क्या जानवर भी आत्महत्या (सुसाइड) करते हैं?

क्या जानवर भी आत्महत्या (सुसाइड) करते हैं?

यूट्यूब पर एक विडियो बहुत ज्यादा वायरल हुई, जिसमे एक सांप आत्महत्या (Suicide) करते हुए दिखाई दिया। इस विडियो को देखने के बाद मुझे जानने की जिज्ञासा हुई की क्या वाकई में जानवर भी आत्महत्या करते हैं? जिस पर इन्टरनेट पर सर्च के दौरान यह पता चला की पिछले बीते कई सालों में जानवरों के सुसाइड के कई सारे मामले सामने आ चुके हैं। जिन्हें पहली बार देखने से लगता हैं की जैसे की इन जानवरों ने सामूहिक आत्महत्या की हो। जिनमे कभी 10 तो कभी सैंकड़ों की संख्या में यह जानवर मृत पाए गये।

इतनी संख्या में कुछ जानवरों की हुई मौत के रहस्य के कई मामलो को सुलझा लिया गया। लेकिन कुछ मामलों का राज़ कभी किसी की समझ में नहीं आया। आइये जानते हैं ऐसे रहस्यमयी मामले, जिसमे जानवरों ने आत्महत्या की थी या उनकी मृत्यु की वजह पता ही नहीं चल पायी हैं।

जनवरी 2011, स्थान :- Peninsula, New Zealand

Snapper Fish Dead

हज़ारों की संख्या में Snapper Fish समुंदर की लहरों से बह कर ज़मीन पर आ गयी। वहां के मछुआरों ने यह बताया की पानी इन मरी हुई मछलियों से पुरी तरह से ढक गया था। और जो बात इस मामले को सबसे ज्यादा रहस्यमयी बनाती हैं की लगभग सभी मछलियों की आँखें गायब थी।

साल 1845 में एक कुत्ते ने की आत्महत्या

Newfoundland dog

साल 1845 में लन्दन में एक Newfoundland प्रजाति के कुत्ते ने आत्महत्या की। यह कुत्ता काले रंग का था और दिखने में काफी सुंदर था। सबसे पहले इस कुत्ते ने अपने आप को पानी में डुबोया, लेकिन उसे बचा लिया गया। लेकिन जब कुत्ते को खोला गया तो फिर से दुबारा पानी में कूद गया और अपने आपको डूबाने लगा। वह अपने आपको तब तक पानी में डुबाता रहा, जब तक उसकी मौत नहीं हो गयी।

जनवरी 2005, स्थान :- केलिफोर्निया

squid fish dead

केलिफोर्निया के समुंदरी किनारे पर हजारों की संख्या में Squid Fish मरी हुई मिली। यह मछलियाँ समुंद्र में 2300 फीट की गहराई में पायी जाती हैं। जिसके बारे में वैज्ञानिको को बहुत ही कम ही जानकारी हैं। इसलिए इन मछलियों की इतनी बड़ी संख्या में इनकी मौत होना किसी पहेली से कम नहीं थी। समुंदर के पानी का ज़हरीला होना या ज़हरीली खुराक खाना एक वजह हो सकती हैं, लेकिन इससे दुसरे समुंद्री जीवों पर भी असर पड़ना चाहिए था।

साल 2009, स्थान :- Tasmania

इस तरह का ही मामला साल 2009 में तस्मानिया के समुंदरी किनारों पर देखा गया, जब सैंकड़ो pilot whales समुंदर के बाहर आ गयी। इन व्हेल को बचाने के लिए बहुत कोशिश की गयी, लेकिन सिर्फ कुछ ही व्हेल्स को बचाया जा सका। व्हेलों की इतनी ज्यादा संख्या में मरने का यह पहला मामला नहीं था। बल्कि इससे पहले और इसके बाद भी कई सारे मामले सामने आते रहे हैं। लेकिन किसी को यह समझ नहीं आ रहा हैं की इतनी ज्यादा संख्या में यह मछलियाँ क्यूँ मर रही है?

साल 2005, स्थान :- तुर्की

साल 2005 में एक चरवाहे को मुश्किलों का सामना करना पड़ा, जब उसकी 1500 से ज्यादा भेड़ों ने एक ऊँची पहाड़ी से छलांग लगा दी। हादसे की शुरुवात एक भेड़ के कूदने से हुई, जिसके बाद एक-एक करके सभी भेड़ों ने छलांग लगा दी। जिनमे से 1100 भेड़े बच गयी, लेकिन 400 भेड़ों की मौत हो गयी। इस दृश्य ने वहा पर मौजूद सभी लोगो को हैरानी में डाल दिया। भेड़ों का यह सुसाइड का मामला आज तक किसी को कुछ समझ नहीं आया हैं।

गायों की आत्महत्या करने का मामला

स्विट्ज़रलैंड में साल 2009 में एक फॉर्म हाउस में मौजूद 28 गायों ने इसी तरह आत्महत्या की। लेकिन यह घटना एक दिन में नहीं घटित हुई, बल्कि यह गायों द्वारा की जाने वाली आत्महत्या लगातार 3 दिन तक जारी रही। हैरानी की बात यह थी की जैसे ही किसी गाय को मौका मिलता, वह उसी जगह से जा कर छलांग लगाती थी, जहाँ पहले की गायों ने छलांग लगाईं थी।

साल 2012, स्थान चीन

साल 2012 में चीन में एक भालू ने 10 दिनों तक खाना पीना छोड़ दिया और अंत में उसकी मृत्यु हो गयी। चीन में भालूओं पिंजरे में रखा जाता हैं और उनके शरीर से एंजाइम निकाला जाता हैं। पिंजरे में कैद इन भालूओं के शरीर से निकाले गये एंजाइम की मांग चीन की पारम्परिक दवाओं में काफी ज्यादा हैं। इस प्रकिया को दिन में 2 बार अपनाया जाता हैं, इसमें भालू के पेट में एक चीरा लगा दिया जाता हैं और ट्यूब डाल कर रस को बाहर निकाला जाता हैं। यह भालुओं के लिए काफी ज्यादा पीड़ादायक होता हैं। इसी के चलते पिछले कुछ सालों में पिंजरे में कैद भालूओं ने आत्महत्या की हैं।

यह वो मामले थे जो किसी न किसी वजह से रिकॉर्ड हुए, लेकिन कई ऐसे मामले भी हैं जो कभी सामने न आ सके।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

जानिए मैथ के जादूगर श्रीनिवास अयंगर रामानुजन के बारे में.
जानिए टेक्नोलॉजी (तकनीक) के मामले में शीर्ष 10 देश कौन से हैं?
भारत में सबसे ज्यादा साइबर अटैक क्यों होते हैं?
तेजस ट्रेन की स्पीड ऐसी होगी की बाकी ट्रेन कछुआ बन जाएँगी.
ATM पिन में 4 डिजिट ही क्यों होते हैं? जानिए ऐसे ही कुछ मजेदार सवालों के जवाब.
जब अकबर ने संस्कृत भाषा का उड़ाया मज़ाक तो बीरबल ने दिया ऐसा जवाब....
म्यूजिक (संगीत) सुनने के फायदे जरूर जानिए...
अच्छी नींद के लिए 10 जरूरी टिप्स जरूर पढ़े...
सेब को छिलकों समेत क्यों खाना चाहिए, इससे क्या फायदे होते हैं?
इन चीजों को कभी भी कच्चा नहीं खाना चाहिए।
ऐसी मनमोहक खुशबू जिससे आप रहते हैं हमेशा स्वस्थ्य।
नहाते समय जिस अंग पर पहले डालते हैं पानी, उसके अनुसार जानिए अपनी पर्सनालिटी।