तुलसी खाने के फायदे और घरेलु नुस्खे एवं उपाय जानिए।

तुलसी खाने के फायदे और घरेलु नुस्खे एवं उपाय जानिए।

हिन्दू धर्म में तुलसी को बहुत ही महत्पूर्ण पौधा माना जाता हैं। तुलसी न सिर्फ धार्मिक दृष्टि से पूजनीय पौधा हैं, बल्कि इससे सेहत को भी ढेर सारे लाभ होते हैं। इस चमत्कारी पौधे में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो स्वास्थ्य के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होते हैं। प्राचीन काल से ही भारत में तुलसी का उपयोग घरेलु नुस्खो और उपाय में इस्तेमाल किया जाता हैं। इसमें ऐसे औषधीय गुण पाए जाते हैं जो इसे दैवीय पौधा बना देते हैं। आइये तुलसी के फायदे और इसके उपयोगी घरेलु नुस्खे एवं उपाय के बारे में जानते हैं।

आज के समय में इतनी ज्यादा बीमारियाँ होने लगी हैं, जिसके चलते ज्यादातर लोगो को डॉक्टर के पास जाना पड़ता हैं। लेकिन अगर आपके घर में तुलसी का पौधा हैं तो घबराने की जरूरत नहीं हैं। तुलसी के पौधे के इस्तेमाल से कई सारी बिमारियों को दूर करने में मदद मिलती हैं। क्या आपको पता हैं की तुलसीपात्र में मिला हुआ पानी पीने से शरीर के कई सारे रोग दूर हो जाते हैं। आइये जानते हैं तुलसी से होने वाले फायदे और घरेलु नुस्खे। Health Benefits & Home Remedies of Holy Basil in Hindi.

तुलसी के फायदे, घरेलु नुस्खे और उपाय :-

1. बुखार दूर करे

दो कप पानी में 1 चम्मच तुलसी की पत्तियों का पाउडर और एक चम्मच इलायची पाउडर मिला कर उबाले और काढ़ा बनाये। दिन में 2 से 3 बार इस काढ़े को पीजिये। स्वाद बदलने के लिए आप इसमें दूध और चीनी भी मिला सकते हैं। इससे बुखार को कम करने में मदद मिलती हैं।

2. मूंह का इन्फेक्शन दूर करे

अल्सर और मूंह के अन्य इन्फेक्शन को ख़त्म करने में तुलसी की पत्तियों का सेवन करना फायदेमंद रहता हैं। प्रतिदिन तुलसी की पत्तियों को चबाने से मूंह के संक्रमण से छुटकारा मिलता है।

3. आँखों की प्रॉब्लम्स में

आँखों की समस्याएं विटामिन ए की कमी की वजह से होती हैं। तुलसी का रस आँखों की समस्याओं को दूर करने में मददगार होता हैं। आँखों की जलन दूर करने के लिए तुलसी का अर्क बहुत ही ज्यादा लाभकारी हैं। रोजाना रात को श्यामा तुलसी के अर्क की 2 बूंदे आँखों में जरूर डालनी चाहिए। हालांकि आपको यह सलाह दी जाती हैं की, इस उपाय को अजमाने से पहने आँखों के डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें।

4. पेट दर्द दूर करने के लिए

एक चम्मच पिसी हुई तुलसी की पत्तियों को पानी के साथ मिला कर गढ़ा पेस्ट बना ले। पेट दर्द होने पर इस पेस्ट को नाभि और पेट के आसपास लगाए। इससे पेट दर्द से काफी ज्यादा आराम मिलता हैं।

5. चेहरा चमकदार बनाये

तुलसी में Thymol तत्व पाया जाता हैं जो स्किन को बिमारियों से बचाता हैं। तुलसी और निम्बू के रस को बराबर मात्रा में मिला कर चेहरे पर लगाने से झाइयाँ और फुंसियाँ दूर हो जाती हैं। इस उपाय को अजमाने से चेहरे की रंगत में भी निखार आता हैं और चेहरे की चमक भी बढ़ जाती हैं। चेहरे को चमकदार बनाने, दाग-धब्बे मिटाने, झाइयों से छुटकारा पाने के लिए तुलसी की पत्तियों को पीस कर लेप बनाये और इसे चेहरे पर लगाये।

6. बवासीर का इलाज

तुलसी के बीजो का चूर्ण दही के साथ मिला कर लेने से खूनी बवासीर के उपचार में मदद मिलती हैं। इस उपाय को अजमाने से बवासीर में खून आना बंद हो जाता हैं।

जरूर पढ़े :- बवासीर से राहत दिलाने वाले उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।

7. गठिया की बीमारी में फायदेमंद

गठिया की बीमारी को दूर करने के लिए तुलसी के पत्ते, जड़, डंठल और बीज को बराबर मात्रा में मिला कर कूट, छान ले और इसे पुराने गुड़ के साथ मिला ले। इसे बकरी के दूध के साथ सुबह-शाम ले, इससे गठिया की बीमारी में काफी ज्यादा लाभ होता हैं।

8. कीड़े के काटने पर

कीड़े-मकौड़े के काटने पर, गर्मी में लू लगने पर और खून को साफ़ करने के लिए भी तुलसी बहुत ही ज्यादा लाभकारी पौधा हैं।

9. लीवर से सम्बन्धित परेशानियां दूर करे

तुलसी की 10 से 12 पत्तियों को गर्म पानी से धो कर रोजाना सुबह खाए। यह लीवर से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में लाभकारी होती हैं।

10. सर्दी-जुकाम दूर करे

बारिश और ठण्ड के मौसम में सर्दी-जुकाम से बचने के लिए तुलसी की 10-12 पत्तियों को 1 कप दूध में उबाल कर पीजिये। सर्दी की दवा के रूप में तो यह फायदेमंद हैं ही, साथ ही यह न्यूट्रीटिव ड्रिंक का भी काम करता हैं। सर्दी-जुकाम होने पर तुलसी की पत्तियों को चाय में उबाल कर पीने से भी लाभ होता हैं। तुसली का अर्क तेज़ बुखार को कम करने में उपयोगी हैं। जुकाम, हरारत, फ्लू और वायरल बुखार को दूर करने के लिए तुलसी, काली मिर्च और मिश्री मिला कर पानी में पका कर या फिर इन तीनो को पीस कर गोलिया बना कर दिन में 3 से 4 बार लेने से काफी फायदा होता हैं।

11. मूंह की दुर्गन्ध दूर करे

तुलसी की सूखी पत्तियों को सरसों के तेल में मिला कर दांत साफ़ करे। इससे साँसों से आने वाली बदबू से छुटकारा मिलता हैं। पायरिया जैसी बीमारी को दूर करने में यह काफी अच्छा इलाज माना जाता हैं। इसके अलावा मूंह से आने वाली दुर्गन्ध को मिटाने के लिए आप रोजाना दिन में 2 बार तुलसी की पत्तियों को चबाये।

जरूर पढ़े :- मूंह की बदबू दूर करने के आसान उपयोगी उपाय और तरीके।

12. दिल के लिए फायदेमंद

तुलसी को खाने से ब्लड में कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में मदद मिलती हैं। इसलिए दिल के मरीज़ को तुलसी का सेवन जरूर करना चाहिए।

13. दाद-खाज, खुजली मिटाने के लिए

स्किन प्रॉब्लम्स जैसे की दाद-खाज, खुजली, और स्किन की अन्य समस्याओं के इलाज में तुलसी का अर्क प्रभावित स्थान पर लगाना चाहिए। इस उपाय को अजमाने से कुछ ही दिनों में यह सभी रोग ठीक हो जाते हैं। Naturopathy के जरिये leucoderma का उपचार करने के लिए तुलसी का सफलतापूर्वक इस्तेमाल किया गया हैं। तुलसी की ताज़ी पत्तियों को इन्फेक्टेड स्किन पर रगड़े, इससे इन्फेक्शन ज्यादा नहीं फैलता हैं। स्किन की बिमारियों को दूर करने के लिए तुलसी की पत्तियों के साथ पकाए गये तिल के तेल को लगाने से भी लाभ मिलता हैं।

14. किडनी स्टोन में फायदेमंद

तुलसी के सेवन से गुर्दे मजबूत बनते हैं। अगर किसी व्यक्ति के गुर्दे में पत्थरी (किडनी स्टोन) हो गयी हैं तो उसे तुलसी की पत्तियों को उबाल कर उसका अर्क बना लेना चाहिए। फिर इसमें शहद मिला कर रोजाना इस अर्क को पीना चाहिए। 6 महीने तक ऐसा करने पर आपको फर्क दिखाई देने लगेगा। इससे पथरी मूत्र के जरिये किडनी से बाहर निकल जाती हैं। इसके अलावा किडनी स्टोन पर आप तुलसी के पत्तों को भी चबा कर खा सकते हैं।

जरूर पढ़े :- किडनी स्टोन में राहत देती हैं 10 चीज़े।

15. सांस लेने की परेशनियों को दूर करे

श्वास से सम्बन्धित समस्याओं के इलाज में तुलसी का इस्तेमाल किया जाता हैं। शहद, अदरक और तुलसी को मिला कर काढा बनाये और इस काढ़े को पीने से दमा, ब्रोंकाइटिस, कफ, सर्दी आदि से राहत मिलती हैं। नमक, लौंग और तुलसी के पत्तो से बनाये गये काढ़े को पीने से इन्फ्लुएंजा (एक तरह का बुखार) से तुरंत आराम मिलता हैं।

16. खांसी ठीक करे

लगभग सभी आयुर्वेदिक कफ सिरप को बनाने के लिए तुलसी का इस्तेमाल जरूर ही किया जाता हैं। तुलसी की पत्तियां कफ को साफ़ करने का काम करती हैं। तुलसी की कोमल पत्तियों को अदरक के साथ मिला कर चबाने से खांसी-जुकाम से आराम मिलता हैं। तुलसी की पत्तियों को पानी में उबाल कर चाय की तरह पीने से गले की खराश दूर होती हैं। इस पानी से आप गरारे भी कर सकते हैं। खांसी होने पर तुलसी की पत्तियों को अदरक के साथ पीस कर शहद मिला कर चाटने से भी फायदा होता हैं।

17. घावों को जल्दी भरे

जख्मों को जल्दी ठीक करने के लिए तुलसी की पत्तियों को फिटकरी के साथ पीस कर घावों को लगाना चाहिए। इससे घाव जल्दी भरने लगते हैं।

18. कान की समस्याओं में

कान की समस्याएं जैसे की कान बहना, कानो में दर्द होना या कम सुनाई देना आदि में तुलसी बहुत ही ज्यादा फायदेमंद साबित होती हैं। तुलसी के रस में कपूर मिला कर उसे हल्का गर्म करे और इसे कानों में डाले, इससे कान का दर्द कम हो जाता हैं। कनपटी के दर्द में तुलसी की पत्तियों का रस मलने से बहुत ज्यादा लाभ होता हैं। कान दर्द को दूर करने के लिए एक उपाय यह भी हैं, तुलसी के पत्तियों को सरसों के तेल में भिगो ले और इसमें लहसुन का रस मिला ले, इसे हल्का गर्म करले और कानों में डाले, इससे कानों के दर्द से आराम काफी आराम मिलता हैं।

19. सिरदर्द का उपचार

सिरदर्द होने पर तुलसी का काढ़ा बना कर पीने से लाभ होता हैं। तुलसी की पत्तियों के रस में एक चम्मच शहद मिला कर रोजाना सुबह-शाम 15 दिनों तक लेने पर माइग्रेन (अधकपारी) जैसी बीमारी से छुटकारा मिलता हैं।

20. याददाश्त बढ़ाता हैं

बुद्धि और याददाश्त को बढ़ाने के लिए रोजाना 5 से 7 तुलसी के पत्ते पानी के साथ निगल लें। इससे ब्रेन मेमोरी में काफी ज्यादा वृद्धि होती हैं और भूलने की बीमारी दूर होती हैं।

जरूर पढ़े :- याददाश्त बढ़ाने वाले उपयोगी घरेलु नुस्खे।

21. टेंशन से मुक्ति दिलाये

तुलसी में एंटी-डिप्रेशन तत्व पाए जाते हैं। रिसर्च से यह बात साबित हो चुकी हैं की तुलसी स्ट्रेस यानि टेंशन को दूर करती हैं। टेंशन को दूर करने के लिए रोजाना 10 से 12 तुलसी की पत्तियों को दिन में 2 बार खाना चाहिए।

22. दस्त और उल्टी दूर करे

छोटी इलायची, अदरक का रस और तुलसी के पत्तो को बराबर मात्रा में मिला कर लेने से उल्टी नहीं आती हैं। दस्त लगने पर तुलसी के पत्तों को भूने हुए जीरे के साथ मिला कर शहद के साथ दिन में 3 से 4 बार चाटना चाहिए। इससे दस्त को दूर भगाने में आसानी होती हैं

23. तुलसी का तेल भी हैं फायदेमंद

तुलसी के तेल में विटामिन सी, कैल्शियम और फॉस्फोरस जैसे तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं।

24. पाचन की समस्याओं में फायदेमंद

पाचन से रिलेटेड प्रोब्लम्स जैसे की दस्त लगना, पेट में गैस बनना आदि को दूर करने के लिए एक गिलास पानी में 10 से 15 तुलसी की पत्तियों को डाल कर उबाले और काढ़ा बनाए। इस काढ़े में चुटकी भर सेंधा नमक मिला कर पीजिये। पाचन से सम्बंधित समस्याओं को दूर करने में यह काफी कारगर उपाय हैं।

25. चक्कर आने पर

शहद को तुलसी की पत्तियों के रस में मिला कर चाटने से चक्कर आना बंद हो जाते हैं।

26. जलने पर

जल जाने पर तुलसी के रस को नारियल के तेल में फेंटकर लगाने से जलन से राहत मिलती हैं। इससे ज़ख़्म भी जल्दी ठीक हो जाते हैं और ज़ख्म के निशान भी गायब होने लगते हैं।








इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *