आलू खाने के नुकसान जानिए।

आलू के नुकसान बताये? ज्यादा आलू क्यों नहीं खाना चाहिए?

अगर रसोई में आलू न हो तो आपकी रसोई ही अधूरी हैं। आलू एक ऐसी सब्जी हैं, जिसके बिना अब जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती हैं। आज न सिर्फ आलू की सब्जी बना कर खायी जाती हैं, बल्कि कई सारे स्ट्रीट फूड बिना आलू के अधूरे ही हैं। जैसे की आलू की टिक्की, आलू चाट, समोसा या फिर कोई दुसरे उत्पाद। आलू खाने के फायदे तो हैं की लेकिन इसके कुछ नुकसान भी हैं। जी हाँ आज हम आपको आलू खाने के नुकसान बताने जा रहे हैं। Side-effects of Potato in Hindi.

ज्यादा आलू खाने से शरीर को होने वाले नुकसान :-

■ डायबिटीज होने का ख़तरा

आलू में विशेषकर छिले हुए आलू को खाने से ब्लड शुगर लेवल पर गहर असर पड़ता है। आलू में हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता हैं। हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता हैं। फ्रेंच फ्राइज़ और आलू के चिप्स भी हाई ग्लिसेमिक से भरे हुए होते है। अगर आप ज्यादा आलू खाते हैं तो इससे ब्लड शुगर अनकण्ट्रोल हो जाता हैं, जिससे डायबिटीज और टाइप-2 डायबिटीज की समस्या हो सकती है। दूसरी ओर लो ग्लिसेमिक इंडेक्स वाली चीजों को खाने से ब्लड ग्लूकोज़ लेवल कण्ट्रोल में रहता हैं। जबकि आलू को खाने से डायबिटीज और मोटापा होने के ख़तरा बढ़ जाता हैं।

■ मोटापा बढ़ाये

अगर आप मोटापे से पीड़ित हैं तो आपको आलू नहीं खाना चाहिए। अगर आप मक्खन, पनीर, और खट्टे क्रीम जैसे पोपुलर हाई फैट वाले खाद्य पदार्थो के साथ आलू मिला कर खाते हैं तो निश्चित ही आप मोटापे को आमंत्रित कर रहे है। ऐसे फूड को लेने से बॉडी में फैट और कैलोरी बढ़ती हैं, परिणामस्वरूप आप मोटापे के शिकार बन जाते हैं। इसके अलावा फ्राइड आलू, फ्रेंच फ्राइज, पैटीज, पोटैटो चिप्स आदि में भी कैलोरी और फैट ज्यादा होते हैं, जो वजन को बढ़ाने का काम करते है। आलू खाने से मोटापा बढ़ता हैं।

■ इन समस्याओं में आलू का सेवन न करे

अफारा, वात और कब्ज़ की समस्या हैं तो इस वक्त आलू न खाए। अगर आपको डायरिया, बवासीर और प्रवाहिका की प्रॉब्लम हैं तब भी आलू का सेवन करने से बचे। पाइल्स यानि बवासीर के रोगियों को आलू खाने से परहेज़ करना चाहिए। अगर बवासीर के मरीज़ आलू खाते हैं तो उन्हें मलत्याग के समय ज्यादा मात्रा में खून आने लगता हैं।

जरूर पढ़े :- बवासीर (पाइल्स) के इलाज एवं उपचार के उपयोगी घरेलु नुस्खे और उपाय।

■ दर्द और सूजन बढ़ाये

आलू में नेचुरल इन्फ्लेमेंट्री सब्सटेंसेज ग्लाइकोएल्केनोइड की मात्रा ज्यादा पाई जाती हैं। जो सूजन को बढ़ाने का काम करते हैं। अतः आलू का सेवन ज्यादा करने से जोड़ो में दर्द और सूजन की समस्या बढ़ सकती हैं। आलू में मौजूद कार्बोहाइड्रेट गठिया के रोगियों के लिए हानिकारक होता हैं। यह वजन को बढ़ा कर गठिया के दर्द को और भी ज्यादा बढ़ा देता है। गठिया के मरीजों को आलू नहीं खाना चाहिए।

■ ब्लड प्रेशर बढ़ाये

अगर आप ज्यादा मात्रा में आलू का सेवन करते हैं तो इससे आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती हैं।

■ ब्लोटिंग की समस्या बढ़ाता हैं

आलू सब्जियों का राजा हैं, परन्तु इसे ज्यादा खाने से पेट में गैस बनने लगती हैं। आलू खाने के नुकसान की बात करे तो इससे पेट में गैस, पेट दर्द और ब्लोटिंग की समस्या पैदा होने लगती है। यह प्रॉब्लम तब और भी ज्यादा बढ़ जब आप हाई फैट वाले आलू को खाते हैं।

■ इस तरह के आलू को भूलकर भी न खाए

एक रिसर्च के अनुसार ख़राब और सड़े हुए आलू को गलती से भी नहीं खाना चाहिए। खास करके प्रेग्नेंट महिलाओं को इसमें सावधानी बरतनी चाहिए। ऐसा करने से होने वाले बच्चे को हानि होती हैं। कभी भी हरा आलू और अंकुरित आलू को नहीं खाना चाहिए। हरे आलू में , चैकोनिन, आर्सेनिक और सोलेनाइन जैसे हानिकारक तत्व पाए जाते हैं, जो की विषैले माने गये हैं। इस प्रकार के आलू को खाने से सिरदर्द, उल्टी, डायरिया, जी मिचलाना जैसी प्रॉब्लम हो सकती है।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...