पुदीने के 30 उपयोगी घरेलु नुस्खे और फायदे।

पुदीने के घरेलु नुस्खे, उपाय और फायदे

पुदीना प्रकृति की तरफ से मनुष्य को दिया गया वरदान है। पुदीने को ऐसे ही गुणकारी नहीं कहा जाता हैं, इसमें विटामिन ए प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। आइये आज हम पुदीना के ऐसे घरेलु नुस्खे और उपाय के बारे में जानते हैं, जिनके इस्तेमाल से विभिन्न बिमारियों में लाभ होता हैं। पुदीना के फायदे जानने के लिए यह लेख जरूर पढ़े।

पुदीना ऐसा पौधा हैं, जिसे आप घर की छोटी जगहों और गमलों आदि में भी उगा सकते हैं। वैसे तो पुदीने को ऐसी जगहों पर उगाया जाता हैं, जहाँ पर पुदीने को बराबर लगातार मात्रा में पानी मिलता रहे। पुदीने की खेती करने के लिए लोग ऐसी जगहों का चुनाव करते हैं, जहा पर पानी भरपूर मात्रा में रहता हैं। जैसा की गाँवो आदि में नलके आदि के पास पुदीने को लगाया जाता हैं, जहाँ पर पानी का रिसाव होता रहता हैं और पुदीना बड़ी ही तेज़ी के साथ फलता-फूलता हैं। पुदीना के फायदे जानने बाद आपको काफी अच्छा लगेगा। Health Benefits & Home Remedies of Mint (Mentha)  in Hindi.

पुदीना का इस्तेमाल ज्यादातर कैसे किया जाता हैं?

ज्यादातर घरों में पुदीने की चटनी बना कर खाया जाता हैं। ताज़ा पुदीना न होने पर पुदीने की पत्तियों को सूखा कर रख लेना चाहिए और इन सूखी पत्तियों का इस्तेमाल किया जा सकता हैं। पुदीने के अर्क या सत का भी प्रयोग आमतौर पर किया जाता हैं।

यूनानी चिकित्सा में पुदीने को शक्ति देने वाला, पसीना लाने वाला माना जाता हैं। इससे पीरियड्स की समस्याएँ भी दूर होती हैं। तो देर किस बात की हैं, पुदीने के 30 घरेलु नुस्खे और उपाय जानते हैं।

पुदीने के घरेलु नुस्खे, उपाय और फायदे :-

1. एक गिलास पानी में पुदीने की 4 से 5 पत्तियों को उबाल कर ठंडा होने के बाद फ्रिज में रख दे। इस पानी से कुल्ला करने पर मूंह अथवा साँसों से आने वाली दुर्गन्ध से मुक्ति मिलती हैं।

2. ताज़े पुदीने की पत्तियों को पीस कर चेहरे पर 20 मिनट के लिए लगाए। फिर ठंडे पानी से चेहरे को धो ले। इससे त्वचा की गर्मी बाहर निकल जाती हैं।

3. बिच्छू या पीली मक्खी के डंक मारने वाली जगह पर पुदीने का अर्क लगाने से यह डंक का ज़हर खिंच लेता है, जिससे दर्द से काफी आराम मिलता हैं।

4. नकसीर की समस्या होने पर प्याज और पुदीने के रस को एक साथ मिला कर नाक में डालना चाहिए। इससे नाक से खून आना बंद हो जाता हैं, नकसीर के मरीजों को यह उपाय जरूर अजमाना चाहिए।

5. पेट के कीड़े मारने के लिए पुदीने का रस पीना फायदेमंद रहता हैं।

जरूर पढ़े :- पेट के कीड़े ख़त्म करने के घरेलु नुस्खे और उपाय।

6. पेट में दर्द होने पर अदरक और पुदीने के रस में सेंधा नमक मिला कर पीना चाहिए, इससे पेट दर्द को दूर करने में मदद मिलती हैं।

7. पुदीने की पत्तियों को पीस कर चेहरे पर लेप लगाने के बाद भाप लेने से चेहरे से झाइयां, दाग-धब्बे और पिम्पल दूर हो जाते हैं।

8. पुदीने की पत्तियों को पीस कर शहद के साथ मिला कर दिन में 3 बार चाटने से डायरिया से आराम मिलता हैं।

9. हरे पुदीने की 20-25 पत्ते, मिश्री और सौंफ की 10-10 ग्राम और काली मिर्च के 2-3 दाने को पीस ले और सूती कपड़े में रख कर इन्हें अच्छी तरह से निचोड़ ले। इस रस की 1 चम्मच मात्रा लेकर एक कप गुनगुने पानी में डालकर पीने से हिचकी आना बंद हो जाता हैं।

10. दस ग्राम पुदीना और 20 ग्राम गुड़ को 200 ग्राम पानी में उबाल कर पीने से बार-बार उछलने वाली पित्त ठीक हो जाती हैं।

11. एक टब में पानी भर कर उसमे पुदीने के तेल की कुछ बूंदे डाले और इस पानी में अपने पैरो को डुबो कर रखे। इससे आपकी सारी थकान दूर हो जाएगी।

12. डिलीवरी के समय पुदीने का रस पीने से डिलीवरी में आसानी होती हैं।

13. हकलाहट दूर करने के लिए पुदीने की पत्तियों को काली मिर्च के साथ पीस ले और सुबह-शाम एक चम्मच इनका सेवन करे।

14. पानी में निम्बू का रस, पुदीना और काला नमक मिला कर पीने से मलेरिया के बुखार को कम करने में मदद मिलती हैं।

15. पुदीना बैक्टीरिया को मारने में सक्षम हैं। अगर घर के चारों ओर कोनो में पुदीने के तेल को छिडका जाये तो मक्खी, मच्छर और चींटी जैसे कीड़े-मकौड़े घर से बाहर भाग जाते हैं।

16. हरे पुदीने को पीस ले और इसमें 2 बूँद निम्बू के रस की मिलाये। इस पेस्ट से चेहरे पर लेप करे और कुछ देर तक इसे चेहरे पर लगा रहने दे। फिर पानी से चेहरे को धो ले और कुछ दिनों तक यह उपाय अजमाने से चेहरे के मुहांसे दूर हो जाते हैं। इससे चेहरे में निखार भी आ जाता हैं।

17. पुदीने की ताज़ी पत्तियों को मसल कर बेहोश हुए आदमी को सूँघाने से उसकी बेहोसी दूर हो जाती हैं।

18. पुदीने की ताज़ी पत्तियों का रस, अस्थमा, टी.बी. और किसी भी तरह की सांस से सम्बंधित बिमारियों के उपचार में काफी ज्यादा फायदेमंद माना जाता हैं।

19. पुदीने की चाय में 2 चुटकी नमक मिला कर पीने से खांसी से आराम मिलता हैं।

20. हैजा होने पर पुदीना, प्याज का रस और निम्बू का रस बराबर मात्रा में मिला कर पीने से लाभ होता हैं। दस्त-उल्टी, हैज़ा की बीमारी में आधे कप पुदीने का रस हर 2 घंटे के अंतराल पर मरीज़ को पिलाना चाहिए।

21. पुदीने के रस में शहद मिला कर पीने से बुखार दूर हो जाता हैं। इसके अलावा यह निमोनिया से होने वाले दुष्परिणाम को भी ख़त्म करता हैं।

22. एसिडिटी से छुटकारा पाने के लिए पुदीने के रस को पानी में मिला कर पीना चाहिए।

23. तलवे की गर्मी के कारण आग पड़ने पर पुदीने का रस लगाना लाभकारी होता हैं।

24. पेट दर्द और भोजन में अरुचि होने पर 3 ग्राम पुदीने के रस में हिंग, जीरा, काली मिर्च और थोड़ा सा नमक मिला कर गर्म करके पीना चाहिए। इससे आपको काफी ज्यादा लाभ होगा।

25. पुदीने को पानी में उबाल कर थोड़ी सी चीनी मिला कर गरमा-गर्म चाय की भाँती पीने से बुखार दूर हो जाता हैं। इसके अलावा बुखार के कारण होने वाली कमजोरी भी समाप्त हो जाती हैं।

26. पुदीने और सौंठ का काढ़ा बना कर पीने से सर्दी के कारण होने वाले बुखार से आराम मिलता हैं।

27. सलाद के रूप में इसे खाना सेहत के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद रहता हैं। अगर इसकी पत्तियों को रोजाना चबाया जाये तो दांत की बीमारियाँ, पायरिया, मसूड़ो से खून आने जैसी बिमारियों का इलाज करने में मदद मिलती हैं।

28. धनिया, सौंफ और जीरा बराबर मात्रा में लेकर पानी में भिगो कर पीस ले और फिर 100 ग्राम पानी मिला कर छान ले। इसमें पुदीने का अर्क मिला कर पीने से उल्टी आना बंद हो जाता हैं।

29. पुदीने की चाय को पीने से स्किन प्रॉब्लम्स और पेट से सम्बंधित परेशानियों को दूर करने में मदद मिलती हैं। इसे नियमित रूप से पीने पर पेट साफ़ हो जाता हैं और चेहरे से मुहांसे गायब हो जाते हैं।

30. पुदीने का सत निकाल कर साबुन के पानी में घोल कर सिर पर डाले। 15 से 20 मिनट तक इसे सिर में लगा रहने दे। बाद में सिर को पानी से धो ले। 2 से 3 बार इसका इस्तेमाल करने पर बालों से जुएँ और लीखें मर जाती हैं








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *