हेपेटाइटिस बी से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं यह उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।

हेपेटाइटिस बी से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं यह उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।

आज के लेख में हम हेपेटाइटिस बी से राहत दिलाने वाले उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय आदि के बारे में आपको बताएँगे। हेपेटाइटिस बी लीवर में होने वाली एक बीमारी हैं। हेपेटाइटिस बी आज के युग में एक गंभीर बीमारी बन गयी हैं। इस जानलेवा बीमारी की वजह से दुनियाभर के 257 मिलियन लोग प्रभावित हैं। हेपेटाइटिस बी वायरस की वजह से फैलता हैं। आइये जानते हैं हेपेटाइटिस बी के इलाज के लिए उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय आदि के बारे में। Home Remedies & Home Treatment of Hepatitis B In Hindi.

आखिर हेपेटाइटिस बी होने की वजह क्या हैं और इसके लक्षण क्या होते हैं?

हेपेटाइटिस बी एक ऐसी खतरनाक बीमारी हैं, जिसके बारे में लम्बे समय तक रोगी को पता ही नहीं चल पाता हैं, की उसे हेपेटाइटिस बी हैं। यह बीमारी संक्रमित खून से दुसरे व्यक्ति के खून में संपर्क होने की वजह से फैलता हैं। इसके अलावा यह बीमारी असुरक्षित यौन सम्बन्ध बनाने, इन्फेक्टेड सूई या रेजर और दूषित खून से संक्रमित उपकरण से टैटू बनवाने, हेपेटाइटिस बी संक्रमित खून को चढ़ाने, संक्रमित माँ से उसके गर्भ में पल रहे बच्चे में आदि से फैलता हैं।

हेपेटाइटिस बी होने के लक्षण :-

वैसे तो इस बीमारी के लक्षण इतने ज्यादा नार्मल होते हैं की लोगो को लम्बे समय तक पता ही नहीं चल पाता हैं, की उन्हें हेपेटाइटिस बी की बीमारी हैं। लम्बे वक़्त तक इस बीमारी का पता न लगने पर सिरोसिस या लीवर कैंसर हो जाता हैं, जिससे रोगी की मृत्यु तक हो जाती हैं। इसके लक्षणों की बात करे तो इसकी वजह से पेट में हल्का दर्द, जी मचलाना, भूख न लगना, माइल्ड फ्लू, थकान, शरीर में दर्द होना आदि हैं। यानी की यह लक्षण काफी ज्यादा समान्य हैं, जिसकी वजह से लम्बे समय तक रोगी को इस घातक बीमारी के बारे में पता ही नहीं लग पाता हैं।

हेपेटाइटिस बी के उपचार के लिए उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय :-

1. निम्बू हैं फायदेमंद

निम्बू पानी को पीने से भूख न लगना और उल्टी आने जैसी समस्याओं से आराम मिलता हैं। इसके अलावा अंगूर के रस में ओलिव ऑयल और निम्बू का रस मिला कर पीने से हेपेटाइटिस बी में फायदा होता हैं।

2. मुलेठी भी हैं लाभकारी

इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-वायरल गुण होते हैं जो हेपेटाइटिस बी के वायरस को नष्ट करता हैं। इसके लिए मुलेठी के टुकड़े को दिन में 2 से 3 बार चबाना चाहिए और इसका काढ़ा बनाकर पीना चाहिए।

3. आंवले का रस और शहद

आंवले के जूस में शहद मिला कर पीने से भी हेपेटाइटिस बी से छुटकारा पाने में मदद मिलती हैं। आंवले में एंटी वायरल प्रॉपर्टीज पायी जाती हैं जो इसके वायरस को ख़त्म करती हैं। इस उपाय को आप दिन भर में कई बार अजमाए। इसके अलावा आंवले का रस पानी के साथ मिला कर पीने से या फिर ड्राई आंवला पाउडर को गुड़ के साथ मिला कर एक महीने तक दिन में 2 बार लेने से भी हेपेटाइटिस बी से आराम मिलता हैं।

4. सिंहपर्णी

सिंहपर्णी लीवर में सूजन और दर्द को कम करती हैं। इसके लिए सिंहपर्णी की सूखी या ताज़ी पत्तियों या फूलों को थोड़े से पानी में 10 मिनट तक उबाले और फिर इस पानी को छान कर पीजिये। यह हेपेटाइटिस बी के उपचार के लिए काफी अच्छा घरेलु नुस्खा हैं।

5. ओलिव लीफ (जैतून का पत्ता)

ओलिव के पत्ते में ओलेरोपीन नाम का फाइटोकेमिकल कंपाउंड पाया जाता हैं। इसलिए एक चम्मच ओलिव लीफ को 10 मिनट तक एक कप पानी में उबाले। फिर इसे छानकर दिन में 3 बार इसे पीजिये। अगर आपको ओलिव लीफ नहीं मिल पा रहा हैं तो आप मार्किट से ओलिव लीफ के 500 mg के कैप्सूल भी खा सकते हैं। Olive Leaf 500 mg Capsules आपको मेडिकल स्टोर से मिल जायेंगे, अगर मेडिकल स्टोर पर न मिले तो आप इसे ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं।

6. लहसुन से करे उपचार

इसमें एमिनो एसिड और मेटाबोलाइट्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। यह हेपेटाइटिस बी के वायरस को नष्ट करता हैं। इसके लिए कच्चे लहसुन की कलियाँ को चबाना चाहिए, इससे हेपेटाइटिस बी से निजात पाने में मदद मिलती हैं।

7. नीम भी हैं फायदेमंद

इसमें एंटी वायरल गुण पाए जाते हैं जो लीवर से ज़हरीले toxins को बाहर निकाल देता है। इसके लिए नीम की पत्तियों का रस निकाले। 30 ml नीम के रस में 15 ml शहद मिला कर रोजाना सुबह खाली पेट लेना चाहिए। इस उपाय को रोजाना एक हफ्ते तक जरूर अजमाए।

8. अदरक की चाय और रस

अदरक की चाय रेग्युलर पीने से भी हेपेटाइटिस बी से छुटकारा मिलता हैं। इसके अलावा भोजन करने के बाद अदरक का जूस पीने से भी लाभ मिलता हैं।

9. हल्दी करे कमाल

हल्दी में एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं जो लीवर से सम्बन्धित बिमारियों से बचने में हमारी मदद करते हैं। इसलिए भोजन बनाने के हल्दी का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।

10. चुकंदर हैं लाभकारी

चुकंदर में फोलिक एसिड, कैल्शियम, आयरन, पोटैशियम, मैग्नीशियम, विटामिन ए, बी, सी और कॉपर प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं। यह सभी तत्व लीवर में हुए डैमेज सेल्स को रिपेयर करके लीवर की सूजन और दर्द को कम करते हैं। इसलिए दिन भर में 2 गिलास चुकंदर का रस जरूर पिए।




Loading...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

सरसों के तेल के लाभ
हैंगओवर से छुटकारा पाने के घरेलु नुस्खे.
प्रेगनेंसी में खूब खाए फल और पाए स्मार्ट बच्चा.
गले मिलने के सेहत को भी फायदे होते हैं. जानिए..
फूल गोभी खाने के फायदे और घरेलु नुस्खे.
चावल के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।
क्या दांतों में टूथपिक का इस्तेमाल करना चाहिए?
अगर आप चाइनीज़ फूड के दीवाने हैं तो आपको सावधान हो जाने की जरूरत हैं।
पालक के जूस में इन चीजों को मिलाकर पीजिये और पाईये ढेर सारे फायदे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *