अच्छी सेहत के लिए हेल्दी कुकिंग स्टाइल टिप्स जानिये।

अच्छी सेहत के लिए हेल्दी कुकिंग स्टाइल टिप्स जनिए।

अगर आप स्वस्थ्य और उर्जावान जीवन जीना चाहते हैं तो आपको अपनी कुकिंग स्टाइल में थोड़े से हेर-फेर करनी की जरूरत हैं। क्योंकि बिना किसी बदलाव के आप अच्छी सेहतमंद लाइफ नहीं जी सकते हैं। अपने भोजन को पारम्परिक तरीको से बनाने की बजाये ऐसे तरीके आजमाइए जिससे भोजन का स्वाद भी बना रहे, इसमें कम तेल और घी का इस्तेमाल हो। किसी भी सब्जी की ग्रेवी तैयार करने के लिए प्याज, मूंगफली के दाने या फिर नारियल के तेल की बजाये भुने हुए बेसन का इस्तेमाल करना ज्यादा फायदेमंद होगा। क्योंकि नारियल आदि में सैचुरेटेड फैट ज्यादा होता हैं।

सूखी सब्जी खाने का मन करे तो तड़का लगाने के बाद आधा कप पानी डाल कर सब्जी को कुकर में डाल कर सिटी लगा ले। सब्जियां ज्यादातर ग्रेवी वाली ही बनानी चाहिए, क्योंकि इससे उनमे पाए जाने वाले पोषक तत्व नष्ट नहीं होती हैं। आज हम आपको ऐसे ही कई टिप्स बताने जा रहे हैं, जिनका इस्तेमाल करके आप हमेशा हेल्दी रह सकते हैं। आइये जानते हैं आप कैसे हेल्दी तरीके से कुकिंग की जा सकती हैं? हेल्दी कुकिंग स्टाइल टिप्स के बारे में जनिए।

हेल्दी कुकिंग स्टाइल टिप्स :-

फ्रेश चीजों को उपयोग करे

यह अच्छी बात नहीं हैं की आप पूरे हफ्ते भर की सब्जियां और फल एक ही दिन खरीद कर फ्रिज में स्टोर करले। जबकि जिस फल और सब्जी की आपको जरूरत हैं, उसे ताज़ा खरीद कर ही खाए। क्योंकि बासी सब्जियों के मुकाबले ताज़ी सब्जियों में ज्यादा पौष्टिक तत्व होते हैं।

तेल सही मात्रा में खाए

आप तेल को जितनी ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल हैं, वह आपके शरीर में जमा होने लगता हैं। अगर आप अपने खाने में तेल की मात्रा कम कर देंगे तो इससे आपको कम कैलोरी मिलेगी। जिससे आपका मोटापा, कोलेस्ट्रॉल, हार्ट अटैक, स्ट्रोक और ब्लड प्रेशर की समस्या से छुटकारा मिलता हैं।

भिगोया हुआ खाए

दाल आदि को बनाने से पहले उसे एक रात के लिए पानी में भिगोए। जिससे यह कम समय में पकाया जा सकता हैं। और इससे दालों में पाए जाने वाले पोषक तत्व भी कम नहीं होते हैं।

छिलका भी खाना चाहिए

फल और सब्जियों के छिलकों में पौष्टिक तत्व और फाइबर सबसे ज्यादा पाए जाते हैं। इसलिए जिन फल और सब्जियों के छिलकों को खाया जा सकता हैं, उन्हें छिलकों सहित खाना चाहिए।

प्रेशर कुकर में खाना ढक कर पकाए

आप जिस तरीके से खाना पकाते हैं, यह उसी प्रकार से खाने में पोषक तत्व को समाये रखने में मदद करता हैं। अगर आप पैन या कुकर में खाना बना रही हैं तो उसे ढक्कन लगा कर पकाए, इससे भोजन के पौष्टिक तत्व नष्ट नहीं होते हैं।

बचे हुए का इस्तेमाल

सूप बनाने के बाद बची हुयी सब्जिया, करी या स्टॉक को संभाल कर दुबारा इस्तेमाल करना किसी कला से कम नहीं हैं। ऐसा करने से न सिर्फ खाने की बर्बादी रूकती हैं, बल्कि इससे पोषक तत्व पूरी तरह से प्राप्त होते हैं।

कम वसा वाला और पौष्टिक खाना बनाये

भोजन को खाने से आपकी सेहत बनती हैं। इसलिए अपने खाने में फ्री फैट और न्यूट्रीशन से भरपूर आहार को शामिल करे। वज़न को कण्ट्रोल करने के लिए रोजाना हेल्दी डाइट खानी चाहिए। आप जो भी खाना पकाए, उसमे फाइबर, विटामिन्स और मिनरल्स होने ही चाहिए।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

शक्कर (चीनी या शुगर) से होने वाले नुकसान के बारे में जानिए।
दिन में कितनी बार ब्रश करना चाहिए?
रंग गोरा करने वाले आहार (फूड) और घरेलु नुस्खे के बारे में जानिए...
रात में दही क्यों नहीं खाना चाहिए?
साइकिल चलाने के फायदे.
बाजरा खाने के फायदे जरूर जानिए।
टमाटर खाने से सेहत को होने वाले लाभ के बारे में जानिए।
इन गलतियों की वजह से आँखों के खराब होने का ख़तरा ज्यादा रहता हैं।
गर्भावस्था के दिनों में इन सब्जियों को जरूर खाना चाहिए।
रात के समय इन बातों का रखे ध्यान वरना हो सकते हैं मोटापे के शिकार।
जानिए शादी के बाद लड़कियां मोटी क्यों हो जाती हैं? वजन घटाने के उपयोगी तरीके...
जानिए बिना मोज़े का जूता पहनने और बहुत ज्यादा टाइट मोजा पहनने के नुकसान।