अंगूर खाने के 24 बेहतरीन फायदे.

अंगूर खाने के फायदे. Benefits of Grapes in Hindi.

अंगूर खाने के फायदे अगर आप जानना चाहते हैं यह आर्टिकल जरूर पढ़े. अंगूर खाना सभी को अच्छा लगता हैं. इससे ठंडक मिलती हैं और प्यास भी बुझती हैं. इसके अलावा यह शरीर को हेल्दी रखने के साथ ही क़ब्ज़, अपचन, थकान, गुर्दे की बीमारियो और आँखों में होने वाले मोतियाबिंद जैसे रोगो को भी दूर करता हैं. अंगूर में विटामिन A, सी, बी6, फोलेट के अलावा कई प्रकार के मिनरल्स जैसे पोटासियम, कैल्शियम, आयरन, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम और सेलीनीयम भी पाए जाते हैं. 100 ग्राम अंगूर में सिर्फ़ 69 कैलोरी , प्रोटीन/वसा की मात्रा 0.3 ग्राम, मिनरल्स 0.6 ग्राम, कारबोहाइड्रेट 16.5 ग्राम और फाइबर की मात्रा 2.9 ग्राम होती हैं. काले या हरे अंगूर में 15 से 25 % तक ग्लूकोज की मात्रा पाई जाती हैं, जो खून में घुलने के साथ काफ़ी समय तक शरीर को भरपूर एनर्जी देती हैं.

अंगूर में पाए जाने वाले फ्लावोनोइड , जो एंटी-ऑक्सिडेंट्स के रूप में काम करते हैं, यह चेहरे की झुर्रियो को कम करते हैं और आपकी त्वचा को जवान बनाते हैं. अंगूर में पाए जाने वाला यह सबसे पोषक तत्व एक हेल्दी लाइफ को बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं. आइये जानते हैं अंगूर  के 24 बेमिसाल फायदों के बारे, इसे खाने से क्या लाभ होता हैं. 24 Benefits of Grapes in Hindi.

अंगूर खाने के फायदे :-

1. अस्थमा

अंगूर कई प्रकार के रोगो के उपचार के तौर पर भी इस्तेमाल होता हैं. अस्थमा (दमा) रोगियो के लिए भी बहुत फायदेमंद हैं. इसमे मौजूद पानी की मात्रा से फेफड़ो में भी पानी की कमी पूरी होती हैं, जो अस्थमा की संभावना को काफ़ी कम कर देती हैं.

2. हड्डियो के लिए

अंगूर कॉपर, आयरन और मैंगनीज़ का बहुत अच्छा सोर्स होता हैं, जो हड्डियो के निर्माण और उन्हे मजबूत बनाने में बहुत ही ज़रूरी होते हैं. इसके रोजाना सेवन से ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारी से बचा जा सकता हैं. मैंगनीज़ भी हमारे शरीर के लिए एक बहुत ज़रूरी तत्व हैं, जो नर्वस सिस्टम को सही रखता हैं.

3. दिल की बीमारी

अंगूर खून में नाइट्रिक ऑक्साइड के लेवल को कंट्रोल करता हैं , जिससे ब्लड क्लॉटिंग नही होती हैं. इससे हार्ट अटैक का ख़तरा काफ़ी कम हो जाता हैं. साथ ही इसमे मौजूद एंटी-ऑक्सिडेंट्स LDL कोलेस्टरॉल से बचाव करते हैं. फ्लावोनोइड की ज़्यादा मात्रा भी अच्छे एंटी-ऑक्सिडेंट्स का काम करती हैं. इससे ब्रेस्ट कैंसर नही फैलता हैं. अंगूर में Resveratrol और quercetin दो प्रकार के तत्व शरीर को फ्री रेडिकल्स से बचाकर धमनियों को भी सुरक्षित रखने का काम करता हैं. यह ब्लड में प्लेट्स की कमी नही होने देता.

4. माइग्रेन

पके हुए अंगूर के रस के सेवन से माइग्रेन जैसी समस्या में आराम मिलता हैं. सुबह-सुबह बिना पानी मिलाए 1 ग्लास अंगूर का जूस पीना बहुत ही फायदेमंद होता हैं. रेड वाइन को माइग्रेन की एक वजह मानी जाती हैं, लेकिन अंगूर का जूस और इसके बीज से इस समस्या को दूर किया जा सकता हैं. वैसे तो कम सोना, मौसम में बदलाव, पाचन समस्या में परेशानी आदि कई माइग्रेन बीमारी होने का कारण हो सकते हैं. लेकिन शराब के सेवन को इसकी खास वजह माना जाता हैं. अंगूर का रस पीकर इसके ख़तरे को कम किया जा सकता हैं.

5. क़ब्ज़

अंगूर क़ब्ज़ जैसी समस्या से भी राहत दिलाता हैं. क्योंकि इसमें मौज़ूद आर्गेनिक एसिड , शुगर और सेल्युलोस की मात्रा पाचन क्रिया को दुरुस्त रखती हैं. इसमे भोजन को आसानी से पचाने वाले रेशे पाए जाते हैं जो ना सिर्फ़ आँतो को साफ़ रखते हैं, बल्कि पेट की भी अच्छी तरह से सफाई करते हैं. अच्छे नतीज़े के लिए रोजाना कम से कम 350 ग्राम अंगूर का सेवन करना चाहिए. यह दस्त की बीमारी से भी छुटकारा दिलाता हैं.

6. थकान

रोजाना अंगूर का जूस पीने से शरीर में आयरन और मिनरल्स की मात्रा बराबर बनी रहती हैं, जो थकान जैसी समस्या को कोसो दूर रखती हैं. वैसे तो एनीमिया आम समस्या हैं , लेकिन महिलाओं में सबसे ज़्यादा पाई जाती हैं. ऐसे में अगर एनीमिया से छुटकारा पाना हैं, तो अंगूर का जूस भरपूर मात्रा में पिए. इससे आयरन की मात्रा आपके शरीर में एनर्जी का लेवल को बनाए रखेगी जो थकान और आलसीपन को दूर रखती हैं. ज़िंक, सेलेनियम, कारबोहाइड्रेट और polyphenols की मात्रा ब्रेन को एक्टिव रखती हैं. अंगूर के जूस में 2 चम्मच शहद मिला कर पीने से खून की कमी पूरी हो जाती हैं.

7. अल्जाइमर बीमारी में

Resveratrol अंगूर में पाए जाने वाला एक बहुत ही फायदेमंद पोलिफेनोल्स हैं जो अल्जाइमर के मरीज़ो में Amyloid beta denotes peptides के लेवल को कम करता हैं. कई रिसर्च में यह पाया गया हैं की अंगूर खाने से दिमाग़ हेल्दी रहता हैं. ब्रिटेन के साइंटिस्ट्स के अनुसार काले अंगूर में पाए जाने वाले फ्लवॉनाय्श्ड्स का सीधा संबंध नर्व सेल्स से होता हैं जो याददाश्त सुधारने में मदद करता हैं.

8. डायबिटीज

डायबिटीज के रोगियो के लिए अंगूर का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता हैं. यह शुगर की मात्रा को कम करता हैं. खून में मौज़ूद शुगर को कंट्रोल करने में अंगूर महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं.

9. दांतो के लिए

हाल में हुई एक रिसर्च के अनुसार अंगूर के बीज और रेड वाइन के सेवन से कैविटी और मसूड़ो की समस्या कई पर्सेंट तक कम हो जाती हैं. यह मूँह की बीमारियो से भी बचाता हैं.

10. रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता हैं.

विटामिन A, सी और K का ख़ज़ाना समेटे अंगूर शरीर को हेल्दी बनाए रखता हैं. यह खास तौर पर इम्यूनिटी को बढ़ाता हैं. इससे सर्दी, जुकाम जैसे इन्फेक्शन वाली बीमारिया शरीर को जल्दी नही लगती हैं.

11. मोतियाबिंद

फ्लवॉनाय्श्ड्स में मौज़ूद एंटी-ऑक्सिडेंट्स सिर्फ़ स्किन के लिए नही , बल्कि आँखों के लिए भी बहुत फायदेमंद होते हैं. यह मोतियाबिंद जैसी बीमारी से भी बचाते हैं.

12. किडनी के लाभकारी

अंगूर के रस में पानी और पोटासियम की भरपूर मात्रा होती हैं और albumin और सोडियम क्लॉराइड की मात्रा काफ़ी कम होती हैं जो किडनी से ज़हरीले तत्वो को बाहर निकल कर उसे हेल्दी बनाते हैं.

13. गठिया रोग

अंगूर खाने या इसका जूस पीकर गठिया रोग होने की संभावना को काफ़ी कम किया जा सकता हैं, क्योंकि यह शरीर से ज़हरीले तत्वो को बाहर निकालता हैं, जो गठिया रोग होने का कारण होते हैं.

14. स्किन के लिए

अंगूर में विटामिने A पाया जाता हैं, जो स्किन के लिए बहुत ही फायदेमंद हैं. रोजाना अंगूर के सेवन से चेहरे पर निखार आ जाता हैं. साथ ही झुर्रिया भी ख़त्म हो जाती हैं. आँखों के नीचे काले घेरो पर अंगूर लगाकर उसे कुछ ही दिनों में ही दूर किया जा सकता हैं.

15. मूँह के छाले

अंगूर मूँह के छालों से भी राहत दिलवाता हैं. इसके रस से कुल्ला करने से मूँह में होने वाले छाले दूर होते हैं.

स्किन के लिए फायदेमंद

त्वचा को हेल्दी रखने के लिए अंगूर बहुत ही गुणकारी होता हैं. इसमें मौज़ूद एंटी-ऑक्सिडेंट्स और एंटी-इनफ्लमेटरी तत्व त्वचा के लिए ज़रूरी तत्वो की पूर्ति करते हैं.साथ ही किसी भी तरह के फलो की तरह इसमें मौज़ूद विटामिन सी स्किन को हेल्दी रखता हैं.

16. सूरज की रोशिनी से बचाता हैं.

अंगूर के बीजो और गूदे में proanthocyanidins और resveratrol बहुत की प्रभावकारी एंटी-ऑक्सिडेंट्स होते हैं. यह सूरज की हानिकारक अल्ट्रा वायलेट किरणों से त्वचा की रक्षा करते हैं. साथ ही स्किन पर पड़ने वाले लाल निशान, और साथ ही त्वचा को नुकसान पहुचने वाले सेल्स को ख़त्म करते हैं. ज़्यादातर सनस्क्रीन लोशन्स में अंगूर का प्रयोग किया जाता हैं.

17. असमय बुढ़ापे को रोकता हैं.

फ्री रेडिकल्स की समस्या चेहरे पर झुर्रिया बनाती हैं, जो असमय बुढ़ापे का कारण होती हैं. लेकिन अंगूर में मौज़ूद विटामिन सी, इन समस्याओं से लड़ता हैं और इससे होने वाले त्वचा के नुकसान को रोकता हैं. रोजाना केवल 20 मिनिट्स तक अंगूर के गूदे से चेहरे पर मसाज करके इस समस्या को रोका जा सकता हैं.

18. त्वचा को कोमल बनाता हैं.

अंगूर के बीजो में विटामिन ई त्वचा में नमी की मात्रा बनाए रखता हैं. त्वचा की डेड सेल्स को हटाने के लिए अगूर का गुदा एक अचूक उपाय हैं. जिससे कोमल त्वचा पाई जा सकती हैं. अंगूर के बीजो का तेल भी स्किन को कोमल बनाए रखने में काफ़ी मददगार होता हैं.

19. त्वचा को जवान रखता हैं.

अंगूर में मौज़ूद आर्गेनिक एसिड की मात्रा से त्वचा को जवान बनाया जा सकता हैं. विटामिन सी कोलेजन के निर्माण में सहायक होता हैं, जो ज़रूरी सेल्स के निर्माण के साथ रक्त के प्रवाह को भी बनाए रखता हैं. यह कई प्रकार की बीमारियो से लड़ता हैं. यहा तक की मौसम की मार से भी बचाता हैं.

20. दाग-धब्बो से छुटकारा

हरे अंगूर की सहायता से चेहरे के दाग-धब्बो के साथ पिंपल्स की समस्या को भी ख़त्म किया जा सकता हैं. विटामिन सी त्वचा के निशानो को ख़त्म करने में काफ़ी कारगर होती हैं. अंगूर को नमक के साथ बाँध कर उसे आधे घंटे के लिए पकाया जाए. फिर इसे चेहरे पर 15 मिनट तक लगाकर हल्के गुनगुने पानी से धो ले.

बालो के लिए फायदेमंद

घने, चमकदार और लंबे बालो का ध्यान रखना भी एक बहुत बड़ा टास्क होता हैं. खाने-पीने की अनदेखी और ज़रूरी पोषक तत्वो की कमी से आजकल रूसी, दो मूँहे बाल, सफेद बाल और बालो के झड़ने की समस्या बहुत आम बात हैं. लेकिन अंगूर खा कर या इसका जूस पीकर , इस समया में तुरंत निजात पाई जा सकती हैं.

21. लंबे बालो के लिए

अंगूर में मौज़ूद एंटी-ऑक्सिडेंट्स रक्त प्रवाह को सही रखते हैं. इससे बाल हेल्दी रहते हैं. इसमें कोई दो राय नही हैं की अंगूर का तेल बालो के विकास में मदद करता हैं. अंगूर के बीजो का तेल बालो में होने वाले पसीने, उसकी दुर्गंध को दूर करने के साथ ही उसे चमकदार , घना, मुलायम और लंबा बनाने में मदद करता हैं.

22. रूसी की समस्या को ख़त्म करता हैं.

अंगूर के बीजो के तेल से रूसी, सीर में खुजली की समस्या दूर होती हैं. इसमे मौजूद पानी की मात्रा ज़रूरी नमी की पूर्ति करती हैं, जिससे ब्लड सर्क्युलेशन सही रहता हैं.

23. बाल गिरने की समस्या से निजात

अंगूर असमय बालो के गिरने और झड़ने की समस्या को रोकता हैं. इसके बीजो में मौजूद विटामिन ई और लिनॉलिक एसिड बालो की जड़ो को मजबूत बनता हैं. साथ ही दो मूँहे बाल जो बालो के झड़ने की खास वजह हैं, उन्हे भी ख़त्म करता हैं.

24. अरोमाथेरेपी

हर तरह की त्वचा के लिए फायदेमंद अंगूर के बीज को अरोमाथरेपी के लिए भी इस्तेमाल किया जाता हैं.







अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *