काजू खाने के फायदे और नुकसान के बारे में जानिए।

काजू खाने के फायदे और नुकसान के बारे में जानिए। Benefits & Side-Effects of Cashew in Hindi. Kaju khane ke fayde aur nuksan.

काजू को ड्राई फ्रूट का बादशाह माना जाता हैं। भले ही काजू थोड़ा महंगा मिलता हैं, लेकिन इसको खाने के बहुत ही ज्यादा फायदे होते हैं। काजू का इस्तेमाल मिठाइयों में किया जाता हैं, इसके अलावा कई सारे पकवानों में ग्रेवी बनाने के लिए भी किया जाता हैं। इससे रेसिपी में नया स्वाद आता हैं और कई तरह के सब्जी की ग्रेवी और भी ज्यादा टेस्टी बन जाती हैं। काजू से एक स्पेशल बर्फी भी बनाई जाती हैं जिसे काजू कतली के नाम से जाना जाता हैं।

काजू को खाने से शरीर की बीमारियाँ दूर होती हैं और यह सौन्दर्य को भी बढ़ाता हैं। आज के लेख में हम काजू खाने के फायदे और नुकसान , Benefits & Side-Effect of Cashew in Hindi के बारे में आपको बताने जा रहे हैं।

काजू में विटामिन ई प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं जिससे यह एंटी-एजिंग का काम करता हैं। काजू खाने से शरीर का मेटाबोलिज्म सही रहता हैं और दिल की बीमारी भी दूर होती हैं। काजू में मैग्नीशियम, पोटैशियम, कॉपर, जिंक, आयरन, मैंगनीज, सेलेनियम जैसे मिनरल्स पाए जाते हैं जो इसे गुणों की खज़ाना बनाते हैं।

काजू खाने के फायदे :-

कोलेस्ट्रॉल लेवल कण्ट्रोल में रखे

काजू को खाने से कोलेस्ट्रॉल लेवल कण्ट्रोल में रहता हैं, क्योंकि इसमें प्रोटीन ज्यादा होता हैं और यह आसानी से पच भी जाता हैं। इसमें आयरन भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं, इसे खाने से खून की कमी को भी दूर किया जा सकता हैं।

दांतों को मजबूत बनाये

काजू के सेवन से दांत और मसूड़े स्वस्थ्य रहते हैं। काजू को खाने से दांतों को मजबूत बनाया जा सकता हैं।

किडनी और लीवर के लिए फायदेमंद

रोजाना 2-3 काजू के सेवन से आपकी किडनी और लीवर को लाभ मिलता हैं। इससे आपका digestive system भी दुरुस्त रहता हैं।

प्रोटीन का बढ़िया सोर्स

काजू में प्रोटीन काफी अच्छी मात्रा में पाया जाता हैं। इसलिए इसके सेवन से बाल और स्किन हेल्दी बनते हैं।

ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल में रखे

इस सूखे मेवे में सोडियम कम मात्रा में होता हैं और पोटैशियम ज्यादा मात्रा में पाया जाता हैं, जिससे ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल में रहता हैं।

याददाश्त बढ़ाये

काजू में विटामिन बी बहुत ही अच्छी मात्रा में पाया जाता हैं। खाली पेट काजू खा कर शहद पीने से ब्रेन मेमोरी बढ़ती हैं। काजू के सेवन से याददास्त में सुधार होता हैं। इसे खाने से यूरिक एसिड बनना कम हो जाता हैं और इससे बी.पी. भी कण्ट्रोल में रहता हैं।

यह भी पढ़े :- दिमाग को तेज़ करने वाले फ़ूड।

कैंसर से बचाए

काजू में विटामिन ई और सेलेनियम जैसे एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो कैंसर से हमें बचाते हैं। इसके अलावा काजू में जिंक होता हैं जो इन्फेक्शन से लड़ने में कारगर हैं।

एनीमिया (खून की कमी) दूर करे

काजू में कॉपर पाया जाता हैं जो शरीर में एंजाइम एक्टिविटी, हॉर्मोन प्रोडक्शन, ब्रेन सेल्स आदि को बैलेंस करने में मदद करता हैं। कॉपर ब्लड के रेड सेल्स को बढ़ाता हैं और एनीमिया की बीमारी को दूर करता हैं।

पाचन शक्ति बढ़ाये

काजू में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट पाचन क्रिया को मजबूत बनाते हैं, साथ ही वजन को भी कण्ट्रोल में रखते हैं।

वज़न कण्ट्रोल में रखे

वजन को कण्ट्रोल रखने में यह आपकी मदद कर सकता हैं, लेकिन आपको काजू एक सिमित मात्रा में खाना होगा। काजू में Dietary Fiber और एनर्जी ज्यादा होती हैं, इसलिए इसको खाने से वज़न कंट्रोल में रहता हैं। काजू में कॉपर ज्यादा पाया जाता हैं जो आपकी हड्डियों के जोड़ो को लचीला बनाने में सहायता करता हैं।

दिल को बनाये हेल्दी

काजू में मोनोसैचुरेटेड फैट पाया जाता हैं जो दिल को हेल्दी रखता हैं और दिल को बीमारियाँ होने से बचाता हैं। इसमें कोलेस्ट्रॉल बहुत कम मात्रा में पाया जाता हैं।

हड्डियों को मजबूत बनाये

काजू में प्रोटीन होता हैं जो हड्डियों को मजबूत बनाता हैं। काजू में मैग्नीशियम पाया जाता हैं जो हड्डियों को अन्दर से मजबूत बनाता हैं। हमारे शरीर को रोजाना 300-750 mg मैग्नीशियम की जरूरत पड़ती हैं।

डायबिटीज में फायदेमंद

एक रिसर्च से यह पाया गया की काजू इंसुलिन की मात्रा को बढ़ाता हैं, जिससे डायबिटीज के मरीज़ को लाभ मिलता हैं।

शरीर की एनर्जी बढ़ाये

काजू को एनर्जी देने वाला मेवा कहा जाता हैं। इसको खाने से आपको थकान से राहत मिलती हैं। अगर आपका मूड ख़राब हो गया हैं तो 2-3 काजू को खाने से बिगड़ा मूड सुधर जाता हैं। लेकिन फिर भी आपको बहुत ज्यादा काजू नहीं खाना चाहिए।

बालों और स्किन के लिए फायदेमंद

काजू के नियमित सेवन से बाल लम्बे, घने, मजबूत और चमकदार बनते हैं। इससे बालो के झड़ने की समस्या भी दूर हो जाती हैं। काजू को खाने से स्किन ग्लो करने लगती हैं। इसमें विटामिन ई पाया जाता हैं जो स्किन पर बढ़ती उम्र को कम कर देता हैं और आप लम्बे समय तक जवां दिखाई देते हैं।

त्वचा की रंगत निखारे

काजू का इस्तेमाल घरेलु नुस्खो में त्वचा की रंगत को निखारने के लिए भी किया जाता हैं। काजू को दूध या गुलाबजल में पीस कर लगाने से त्वचा में निखार आता हैं। इससे त्वचा का रंग गोरा हो जाता हैं और यह मुलायम भी बन जाती हैं।

सफ़ेद दाग मिटाए

काजू के तेल को सफ़ेद दाग पर लगाने से इन्हें कम करने में मदद मिलती हैं। स्किन पर सफ़ेद दाग को ख़त्म करने के लिए आप काजू के तेल का इस्तेमाल जरूर कीजिये।

काजू खाने के नुकसान

प्रकृति का नियम हैं की किसी भी चीज़ के जहा कुछ फायदे होते हैं, वहीँ उसी चीज़ के कुछ नुकसान भी होते हैं। किसी भी आहार को एक सिमित मात्रा में ही खाना चाहिए। इसलिए काजू का सेवन भी ज्यादा नहीं करना चाहिए। क्योंकि काजू को ज्यादा मात्रा में खाने से आपको निम्नलिखित हानियाँ हो सकती हैं। अगर रोजाना काजू खाने की मात्रा निर्धारित की जाये तो आप दिन भर में 2 से 3 काजू खा सकते हैं।

ब्लड प्रेशर बढ़ाये

वैसे तो 2-3 काजू रोजाना खाने से बी.पी. कण्ट्रोल में रहता हैं। लेकिन ज्यादातर लोग नमकीन वाला काजू खाते हैं। क्योंकि नमकीन वाला काजू बाज़ार में आसानी से उपलब्ध होता हैं। हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को इसे खाने से बचना चाहिए, क्योंकि इसमें सोडियम ज्यादा मात्रा में होता हैं।

वजन बढ़ाए

काजू में कैलोरी ज्यादा होती हैं, इसलिए इसको ज्यादा खाने से शरीर का वजन बढ़ने लगता हैं। 30 ग्राम काजू में 163 कैलोरी और 13.1 फैट होता हैं। हालाँकि इसमें पाया जाने वाला फैट हेल्दी होता हैं, लेकिन फिर भी इसे ज्यादा नहीं खाना चाहिए, वर्ना आप मोटे हो जायेंगे।

माइग्रेन की समस्या

अगर आप माइग्रेन यानि की सिरदर्द से परेशान हैं तो आपको काजू बिलकुल भी नहीं खाना चाहिए। क्योंकि इसमें एमिनो एसिड होता हैं जो सिरदर्द पैदा करता हैं।

Gallbladder में पथरी होना

काजू का ज्यादा सेवन इसलिए भी नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें मौजूद ऑक्सलेटेस तत्व गालब्लेडर या किडनी में पथरी को पैदा करते हैं और यह कई तरह की बीमारियों की वजह बनता हैं। इसलिए गालब्लैडर के मरीजों को काजू का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।

एलर्जी की वजह

अमेरिका में काजू के सेवन से एलर्जी होने की शिकायत देखने को मिली हैं। एक रिपोर्ट में यह बताया गया की एक ही परिवार के एक तिहाई बच्चो को एक साथ काजू खाने से एलर्जी हो गयी थी। काजू के सेवन से एलर्जी कभी कभी जानलेवा भी साबित होती हैं। इससे आपको सांस लेने में तखलीफ़, पित्ती, खुजली, उल्टी, दस्त, चकत्ते जैसे एलर्जी के लक्षण दिखाई देने लगते हैं, ऐसी स्तिथि में तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए।

प्रेगनेंसी में एलर्जी की परेशानी

काजू में विटामिन और मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। और यह गर्भवती महिलाओं के लिए अच्छा आहार भी होता हैं। लेकिन अगर आपको एलर्जी की समस्या हैं तो प्रेगनेंसी पीरियड में खुद को अपने बच्चे को एलर्जी से बचाने के लिए इसे न खाना ही अच्छा विकल्प होगा। इसके अलावा प्रेग्नेंट महिला को नमकीन काजू खाने से परहेज़ करना चाहिए, क्योंकि इसमें सोडियम काफी हाई मात्रा में होता हैं, जिससे हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती हैं।

डायबिटीज में हानिकारक

वैसे तो 2-3 दिन काजू खाने से डायबिटीज में फायदा मिलता हैं। लेकिन ज्यादा काजू खाने से ब्लड शुगर लेवल बढ़ता हैं यह बात कई रिसर्च से साबित हो चुकी हैं। डायबिटीज के मरीज़ को अपनी ब्लड शुगर लेवल की जांच करवाते रहना चाहिए। इसके अनुसार ही काजू को खाना चाहिए।

ऑपरेशन से पहले काजू न खाए

क्योंकि पहले भी बताया गया हैं की काजू को खाने से ब्लड शुगर लेवल प्रभावित होता हैं, इसलिए कुछ मामलो में काजू सर्जरी के दौरान या बाद में ब्लड शुगर कण्ट्रोल करने में दखल करता हैं। ऐसे में ऑपरेशन से 2 हफ्ते पहले काजू का ज्यादा सेवन बंद कर देना ही अच्छा रहेगा।

दोस्तों आपने आज जाना काजू खाने के फायदे और नुकसान के बारे में। काजू को जरूर खाना चाहिए, 2 से 3 दिन काजू दिन भर में खाने से आपकी सेहत को लाभ मिलते हैं, लेकिन ज्यादा काजू खाने से आपकी सेहत को हानि का भी सामना करना पड़ता हैं।







अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *