Category Archives: Story

खाऊं गौरेया के बच्चा।

एक समय की बात है एक गौरेया थी। किसी कारणवश गौरेया को अपने अंडे एक कौए के घोसले में देने पड़े। कौए का नाम वनचर था। वनचर कौए ने गौरेया के सामने यह शर्त रखी की जब इन अण्डों में से बच्चे निकलेंगे तो वह उन सभी को खा लेगा। गौरेया ने कौए की शर्त… Read More »

राजा रसालू की रोचक कहानी जरूर पढ़े।

पूरन भगत के आशीर्वाद से सिआलकोट के राजा सलवान के घर रानी लूणा की कोख से लोक नायक राजा रसालू का जन्म हुआ। राजे के ज्योतिषियों ने राजा सलवान को रसालू का मूंह 12 वर्ष तक देखना अशुभ बताया। पहले भी राजा सलमान ने ज्योतिषियों के कहने पर पूरन को एक कोठरी में १२ वर्ष… Read More »

पूरन भगत की रोचक कहानी जरूर पढ़े।

सिआलकोट का एक राजा था, सलवान, उसकी दो रानियाँ थी। एक का नाम था इछरा और दूसरी का नाम लूणा था। सलवान के घर रानी इछरा के कोख से एक बालक ने जन्म लिया। उसका नाम पूरन रखा गया। कहते है की ज्योतिषियों ने राजा सलवान को यह भ्रम डाल दिया की बारह वर्ष तक… Read More »

जानिए मोहिनी एकादशी व्रत के बारे में…

मोहिनी एकादशी व्रत की कथा, मोहिनी एकादशी व्रत कब करना चाहिए? Story About Mohini Ekadashi Vrat in Hindi. हिंदू पंचाग के अनुसार मोहिनी एकादशी वैशाख मास की एकादशी तिथि को मनाया जाता है। इस दिन ऐसे कोई भी काम न करें। जिससे आपके द्वारा किए गए पुण्य के काम पाप में बदल जाएं। जोकि आपके… Read More »

जीवित्पुत्रिका व्रत की कहानी.

भारत देश में त्यौहारों क कोई कमी नहीं हे और सभी पर्व-त्यौहारों से जुड़ी कोई न कोई कहानी भी है। इन्हीं व्रत-त्यौहारों में से एक ही जीवित्पुत्रिका व्रत यानी जीवित पुत्र के लिए रखा जाने वाला व्रत। मान्यता है कि यह व्रत वे महिलाएं रखती हैं जिन्हें पुत्र होते हैं। बच्चों की लंबी उम्र के… Read More »