खाना पकाने और सेहत के लिए सबसे अच्छे तेल के बारे में जानिए।

सेहत के लिए सबसे अच्छे तेल के बारे में जानिए।

आज के समय में सेहत को लेकर सावधान रहने की बहुत ज्यादा जरूरत हैं। इसलिए भोजन को पकाने के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले तेल पर भी ध्यान देना चाहिए। जानिए ऐसे स्वास्थ्यवर्धक तेलों के बारे में जिनका इस्तेमाल न सिर्फ खाना पकाने के लिए किया जाता हैं, वहीँ इससे शरीर की मालिश भी की जाती हैं। यह तेल स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छे होते हैं।

आज के लेख में हम बेस्ट कुकिंग ऑयल के बारे में जानेंगे। वैसे तो तेल बेस्वाद ही होता हैं, लेकिन जब इसे अचार और सब्जी में इस्तेमाल किया जाता हैं तो वह उसका स्वाद बढ़ा देता हैं। सेहत अच्छी रखने के लिए बाज़ार में मिलने वाले SAFFOLA ऑयल्स और पैक्ड तेलों का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्या आपको पता हैं की कुदरत ने हमें ऐसे हेल्दी ऑयल प्रदान किया हैं, जिनके गुणों के बारे में हम अनजान हैं। आइये जानते हैं खाना पकाने के लिए कुछ स्वास्थ्यवर्धक तेल के बारे में। Best Cooking Oils list in Hindi.

खाना पकाने के लिए बेस्ट तेल :-

जैतून का तेल

ओलिव ऑयल में Monounsaturated Fat, एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं। जिस कारण यह तेल स्किन, बाल और सेहत के लिए बहुत ही बढ़िया होता हैं। थकान होने पर जैतून के तेल से पुरे शरीर की मालिश करने से आराम मिलता हैं।

सरसों का तेल

इसके उपयोग से टोटल कोलेस्ट्रॉल और LDL को कम किया जा सकता हैं। सरसों के तेल में ओलिक एसिड और लिनोलिक एसिड होता हैं। यह एक प्रकार के फैटी एसिड होते हैं जो बालों की ग्रोथ को बढाते हैं। सरसों का तेल शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर, शरीर की कमजोरी को भी दूर करता हैं।

नारियल का तेल

नारियल के तेल में कोलेस्ट्रॉल बिल्कुल भी नहीं पाया जाता हैं। यह तेल स्वास्थ्य और बालों के लिए बहुत ही अच्छा होता हैं। लेकिन तलने के लिए यह तेल अच्छा नहीं हैं। आप इसे दुसरे तेल के साथ मिला कर इसका उपयोग कर सकते हैं। नारियल के तेल में कपूर मिला कर स्किन पर लगाने से खाज-खुजली, दाद आदि की प्रॉब्लम से छुटकारा मिलता हैं।

अलसी का तेल

अलसी के तेल में ओमेगा-3 फैटी एसिड पाए जाते हैं। लेकिन यह ठीक से गर्म नहीं होता हैं, इसलिए इसे सलाद में डालकर खाया जाता हैं। इसे हल्के फुल्के गर्म करके इस्तेमाल किया जाता हैं।

मूंगफली का तेल

यह बहुत ही अच्छा तेल हैं, इसका इस्तेमाल भी ज्यादा किया जाता हैं। इसमें मोनोअनसैचुरेटेड फैट पाया जाता हैं। इसमें प्रोटीन भी अच्छी मात्रा में होता हैं। यह ब्लड में कोलेस्ट्रॉल को कण्ट्रोल करता हैं। यह तेल दिल के मरीजों के लिए फायदेमंद होता हैं।

सूरजमुखी का तेल

यह तेल पंजाब, हरियाणा और जम्मू-कश्मीर आदि इलाको में ज्यादा उपयोग किया जाता हैं। इसमें पालीअनसैचुरेटेड फैट ज्यादा होता हैं। खास करके लिनोलिक एसिड ज्यादा मात्रा में पाया जाता हैं। यह तेल बिना चिपचिपाहट और बिना महक वाला होता हैं। लेकिन यह ओलिव ऑयल की तरह दिल के लिए उतना ज्यादा अच्छा तेल नहीं हैं।

राइस ब्रान ऑयल

जापान और कोरिया में इस तेल का सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता हैं। इस तेल को धान के छिलकों से निकाला जाता हैं। धीरे-धीरे भारत में भी राइस ब्रेन ऑयल का इस्तेमाल बढ़ने लगा हैं। यह सेहत के लिए बहुत ही लाभकारी तेल हैं। इसमें Oryzanol होता हैं जो LDL (ख़राब कोलेस्ट्रॉल) को कम करता हैं। इसमें नेचुरल विटामिन ई और Squalene भी मौजूद होते हैं, जो स्किन को हमेशा यंग बनाये रखते हैं।

सोयाबीन का तेल

सोयाबीन के तेल में पालीअनसैचुरेटेड फैट पाया जाता हैं जो स्वास्थ्य की दृष्टि से बेहतर हैं। क्योंकि इससे अच्छे और खराब कोलेस्ट्रॉल के बीच में संतुलन बनाये रखने में मदद मिलती हैं।

तिल का तेल

तिल का तेल टेंशन दूर करने वाला माना जाता हैं। आयुर्वेदिक दवाईओं के निर्माण में भी तिल का तेल प्रयोग किया जाता हैं। तिल के लड्डू बना कर खाए जाते हैं, जिन्हें खाने से आपके शरीर में ताकत आती हैं। हेल्दी रहने के लिए काले तिल का तेल सबसे अच्छा होता हैं।



अगर लेख अच्छा लगा हो तो निचे सोशल मीडिया बटन से अपने दोस्तों में शेयर करना न भूले, क्योंकि आपका एक शेयर इस वेबसाइट को आगे जारी रखने के लिए हमें प्रेणना देगा...

इन्हें भी जरूर पढ़े...

पुदीने के 30 उपयोगी घरेलु नुस्खे और फायदे।
गर्मियों के मौसम में बिमारियों से बचाव करने के तरीके जानिए।
पेट की चर्बी कम करने के असरदार उपाय और तरीके जानिए।
लू लगने से बचने के तरीके और उपाय.
लोबान के तेल के फायदे – Frankincense Essential Oil
गर्मियों के दिनों में खाने को जल्दी खराब होने से कैसे बचाए?
शहद और लहसुन को एक साथ मिला कर खाने से होते हैं यह गज़ब के फायदे।
गर्भवती महिला को जीरे का पानी क्यों पीना चाहिए?
डायबिटीज के मरीज़ को सुबह के नाश्ते में क्या खाना चाहिए?
धनिये का पानी पीने से होते हैं यह कमाल के फायदे।
जानिए अगरबत्ती का धुँआ सेहत के लिए कैसे होता हैं हानिकारक।
आयोडीन के बढ़िया स्रोत हैं यह फूड।