इस तरह नहीं सोना चाहिए, इससे उम्र कम हो जाती हैं.

Is tarike se kabhi nahi sona chahiye, Kyonki isse jeevan kam ho jata hain.

रोजाना अच्छी नींद लेना बहुत ही ज्यादा जरूरी हैं। सही तरह से सोने से एक तो शरीर की थकान मिट जाती हैं, साथ ही आप दुबारा से फ्रेश हो जाते हैं। लेकिन सोने को लेकर कुछ सावधानियों को जरूर जानना चाहिए। मतलब की सोते समय कुछ बातों का ख्याल जरूर रखना चाहिए। वर्ना गलत मुद्रा या गलत दिशा में सोने से आपकी उम्र भी कम होने लगती हैं। आपने देखा होगा गणेश जी का सिर हाथी का हैं।

जरूर पढ़े : बायीं ओर करवट लेकर सोने के फायदे।

इसकी वजह भी सोने के तरीके से सम्बंधित हैं। इस सन्दर्भ में एक कथा हैं की भगवान शंकर ने गणेश जी से युद्ध करते हुए उनका शीश काट दिया था। जिससे माँ पार्वती बहुत ही ज्यादा क्रोधित हो गयी थी और श्रृष्टि का अंत करने के लिए उन्होंने विकराल रूप धारण कर लिया था।

ऐसे में भगवान विष्णु जी ने माता पार्वती का क्रोध शांत करने के लिए और गणेश जी को पुनर्जीवित करने की सोची। इसके लिए एक सिर की आवश्यकता थी। भगवान विष्णु ऐसे व्यक्ति की खोज में निकल पड़े, जिसकी आयु समाप्त होने वाली थी यानि जिसकी आयु कम थी।

लेकिन भगवान को कोई भी मनुष्य ऐसा नहीं मिला। फिर उन्होंने देखा की एक हाथी जो पैर पर पैर रख कर सोया हुआ हैं। भगवान ने ध्यान लगा कर देखा तो वे समझ गये की इस हाथी की उम्र पूरी हो चुकी हैं। भगवान विष्णु ने अपने सुदर्शन चक्र से हाथी का सिर काट लिया और इसे भगवान गणेश के धड़ से जोड़ दिया।

भगवान श्री गणेश और भगवान विष्णु की इस कथा से पता चलता हैं की कभी भी मनुष्य को पाँव के उपर पाँव रख कर नहीं सोना चाहिए। इसके अलावा पाँव पर पाँव रख कर बैठना भी अपशगुन होता हैं। शास्त्रों में वर्णन मिलता हैं की इस तरह से सोने से या फिर बैठने से दोनों ही तरीको से व्यक्ति की उम्र कम होने लगती हैं।

व्यवहारिक दृष्टि भी पैर पर पैर रखकर सोने और बैठने को इस बात की ओर इशारा करते हैं, की ऐसे इंसान की उम्र कम हो रही है। क्योंकि यह इस बात की पुष्टि करता हैं की ऐसे मनुष्य में उत्साह और एनर्जी की कमी हैं। ऐसा इंसान आराम पसंद ज्यादा होता हैं और स्वास्थय के प्रति ज्यादा लापरवाह होता हैं। मुमकिन हैं ऐसे इंसान की उम्र कम ही होगी।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

चाणक्य नीति: किन बातों से संतुष्ट होना चाहिए, किन से नहीं
हनुमान चालीसा का जाप करने से दुःख होते हैं दूर.
क्यों मनाते हैं लोहड़ी और इसकी कथा क्या हैं?
दीवाली की तरह दुनिया में मनाए जाने वाले प्रकाश पर्व.
मृत्यु आने या फिर तन, मन, धन की हानि होने के संकेत होते हैं यह सपने.
कंस नहीं था महाराज उग्रसेन की संतान. जानिए फिर कौन था कंस का असली पिता?
महाभारत के रोचक रहस्य और तथ्य जरूर जानिए.
बुधवार के दिन करेंगे यह उपाय तो भगवान गणेश आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी करेंगे।
क्या आप जानते हैं की शाम के समय कौन से काम नहीं करने चाहिए?
घर के अन्दर जूतें-चप्पल क्यों नहीं ले जाने चाहिए? जानिए इसके पीछे जुड़े हुए वैज्ञानिक और धार्मिक कारण...
होली के त्यौहार को बेहतर तरीके से कैसे मनाये?
असली रुद्राक्ष को पहचाने के तरीके।