केले के उपयोगी घरेलू नुस्खे, उपाय और फायदे।

केला खाने के लाभ

केला भारतीय जीवन का अभिन्न हिस्सा हैं। क्योंकि केले का पेड़ भी तुलसी, पीपल और आंवले के पेड़ की तरह पवित्र माना गया हैं। किसी भी मांगलिक कार्य में केले के पेड़ की पूजा की जाती हैं। केला आपको बाज़ार में विभिन्न प्रकार के साइज़ में मिल जायेगा। केले की कई सारी प्रजातियाँ पायी जाती हैं। सभी लोगो को केला खाना अच्छा लगता हैं। आज के लेख में केले के फायदे जानेंगे, हम केला खाने के फायदे की बात नहीं कर रहे हैं, बल्कि केले के ऐसे घरेलु नुस्खे और उपाय भी हैं, जिनके बारे में ज्यादातर लोगो को पता ही नहीं हैं। आइये जानते हैं केले से होने वाले बेहतरीन लाभ। Home remedies & Benefits of Banana in Hindi.

केले के घरेलु नुस्खे, उपाय और फायदे :-

1. अगर जी मचलाने की समस्या हैं तो एक पके केले को कटोरी में मैश करके इसमें एक चम्मच मिश्री या चीनी मिला ले, फिर इसमें एक छोटी इलायची पीस के मिलाये और इस मिश्रण को खाए। इससे जी मचलना या मतली आने की समस्या दूर हो जाती हैं।

2. बच्चे को अगर दस्त लग गये है तो पका हुआ केला अच्छी तरह से फेंट ले और इसे मक्खन की तरह बना ले, फिर इसमें ज़रा सी मिश्री मिला कर बच्चे को दिन में 2 से 3 बार खिलाये। इससे बच्चे के शरीर में पानी की कमी नहीं होगी और उसकी कमजोरी भी दूर हो जायेगा। लेकिन इस बात का ध्यान रखे की जब भी बच्चे को इस प्रकार से केला खिलाना हो तो उसी वक़्त ही इसे बनाये। ढक कर रखा गया या काट कर रखा गया केला खिलाने से बचना चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से नुकसान हो सकता हैं।

3. प्यास ज्यादा लगती हैं तो पका हुआ केला मिसकर पानी में घोले और चीनी मिला कर शरबत बनाये। इसे दिन भर में 3 बार आधा गिलास लेते रहे। इससे प्यास ज्यादा लगने की समस्या से निजात मिलती हैं।

4. पेशान में जलन की समस्या हो या फिर पेशाब रूक-रूक कर आता हो तो केले के पेड़ का ताज़ा रस निकाल कर पीना चाहिए।

5. शारीरिक कमजोरी, धातु दुर्बलता आदि को दूर करने के लिए केला जरूर खाए। केला खाने से शारीरिक दुर्बलता दूर होती हैं।

6. कम वजन वाले दुबले पतले लोग वजन बढ़ाने के लिए केला खा सकते हैं। पके केले को दूध के साथ भी खाया जा सकता हैं, इससे भी वजन बढ़ता हैं।

7. अगर नकसीर आने की समस्या बार-बार होती हैं तो पके हुए केले को छोटे-छोटे टुकड़े काट कर दूध में मिला कर मिश्री डालकर खाना चाहिए।

8. नकसीर की समस्या होने पर केले की जड़ का रस निकाल कर 2-2 बूंदे नाक में डालने से नाक से खून रूक जाता हैं।

9. पेचिश की समस्या को दूर करने के लिए कच्चे केले की सब्जी को चावल के साथ मिला कर खाने से फायदा होता हैं।

10. ल्यूकोरिया यानी प्रदर रोग में पका हुआ केला खाने से लाभ मिलता हैं।

11. अगर किसी छोटे बच्चे को मिट्टी खाने की आदत हैं तो ऐसे बच्चों को पके केले का गुदा अच्छी तरह से फेंट कर थोड़ा सा शहद मिला कर आधा-आधा चम्मच खिलाना चाहिए। इससे बच्चे को मिट्टी खाने से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद मिलती हैं।

केला खाने से लेकर जरूरी सावधानियां और नुकसान :-

केला हमेशा पका हुआ ही खाना चाहिए।

जिन लोगो को कफ ज्यादा रहता हैं, उन्हें केला खाने से परहेज़ करना चाहिए।

केला कभी भी ज्यादा मात्रा में नहीं खाना चाहिए, क्योंकि कुदरत के नियम के अनुसार इसे ज्यादा खाने से सेहत को हानि ही होती हैं। ज्यादा मात्रा में केला खाने से पेट में भारीपन हो सकता हैं, शरीर में शिथिलता आ सकती हैं और आलस्य भी बढ़ने लगती हैं।

अगर किसी व्यक्ति ने कभी ज्यादा केला खा लिया हो उसे एक छोटी इलायची को चबाना चाहिए, इससे केला आसानी से हजम हो जाता हैं और शरीर को ज्यादा हानि भी नहीं होती है।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...