प्रोटीन का बढ़िया स्रोत

सोयाबीन शरीर के विकास के लिए जरूरी प्रोटीन का सबसे अच्छा सोर्स भी माना गया हैं। प्रोटीन हमारे नाखूनों, बालों, स्किन, मसल्स आदि की ग्रोथ के लिए काफी जरूरी तत्व हैं। इसके अलावा प्रोटीन शरीर के अंदरूनी अंगो, फेफड़ों, दिल आदि की रचना के लिए भी जरूरी होता हैं। इसलिए सोयाबीन को खाईये को शरीर में प्रोटीन की कमी को दूर करे।

6. खून बढ़ाता हैं

सोयाबीन में आयरन काफी अच्छी मात्रा में पाया जाता हैं। यही कारण हैं की खून की कमी से जूझ रहे व्यक्तियों को सोयबीन का सेवन जरूर करना चाहिए।

7. स्त्रियों के लिए फायदेमंद

जब महिलाओं को पीरियड्स आते हैं तो उन्हें काफी ज्यादा दर्द का सामना करना पड़ता हैं। महिलाओं के मासिक धर्म बंद होने पर शरीर में एस्ट्रोजन की कमी होने लगती हैं, जिससे महिलाओं की हड्डियाँ तेज़ी के साथ घीसने लगती हैं। ऐसे में उन्हें ऑस्टियोपोरोसिस की बीमारी होने का खतरा ज्यादा रहता हैं। ऐसे सिचुएशन में 3 से 4 महीने तक सोयाबीन का सेवन करना चाहिए, इसमें फायटोएस्ट्रोजन पाए जाते हैं। जो मीनोपॉज के बाद होने वाली परेशानियों को दूर करते हैं। इसके अलावा सोयाबीन महिलाओं में प्रोटीन की कमी को दूर करता ही हैं, साथ में पीरियड्स के दौरान होने वाली समस्याएं जैसे की थकान, दर्द, सूजन आदि से भी आराम दिलाता हैं।

8. वजन बढ़ाने में मदद करे

सोयाबीन के सेवन से वजन को बढ़ाने में मदद मिलती हैं। इसलिए दिन भर में 15 से 20 सोया 2 से 3 महीने तक खाना चाहिए। यह दुबले-पतले लोगो के लिए काफी फायदेमंद आहार हैं।

9. दिमाग के लिए फायदेमंद

इसमें फॉस्फोरस पाया जाता हैं जो ब्रेन के लिए काफी फायदेमंद हैं। इससे भूलने की बीमारी, सूखा रोग, मिर्गी और फेफड़ो से जुड़ी बिमारियों से बचने में मदद मिलती हैं। इन सभी बिमारियों को दूर करने या इनसे बचने के लिए सोयाबीन के आटे की रोटी बना कर खाना चाहिए। सोयाबीन के आटे में लेसिथिन नाम का एलिमेंट होता हैं जो इन सभी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में काफी कारगर हैं।

10. पेट के लिए फायदेमंद

इसमें फाइबर भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो पेट की बीमारियाँ को दूर करता हैं। यह पाचन तंत्र को भी दुरुस्त बनाता हैं और कब्ज़ की समस्या से भी मुक्ति दिलाता है। क्या आपको पता हैं सोया की छाछ को पीने से पेट के कीड़े और बैक्टीरिया मर जाते हैं।

11. हाई ब्लड प्रेशर कम करे

सोयाबीन को खाने से हाई ब्लड प्रेशर को कण्ट्रोल करने में मदद मिलती हैं। इसके लिए सोयाबीन को नमक में भून कर रोजाना 8 हफ्ते तक खाए। इससे हाई ब्लड प्रेशर को कण्ट्रोल किया जा सकता हैं। इसके अलावा आधा कप रोस्टेड सोयाबिन खाने से महिलाओं का बढ़ा हुआ बी.पी. भी नार्मल हो जाता हैं।

12. कैंसर होने से बचाए

सोयाबीन में सैपोनिन्स, सीटोस्टेरॉल और फेनोलिक एसिड होते हैं जो शरीर को कई तरह के कैंसर जैसे की ब्रेस्ट कैंसर आदि से बचाने में मदद करते हैं। सोयाबीन खासकरके ब्रेस्ट कैंसर से लड़ने में मदद करता हैं।






इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *