हिंग के घरेलु नुस्खे और उपाय और हिंग के फायदे जरूर पढ़े.

Hing ke gharelu nuskhe aur upay aur usse hone wale fayde.

हिंग हैं किंग जी हाँ, हिंग के उपयोग से करने से सेहत को बहुत ही ज्यादा लाभ होते हैं. हिंग के कई उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय भी हैं जो हमें सेहत से जुडी कई सारी परेशानियों से राहत दिला सकते हैं. आइये जानते हैं हिंग के घरेलु नुस्खे, उपाय और हिंग खाने के फायदे के बारे में.

घर की रसोई हो या होटल की हींग (Asafoetida) का किचन में रहना बहुत ही ज़रूरी हैं. हींग के लाभ बड़े हैं, हींग ना केवल दाल, सांभर, सब्ज़ियो का स्वाद बढ़ाती हैं, बल्कि कई पकवान तो इसके बिना अधूरे ही हैं. वैसे हींग हमेशा से अपने औषधिय गुनो के कारण जानी जाती हैं. बच्चो से लेकर बूढ़े तक इसका उपयोग कर सकते हैं. आमतौर पर हींग को पेट का दोस्त माना जाता हैं. यह किसी भी प्रकार के अपच और पेट के मरोड़ को तुरंत दूर करने में मदद करती हैं. यह भूख को बढ़ाती हैं. हींग कई बीमारियो के रोकथाम में भी मददगार हैं. आइए जानते हैं हींग के फायदे, गुण और इसके उपयोग और घरेलू नुस्खे ;-

1. दर्दनिवारक :- किसी भी तरह के दर्द में हींग राहत देती हैं. इससे माइग्रेन का दर्द, दाँत का दर्द, पीरियड्स का दर्द, नॉर्मल सीर दर्द आदि को दूर किया जा सकता हैं. इसमे मौज़ूद एंटी-ऑक्सिडेंट्स और दर्द-निवारक गुण तुरंत दर्द से राहत देते हैं. दांतो के दर्द को दूर करने के लिए हींग, नींबू रस को मिला कर गाढ़ा पेस्ट बना लेना चाहिए और इस पेस्ट को वहा लगा देना चाहिए जहा दर्द हो रहा हो. गर्म पानी में हींग का पाउडर को घोल कर पीने से माइग्रेन और सीर दर्द तुरंत दूर हो जाता हैं.

2. फेफड़े से संबंधित रोगो में ;- हींग शक्तिशाली श्वास उत्तेजक और कफ निवारक हैं. यह गले में जमा हुए कफ और छाती में खून जमने में तुरंत राहत देता हैं. अगर आपको सुखी खाँसी, बलगम या दमा की शिकायत रहती हैं, तो हींग, शहद और अदरक के मिश्रण का नियमित सेवन लाभ देता हैं.

3. अपच ;- अपच को दूर करने के लिए हींग को पुराने समय से ही घरेलू दावा के तौर पर इस्तेमाल किया जाता रहा हैं. यह पेट की समस्याओं के लिए अकेली घरेलू रामबाण औषधि हैं. यह एंटी-ऑक्सिडेंट्स और एंटी-इनफ्लमेटरी खूबियो से भरपूर होने के कारण पेट की गड़बड़, गैस, पेट के कीड़े और दस्त से संबंधी दिक्कतो में तुरंत राहत देती हैं.

4. स्किन प्राब्लम :- हींग में कई शक्तिशाली एंटी-इनफ्लमेटरी एजेंट्स होने की वजह से इसका इस्तेमाल ब्यूटी प्रॉडक्ट्स में किया जाता हैं. यह स्किन पर पनपने वाले corns और calluses को ठीक करती हैं. हींग का कूलिंग इफेक्ट त्वचा की जलन को कम करता हैं और बैक्टीरिया को पैदा नही होने देता हैं.

5. कैंसर से बचाव :– हींग के एंटी-ऑक्सिडेंट्स से कोशिकाओ में फ्री-रेडिकल्स को फैलने का मौका नही मिलता हैं. यह फ्री-रेडिकल्स ही कैंसर को बढ़ावा देते हैं, लेकिन हींग इनको फैलने से रोकता हैं और कई तरह के कैंसर से बचाता हैं. खास करके हींग बड़ी आँत से जुड़े कैंसर को रोकने में बहुत ही असरदार माना गया हैं.

6. महिला/ पुरुष के रोग ;– महिलाओं में माहवारी (पीरियड्स) के दौरान पेट और पेडू में अचानक उठे दर्द को हींग से कम किया जाता हैं. यह पेट में होने वाली ऐंठन, अनियमित माहवारी (पीरियड्स) के इलाज में काम आती हैं. इसके अलावा हींग से लयूकोरिया का भी इलाज किया जाता हैं. पुरुषो के यौन संबंधी विकार भी इससे ठीक हो जाते हैं. यह नपुंसकता, शुक्राणू की कम संख्या और शीघ्रपतन जैसे समस्याओं को दूर करने में क्षक्षम हैं. ग्रामीण इलाक़ो में मर्दानगी बढ़ाने के लिए हींग को गर्म पानी में मिला कर पीने की सलाह दी जाती हैं. इससे खून का प्रवाह तेज़ हो जाता हैं और लो ब्लड प्रेशर में समस्या में तुरंत राहत मिलती हैं.

आइए जानते हैं हींग के देसी नुस्खे (घरेलू नुस्खे) और इसके फायदे :-

पेट की समस्या में कैसे करे उपयोग ?

1. चुटकी भर हींग की मात्रा खाने में ज़रूर शामिल करे. दाल और सब्ज़ी में हींग का तड़का ज़रूर लगाए.

2. इसके अलावा एक कप पानी में ज़रा सी हींग मिला कर रोजाना खाना खाने के बाद पिए.


पीरियड्स की प्रॉब्लम्स में :- महिलाओं के अनियंती पीरियड्स और पीरियड्स में ज़्यादा ब्लीडिंग को हींग के द्वारा दूर किया जा सकता हैं. पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द को कम करने में यह मददगार होता हैं.

कैसे करे इस्तेमाल ?

1. छाछ में चुटकी भर हींग, आधा चम्मच मेथी पाउडर और स्वादानुसार नमक डालकर लगातार एक महीने तक दिन में 2 से 3 बार पिए. पेट की तकलीफ में आराम मिलता हैं.


सिरदर्द और माइग्रेन में :- सर्दी-जुकाम से होने वाले सिरदर्द या माइग्रेन , हींग दोनो ही समस्याओं में बेहतर इलाज होता हैं. अपने एंटी-इनफ्लमेटरी गुनो के कारण हींग ब्लड वेसल्स की सूजन को दूर करता हैं जो सिरदर्द की मुख्य वजह होती हैं.

कैसे करे इस्तेमाल?

1. एक कप पानी में चुटकी भर हींग डाल कर उसे 15 मिनिट्स तक धीमी आँच पर उबाले. ठंडा होने के बाद इसे पी ले. काफ़ी आराम मिलेगा.

2. इसके अलावा एक चम्मच हींग, सूखा अदरक, कपूर और लाल मिर्च की थोड़ी-थोड़ी मात्रा लेकर उसमे दूध और गुलाबजल मिला कर पेस्ट तैयार करे. इस पेस्ट को सीर पर लगाए. माइग्रेन में आराम मिलेगा.


दाँत दर्द में हींग का उपयोग कैसे करे?

1. दाँत दर्द वाली जगह पर हींग का टुकड़ा रखने से बहुत जल्दी आराम मिलता हैं.

2. हींग के पाउडर को गुनगुने पानी में मिला कर कुल्ला करना भी फायदेमंद होता हैं.

3. नींबू के रस के साथ एक चम्मच हींग मिक्स करे और इसे हल्का गरम करे और दर्द वाली जगह पर लगाए.


कान दर्द में हींग का उपयोग :-

नारियल तेल को गरम करे और उसमे चुटकी भर हींग की मात्रा डाल कर उसे मिक्स करे. अब इसे कान में बूँद-बूँद करके डाले. बहुत जल्दी आराम मिलेगा.


साँस की समस्या, अस्थमा और सर्दी-खाँसी में हींग का उपयोग :-

अस्थमा, सुखी खाँसी और सर्दी जुकाम से साँस लेने में तखलीफ होने लगती हैं, कई बार इससे कफ की समस्या भी हो जाती हैं. इससे निपटने के लिए हींग दवा के तौर पर काम करती हैं.

कैसे करे इस्तेमाल?

1. हींग के पाउडर को पानी में मिला कर इसका पेस्ट तैयार करे और इसे सीने पर अच्छे से लगा कर कुछ देर तक रखे. इससे आराम मिलता हैं.

2. आधा चम्मच हींग, आधा चम्मच अदरक के पाउडर को 2 चम्मच शहद के साथ मिक्स करे. दिन में कम से कम 3 बार इसका इस्तेमाल करने से सुखी खाँसी और सर्दी-जुकाम की समस्या दूर हो जाती हैं.


Loading...


Related posts:
Chamkeele safed daant paane ke 20 tarike.
एलर्जी कितनी तरह की होती हैं ?
विटामिन A क्या हैं और इसके उपयोग बताये?
हरी पत्तेदार सब्जियां खाने के 10 फायदे.
केले के छिलके के घरेलु नुस्खे और उससे होने वाले फायदे.
कैल्शियम की कमी को दूर करने के तरीके.
कलौंजी के तेल के फायदे.
जानिए एनर्जी ड्रिंक पीने से सेहत को होने वाले नुकसान के बारे में...
राइस ब्रैन ऑयल (चावल की भूसी के तेल) फायदे।
वोडका के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।
डकार कम करने या रोकने के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।
गर्दन की अकड़न यानि जकड़न दूर करने के घरेलु नुस्खे और उपाय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *